महिलाओं में गंजेपन का कारण और उपचार

Posted By: Super
Subscribe to Boldsky

पहले ऐसा लगता था कि पुरूष ही गंजे होते है और महिलाओं के बाल झड़ते हैं। लेकिन अब थोड़ा ट्वीस्‍ट है, महिलाओं में भी गंजेपन की समस्‍या सामने आने लगी है। एक अध्‍ययन के मुताबिक, हर बात एक छेंद पर उगता है उसे फोलीसाइल कहते हैं। जैसे-जैसे फोलीसाइल सिकुड़ते है तो बाल झड़ते है और वहां गंजापन हो जाता है।

महिलाओं में भी ये समस्‍या देखने को मिलती है। कई बार इसी समस्‍या के चलते लम्‍बे और मोटे बाल, छोटे और पतले बालों में बदल जाते हैं। महिलाओं में एकदम से कभी भी गंजापन नहीं होता है। पहले उनके बाल झड़ते हैं, पतले होते और बाद में गंजापन हो जाता है।

बालों को झड़ने से रोकेगा यह घरेलू उपचार

What is female pattern baldness? Reasons and how to treat it?

महिलाओं में गंजापन होने के कारण निम्‍न प्रकार हैं:

1.आनुवांशिक गुण या परिवार में पहले भी मां या दादी, नानी के बालों का इस तरह झड़ना।

2. उम्र बढ़ने के कारण

3. सर्जरी, कीमोथरेपी या किसी दवा के प्रभाव के कारण।

4. मेनोपॉज के कारण

ऐसी समस्‍या आने पर आपको डर्मेटोलॉजिस्‍ट से मिलना चाहिए, ताकि वह आपका सही प्रकार ट्रीटमेंट करवा सकें। गंजेपन की समस्‍या महिलाओं और पुरूषों, दोनों में होती है। लेकिन इसमें कोई झिझकने की बात नहीं है, आप डॉक्‍टर से मिलें और अपनी समस्‍या बताकर सही इलाज करवाएं। पुरूषों में गंजेपन की शुरूआत कनपटी से होती है और वहीं महिलाओं में गंजेपन की शुरूआत बीच की मांग से होती है। दोनों में ही गंजेपन के भिन्‍न कारण होते हैं, इसलिए ध्‍यान दें और इलाज करवाएं। गंजे हो रहे हैं तो अपनाइये ये 20 तरीके

महिलाओं में गंजेपन को दूर करने का उपचार :

1. आप लोशन, पेर्म, क्रीम और अन्‍य प्रकार के कॉस्‍मेटिक का इस्‍तेमाल कर सकती है जो अापके बालों को झड़ने से बचाएं।
2. आप प्रोफेशनल काउंसलिंग करवा लें।
3. डॉक्‍टर से सही और बेहतर उपचार के बारे में पूछें।
4. हेयर ट्रांसप्‍लांट करवा लें। आजकल बालों को ट्रांसप्‍लांट करने की काफी नई-नई तकनीकी ईजाद हुई हैं जो गंजेपन की समस्‍या को दूर कर देते है।

English summary

What is female pattern baldness? Reasons and how to treat it?

In females, pattern baldness takes place with the gradual thinning at the part line. This will be backed with increase in diffuse hair loss.
Please Wait while comments are loading...