कैसे जानें कि शैम्‍पू बदलने का समय आ गया है?

क्‍या आप अक्‍सर अपने शैम्‍पू को बदलती रहती हैं? क्‍या आप अपने शैम्‍पू को बदलना चाहती हैं? या आपको समझ में नहीं आता है कि आपको कब शैम्‍पू बदल देना चाहिए?

Subscribe to Boldsky

क्‍या आप अक्‍सर अपने शैम्‍पू को बदलती रहती हैं? क्‍या आप अपने शैम्‍पू को बदलना चाहती हैं? या आपको समझ में नहीं आता है कि आपको कब शैम्‍पू बदल देना चाहिए?

READ: आमला, रीठा और शिकाकाई से बनाएं शैंपू

ऐसे बहुत सारे सवाल मन में उठते हैं। कई लोग हमेशा एक ही प्रकार के शैम्‍पू का इस्‍तेमाल करते रहते हैं। कुछ लोगों का कोई हिसाब-किताब नहीं होता, उन्‍हें जहां जो शैम्‍पू मिल जाता है वो उसे ही इस्‍तेमाल कर लेते हैं।

Jabong Coupons 2016! Get Upto 70% Off on Clothing (Both Men & Women)

चूँकि शैम्‍पू, एक महत्‍वपूर्ण सौंदर्य प्रसाधन है जिसे लेकर बहुत सोच-समझकर निर्णय लेना चाहिए ताकि आपके बाल स्‍वस्‍थ बने रहें।

shampoo

अगर आप इस बात को लेकर संशय में रहती हैं कि बालों में किस प्रकार का शैम्‍पू इस्‍तेमाल करना चाहिए और शैम्‍पू को कितन-कितने समय पर बदल देना चाहिए तो इस आर्टिकल को ध्‍यान से पढ़ें। इसमें हम आपको शैम्‍पू के इस्‍तेमाल सम्‍बंधित सभी सवालों के जबाव देंगे और आपको कई जानकारियां भी प्रदान करेंगे।

hair

मौसम में बदलाव -
अगर आप किसी ऐसी लोकेशन पर रहती हैं जहां बहुत ही नमी है और आप अधिकतर एसी में ही रहती हैं तो आपको माइल्‍ड क्‍लीजिंग शैम्‍पू का इस्‍तेमाल करना चाहिए। इस शैम्‍पू के इस्‍तेमाल से मृत त्‍वचा निकल जाती है और बालों की नमी भी दूर हो जाती है। मजबूत और घंने बालों के लिये ऐसे बनाएं प्राकृतिक एग शैंपू

वहीं अगर आप सर्द मौसम में रह रही हैं तो ऐसे शैम्‍पू का इस्‍तेमाल करें, जिसमें मॉश्‍चर हो, ताकि बालों को नमी मिले और वो रूखे न हों।

hair 1


बालों की बनावट -

शैम्‍पू का इस्‍तेमाल आपको अपने बालों की बनावट के हिसाब से भी करना चाहिए। अगर आपके बाल ऑयली हैं तो ऐसे शैम्‍पू का इस्‍तेमाल करें जो ऑयल को निकाल दें और उन्‍हें सिल्‍कीनेस दें। वहीं अगर बाल बहुत रूखे हैं जो मॉश्‍इचरयुक्‍त शैम्‍पू का इस्‍तेमाल करें।

hair 3


दैनिक गतिविधि -

शैम्‍पू का चयन करने से पहले अपने प्रोफेशन पर गौर फरमा लें। अगर आप फील्‍ड जॉब करती हैं तो आपको ऐसे शैम्‍पू का चयन करना होगा, जो गंदगी को निकाल दें, बालों को धूप के दुष्‍प्रभावों से बचाएं। साथ ही बालों में पर्याप्‍त नमी प्रदान करें। अगर आप गलत शैम्‍पू का चयन कर लेंगी तो हो सकता है कि आपको रूसी की समस्‍या हो जाएं और आपको खुजली भी होने लगे।

shampoo4


डबल शैम्‍पू करना -

मान लीजिए आपके बालों में कोई समस्‍या है और आपको उन्‍हें सही करना है तो आप दो शैम्‍पू का इस्‍तेमाल लगातार कर सकती हैं। बालों में बहुत गंदगी और रूखापन होने पर आप पहले क्‍लीनिंग शैम्‍पू से बालों को वॉश कर सकती हैं और दूसरे राउंड में डीप मॉश्‍चराइजिंग शैम्‍पू से धुल सकती हैं। ऐसा कुछेक दिन तक ही करना होता है। ये एक प्रकार की ट्रीटमेंट ट्रिक होती है। इससे बाल घने और लम्‍बे हो जाते हैं।

egg

खुराक में परिवर्तन -
ऐसा कहा जाता है कि सेवन करने वाले भोजन का असर बालों पर साफ दिखाई देता है। इसलिए, प्रोटीन युक्‍त आहार का सेवन करें, इससे बालों का रूखापन दूर हो जाता है और बालों में चमक भी आ जाती है। लेकिन आपको सही शैम्‍पू को तब भी लगाते रहना होगा।

washing

निष्‍कर्ष- अगर आपको बहुत ज्‍यादा बातें समझ में नहीं आती हैं। तो कुछ न करें। सिर्फ अपने सिर पर हाथ फेंरे और अंदरूनी त्‍वचा को छुकर महसूस करें कि आपकी त्‍वचा कैसी है। आपको उस समय जैसा महसूस हो, उसी प्रकार का शैम्‍पू लें। अगर आपको चिपचिपा लगे तो क्‍लीनिंग शैम्‍पू लें। रूखापन लगे तो मॉश्‍इचर प्रदान करने वाला शैम्‍पू लें।

Story first published: Monday, November 7, 2016, 9:26 [IST]
English summary

How To Know If It Is Time To Switch Your Shampoo?

How do you know it is time to change your shampoo? Time to find the answers with this article!
Please Wait while comments are loading...