सर्दियों में त्‍वचा को स्‍वस्‍थ बनाने वाली सब्जियां

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

सर्दियों के दौरान, त्‍वचा को भरपूर देखभाल की आवश्‍यकता पड़ती है। जरूरी नहीं है कि सर्दियों के दिनों में आप कॉस्‍मेटिक का यूज करके ही अच्‍छी स्‍कीन पाएं। प्राकृतिक रूप से भी बेहतरीन त्‍वचा पाई जा सकती है। सर्दियों के मौसम में सब्जियां भारी मात्रा में पैदा होती है, इनका सेवन करें। ये सभी गुणों से भरपूर होती है और इन्‍हे खाने से त्‍वचा में चमक आ जाती है।

वंदगोभी, गोभी, मटर, पालक, मेथी, एस्‍पारगस, गाजर आदि खाने से त्‍वचा के सभी रोग दूर हो जाते है और चेहरे की त्‍वचा पर ग्‍लो आ जाता है। स्‍वास्‍थवर्धक गुणों के अलावा, सब्जियों में अन्‍य गुण भी होते है। इनके सेवन से शरीर के विषैले तत्‍व निकल जाते है, बाल घने होते है और शरीर में ताकत आती है।

अगर आप अपने शरीर को स्‍वस्‍थ और त्‍वचा को दमकता हुआ बनाना चाहते है तो मौसमी सब्जियों का सेवन करें। यहां कुछ सब्जियों के बारे में बताया जा रहा है जिनसे सेवन से त्‍वचा अच्‍छी हो जाती है : -

 1) एस्‍पारगस :

1) एस्‍पारगस :

एस्‍पारगस एक प्रकार का सर्दियों वाला पौधा होता है जिसकी जड़, तना और पत्तियां खाने में प्रयोग की जाती है। यह औषधीय गुणों से भरपूर होता है। यह सर्दियों की एक ऐसी सब्‍जी होती है जिसके सेवन से त्‍वचा दमकती है। इसके सेवन में त्‍वचा की गंदगी और विषैले तत्‍व भी समाप्‍त हो जाते है। आप चाहें तो इसे कच्‍चा भी चेहरे पर लगा सकती है। इसे खाने या लगाने से स्‍कीन की जलन भी शांत हो जाती है। परन्‍तु इसके उपयोग के दौरान सावधानी बरतने की आवश्‍यकता है क्‍योंकि कभी - कभार किसी को यह स्‍यूट नहीं करता है। इसे इस्‍तेमाल करने से पहले हाथ पर लगा कर देख लें, अगर जलन महसूस हो, तो कतई न लगाएं।

2) गाजर :

2) गाजर :

गाजर स्‍वास्‍थवर्धक गुणों से भरपूर होती है। गाजर खाने से आंखे स्‍वस्‍थ होती है और शरीर में विटामिन की कमी भी दूर हो जाती है। इसी प्रकार, गाजर त्‍वचा के लिए भी काफी गुणकारी होती है। गाजर में ऐसे गुण होते है जिसके सेवन से पराबैंगनी किरणों का प्रभाव, त्‍वचा के विकार, दाने, मुंहासे आदि समस्‍याएं दूर हो जाती है। गाजर का फेसपैक भी स्‍कीन प्रॉब्‍लम को दूर करता है। आप चाहें तो गाजर का जूस पी सकते है या इसे कच्‍चा खा सकते है।

3) स्‍प्राउट :

3) स्‍प्राउट :

स्‍प्राउट, त्‍वचा को स्‍वस्‍थ बनाने में सबसे ज्‍यादा सहयोग प्रदान करता है। स्‍प्राउट में वसा नहीं होता है और इससे बॉडी को एनर्जी भरपूर मिलती है। कई डायटीशियन, लोगों को अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए स्‍प्राउट खाने की सलाह देते है। स्‍प्राउट के सेवन से चेहरे की धूल और तेल निकल जाता है। बढ़ती उम्र पर होने वाली झुर्रियां, चेहरे पर लाइन और डार्क सर्किल भी इसके सेवन से सही हो जाते है। सर्दियों के मौसम में त्‍वचा रूखी होने पर स्‍प्राउट का सेवन सबसे उचित रहता है।

4) लैट्टस :

4) लैट्टस :

लैट्टस को सलाद पत्‍ता के नाम से भी जाना जाता है। लैट्टस का उपयोग सलाद बनाने, सैंडविच और बर्गर में किया जाता है। यह हरी पत्‍ती होती है जो सर्दियों के मौसम में सबसे ज्‍यादा पैदा होती है। लैट्टस में विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे त्‍वचा स्‍वस्‍थ हो जाती है। लैट्टस की पत्तियों में पोटेशियम भी होता है जो त्‍वचा को ग्‍लो प्रदान करता है। लैट्टस को खाने से शरीर के विषैले तत्‍व भी निकल जाते है और हमारी त्‍वचा स्‍वस्‍थ हो जाती है।

5) पालक :

5) पालक :

बचपन में हम सभी के पसंदीदा पोपाय - नाविक कार्टून को भी पालक बहुत पसंद थी जो उसकी बॉडी को ढ़ेर सारी एनर्जी देती थी। पालक शरीर को शक्ति देने के अलावा, खून बढ़ाती है और त्‍वचा को चमकदार बनाएं रखती है। पालक, विटामिन और मिनरल से भरपूर होती है जो शरीर को स्‍वस्‍थ बनाएं रखने के लिए आवश्‍यक होते है। इसके सेवन से चर्म रोग दूर हो जाते है और सूर्य की पराबैंगनी किरणों से शरीर पर होने वाला नकारात्‍मक असर भी कम हो जाता है। इस प्रकार, शरीर की त्‍वचा को स्‍वस्‍थ और दमकदार बनाएं रखने के लिए पालक का सेवन अति आवश्‍यक होती है।

English summary

Skin care using winter vegetables

Skin care using winter vegetables can be done using one of the following vegetables as described below:-
Please Wait while comments are loading...