जानिये गठिया रोग में क्‍या खाएं और क्‍या ना खाएं

Posted By:
Subscribe to Boldsky

गठिया रोग बहुत ही दर्दनाक बीमारी है, यह जिसे एक बार हो जाती है उसका पीछा दूर दूर तक नहीं छोड़ती। इस बीमारी में शरीर में यूरिक एसिड बढ जाता है जिससे जोड़ों में दर्द पैदा होता है। कई लोगों को तो गठिया समय के साथ बढता है पर कई लोगों में गठिया बचपन से ही हो जाता है। कई खाघ पदार्थ हैं जिसको खाने से गठिया रोग से कुछ हद तक राहत मिल सकती है।

उदाहरण के तौर पर अगर ऑलिव ऑयल और प्‍याज की बात करें तो इसके सेवन से गठिया का दर्द कम हो सकता है। कैरोटीन की उच्‍च मात्रा वाले आहार गठिया को ठीक कर सकते हैं। अगर ऐसे फूड हैं जो गठिया के दर्द को कम कर सकते हैं तो कुछ ऐसे भी फूड हैं जो गठिया के दर्द को बढा भी सकते हैं। हम अक्‍सर गलती या जानबूझ कर ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन कर जाते हैं जो हमारे दर्द को और भी ज्‍यादा बढा देते हैं।

यदि आप रेड मीट का सेवन करना पसंद करते हैं तो उससे भी गठिया का दर्द बढ सकता है। इसी तरह से सालमन मछली का सेवन करने से आपका दर्द कम हो सकता है। तो आइये जानते हैं और भी ऐसे खाद्य पदार्थों के नाम जिन्‍हें खाना भी चाहिये और नहीं भी खाना चाहिये।

 कद्दू: खाएं

कद्दू: खाएं

कद्दू में खूब सारा कैरोटीन होता है जो जोड़ों की सूजन को कम करता है।

टमाटर: ना खाएं

टमाटर: ना खाएं

टमाटर के बीजो में बहुत सारा यूरिक एसिड होता है जो हड्डियों में जम कर गठिया का दर्द पैदा करता है।

मछली: खाएं

मछली: खाएं


इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है जो जोड़ो की सूजन को कम करने में मददगार होता है।

रेड मीट

रेड मीट


जब आपको गठिया हो तब आपको उन खाद्य पदार्थों को खाने से बचना चाहिये जिसमें अधिक फॉस्‍फोरस पाया जाता है। ऐसा इसलिये क्‍योंकि आपके शरीर में जितना फॉस्‍फोरस रहेगा आप उतना ही कैल्‍शियम हड्डियों से घटाते जाएंगे।

ग्रीन टी: खाएं

ग्रीन टी: खाएं


इसमें बहुत सारा एंटीऑक्‍सीडेंट और नीकोटीन होता है जो दर्द को दबा देता है।

दूध: ना खाएं

दूध: ना खाएं


दूध में भी भारी मात्रा में प्‍यूरीन पाया जाता है जो कि यूरिक एसिड को बढावा देता है।

ऑलिव ऑयल

ऑलिव ऑयल


इसमें मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और ओमेगा-3 फैटी एसिड जोड़ों के दर्द से राहत दिलाता है।

 घोंघा: ना खाएं

घोंघा: ना खाएं


इसमें मौजूद प्‍यूरीन बाद में यूरिक एसिड में बदल जाता है। इसलिये आप जितना ज्‍यादा यूरिक एसिड खाएंगे आपको उतना ज्‍यादा दर्द होगा।

वेजिटेबल तेल: ना खाएं

वेजिटेबल तेल: ना खाएं

सोयाबीन तेल या सूरजमुखी आदि का तेल में बहुत सारा फैट होता है जो सूजन पैदा करता है।

संतरा: खाएं

संतरा: खाएं


इसमें विटामिन सी होता है जो कि स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक कोलाजिन होता है। विटामिन सी से हड्डियां मजबूत बनती हैं।

चीनी: ना खाएं

चीनी: ना खाएं


चीनी की मिठास आपके घुटनो के लिये खराब है। इससे वजन बढता है और घुटनों में दर्द पैदा होता है।

प्‍याज: खाएं

प्‍याज: खाएं


इसमें एसपिरिन के मुकाबले एक रसायन होता है जो दर्द को गायब कर देता है।

कैफीन: ना खाएं

कैफीन: ना खाएं


यह शरीर को डीहाइड्रेट बनाता है जो दर्द को बढा देता है। साथ ही यह शरीर के जरुरी पोषक तत्‍वों को भी सोख लेती है जिससे और भी दर्द होता है।

हल्‍दी: खाएं

हल्‍दी: खाएं


हल्‍दी खाने से दर्द और सूजन कम होता है।

चैरी: खाएं

चैरी: खाएं


एंथोकाइनिन जोड़ों को मजबूत बनाता है, जिससे जोड़ मजबूत बन जाते हैं और उनमें दर्द कम होता है।

शराब: ना खाएं

शराब: ना खाएं


शराब हड्डियों को कैल्‍शियम सोखने से रोकता है जिससे हड्डियां भुरभुरी बन जाती हैं।

अदरक: खाएं

अदरक: खाएं


यह हड्डियों की सूजन को कम करता है। तो अपने आहार में खूब सारा अदरक शामिल कीजिये।

Story first published: Wednesday, February 6, 2013, 12:15 [IST]
English summary

Arthritis Foods To Eat n Avoid | जानिये गठिया रोग में क्‍या खाएं और क्‍या ना खाएं

The bottom line is that a person suffering from arthritis must pick his/her foods very carefully. To help you eat right, here are some of the best and worst arthritis foods.
Please Wait while comments are loading...