अगर करेंगे देर रात तक काम तो होंगी ये समस्‍याएं

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

आजकल लोग अच्‍छा लाइफस्‍टाइल अपनाना चाहते है और अच्‍छे लाइफस्‍टाइल के लिए उन्‍हे ज्‍यादा पैसों की जरूरत होती है जिसके लिए वह ज्‍यादा मेहनत करते है और क्षमता से ज्‍यादा काम करते है। ऐसा ही नहीं कि हर कोई ज्‍यादा पैसे के लिए ज्‍यादा काम करें, कई लोगों को काम करने का जुनून होता है। लेकिन हद से ज्‍यादा कोई भी काम आपको दिक्‍कत ही देता है। अगर आप हद से ज्‍यादा काम करेगे और अपने शरीर की तरफ ध्‍यान नहीं देगें तो शरीर में समस्‍याएं पैदा होगी। आजकल देखने को मिलता है कई पुरूष, घंटों तक लगातार काम करते है जो बहुत गलत है।

अगर आप लगातार रूप से देर तक काम करते है तो गलत कर रहे है। इससे नींद पूरी नहीं होती है, नींद का पूरा न होना ही सारी समस्‍याओं की जड़ होती है। दिल का दौरा पड़ना या ट्रिगर स्‍ट्रोक जैसी समस्‍याएं, इन्‍ही कारणों से आजकल ज्‍यादा होती है। जो पुरूष देर तक काम करते है उन्‍हे कई प्रकार की शॉर्ट टर्म और लॉन्‍ग टर्म बीमारियां होने का खतरा रहता है। जो आदमी देर तक काम करते है उन्‍हे पेट की समस्‍या, मतली, डायरिया, कब्‍ज और जलन की समस्‍या होने की संभावना सबसे ज्‍यादा रहती है। देर तक काम करने से लाइफस्‍टाइल भी गड़बड़ा जाती है और इस वजह से भी डायबटीज, मेटाबोलिक सिंड्रोम, मोटापा, प्रजनन सम्‍बंधी समस्‍या आदि पैदा हो जाती है।

आज के दौर में यह बहुत जरूरी है कि पुरूष अपनी जीवनशैली को सही बनाए रखें। अगर आप ऐसे ही जुझारू होकर काम करते रहे और अपने शरीर का ख्‍याल नहीं रखा तो आपकी उम्र कम होने में वक्‍त नहीं लगेगा। लालच और ज्‍यादा पाने के चक्‍कर में देर तक काम न करें। अपने शरीर का ध्‍यान रखें, क्‍योंकि अगर आपका स्‍वास्‍थ्‍य ही ठीक नहीं होगा तो कोई भी काम आप नहीं कर पाएंगे।

देर तक काम करने वाले पुरूषों को होने वाली कुछ स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं के बारे में यहां बताया जा रहा है :

1) गंदी लतों का लगना :

1) गंदी लतों का लगना :

जो लोग देर रात तक काम करते है उन्‍हे जागने के लिए चाय, कॉफी या सिगरेट पीने की लत लग जाती है। वह ज्‍यादा से ज्‍यादा खुद को फ्रेश रखने के लिए इन चीजों का सहारा लेते है। कैफीन और कोकीन वाली इस सामग्रियों के सेवन से शरीर को नुकसान पहुंचता है।

2) पेट की समस्‍या होना :

2) पेट की समस्‍या होना :

अगर आपकी बॉउी में कुछ भी असंतुलित है जो सबसे पहले सीधा प्रभाव पेट पर पडेगा। देर से खाने की आदत से कब्‍ज, उल्‍टी, दस्‍त जैसी समस्‍याएं विकसित हो जाती है। और ध्‍यान रहें कि पेट की गड़बड़ी ही अन्‍य समस्‍याओं की जड़ होती है।

3) नींद न आना :

3) नींद न आना :

आप एक - दो दिन देर रात तक काम कर लें तो कोई गंभीर बात नहीं है लेकिन आप रोज ऐसा करेगे तो आपको नींद नहीं आएगी। शुरूआत में काफी उलझन के बाद नींद आएगी और बाद में नींद आना ही बंद हो जाएगी। आपको हर समय आलस्‍य लगेगा लेकिन बिस्‍तर पर जाते ही नींद दूर - दूर तक नहीं होगी। ऐसे में तनाव और चि‍ड़चिड़ाहट होती है।

4) हद्य सम्‍बंधी बीमारी होना :

4) हद्य सम्‍बंधी बीमारी होना :

अगर आप देर तक जागकर काम करेगें और अपने शरीर का ध्‍यान नहीं रखेगे तो इसका सीधा असर आपके दिल पर पड़ेगा। जो लोग देर रात तक नियमित रूप से काम करते है उन्‍हे दिल की बीमारियां होने के चांसेस ज्‍यादा रहते है।

5) मधुमेह होना :

5) मधुमेह होना :

जो पुरूष देर रात तक काम करते है उनमें मधुमेह होने का खतरा काफी ज्‍यादा बढ़ जाता है। असामान्‍य रूप से खाने की आदत और लगातार बैठे रहने से शरीर थुलथुल हो जाता है साथ ही बॉडी में इंसुलिन की मात्रा भी कम होने लगती है। ब्‍लड़प्रेशर का बढ़ना, ब्‍लड़ सुगर का बढ़ना आदि भी मधुमेह के कारक होते है जो देर तक काम करने से हो सकते है।

6) मोटापा

6) मोटापा

अध्‍ययन के अनुसार, देर तक काम करने वाले लोगों में मोटापा ज्‍यादा बढ़ता है। ऐसे लोगों को अपने खाने - पीने का ध्‍यान नहीं रहता है और न ही वह व्‍यायाम आदि कर पाते है। देर रात तक काम करने से उनके शरीर में लैप्टिन की मात्रा कम हो जाती है जो एक प्रकार का हारमोन होता है, यह हारमोन शरीर को मोटापे से बचाता है और पेट को दुरूस्‍त बनाएं रखता है।

7) डिप्रेशन या अवसाद होना और मनोदशा विकार या मूड डिस्‍आर्डर होना :

7) डिप्रेशन या अवसाद होना और मनोदशा विकार या मूड डिस्‍आर्डर होना :

हाल ही में हुए कुछ सर्वे से पता चला है कि ज्‍यादा देर तक काम करने से माइंड हमेशा एक जैसा ही सोचने लगता है और इससे आपको चिड़चिडाहट पैदा होती है, ऐसी स्थिति में डिप्रेशन में व्‍यक्ति का पहुंच जाना स्‍वाभाविक बात है। रात में देर तक जागने वाले लोगों में सेरोटोनिन की मात्रा काफी कम हो जाती है जिससे दिमाग में अस्थिरता आ जाती है और व्‍यक्ति सही से सोच नहीं पाता है। यह एक प्रकार का मस्तिष्‍क रसायन होता है जो दिमाग को बैलेंस रखता है।

8) प्रजनन समस्‍या होना :

8) प्रजनन समस्‍या होना :

देर तक काम करने के लिए आपको देर तक बैठना होगा, जिससे आपके पर्सनल पार्ट्स पर जोर पड़ता है और ऐसे में आपको कई दिक्‍कतें हो सकती है जैसे - प्रजनन की समस्‍या, स्‍तंभन दोष, स्‍पर्म का कम बनना या सेक्‍स करने का मन न होना आदि। देर रात तक काम करने के लिए कई बार लोग ज्‍यादा कॉफी या सिगरेट भी पीते है जिसके चलते भी उन्‍हे बांझपन की समस्‍या हो सकती है क्‍योंकि इनमें कैफीन और निकोटिन होता है।

English summary

Health problems in men who work till late

There a lot of health problems and risks involved in working late on regular basis. Most men tend to push that extra hour by taking help of un-natural methods like caffeine to keep going.
Please Wait while comments are loading...