सुहागरात पर दूध पिलाने की परंपरा के पीछे छुपा कौन सा राज़

Posted By:
Subscribe to Boldsky

शादी की पहली रात यानी सुहागरात में अधिकतर शादी-शुदा जोड़ों को केसर और बादाम मिला दूध पीने को दिया जाता है। क्‍या आप जानते हैं सदियों से चली आ रही इस परंपरा के पीछे कौन सा वैज्ञानिक कारण छुपा हुआ है?

सेहत और दिमाग बनाए मजबूत बादाम का दूध

भारत में शादी करना एक बड़ी ही शुभ घटना मानी जाती है, जिसमें दो आत्‍माओं का मिलन होता है। शादी की पहली रात को सुहागरात बोलते हैं, जिसमें पति पत्‍नी दोनों एक हो जाते हैं।

इस रात को यादगार बनाने के लिये दुल्‍हे के परिवार वाले पति-पत्‍नी का कमरा फूलों से सजाते हैं और दुल्‍हन को दूध और केसर से भरा गिलास दुल्‍हे को देने के लिये कहते हैं।

शादी के दिन हर दुल्‍हे के मन में उठते हैं ये 9 सवाल

सुहागरात पर दुल्‍हे को दूध पिलाने की परंपरा सदियों से चली आ रही है। यह सुहागरात का एक अहम हिस्‍सा बन चुका है। यदि आप को भी अपनी सुहागरात पर दूध से भरा गिलास पीने को दिया गया था, तो जरुर उसके पीछे कोई कारण होगा। इसी बात से पर्दा उठाने के लिये आज हम ने इस टॉपिक को चुना है, तो जरुर पढ़ें और जाने की ऐसा क्‍यूं होता है!

ऊतकों में मजबूती लाता है दूध

ऊतकों में मजबूती लाता है दूध

कामसूत्र के संकेतो के अनुसार अगर दूध में सौंफ का ताजा रस, शहद, नघपान और चीनी मिला कर पिया जाए तो ऊतकों में मजबूती आती है।

हार्मोन में सुधार

हार्मोन में सुधार

दूध में मौजूद प्रोटीन की मदद से टेस्टोस्टेरॉन और एस्ट्रोजन नामक दो सेक्स हॉरमोन भी बनते हैं। इसलिये दूल्‍हे को दूध और बादाम का प्रोटीन से भरा मिश्रण दिया जाता है।

यौन सक्रियता बढ़ाए

यौन सक्रियता बढ़ाए

यदि दूध में केसर या शिलाजीत आदि मिला कर पिया जाए तो पुरुष प्रजनन तंत्र के लिये अच्‍छा होगा। नियमित दूध के सेवन से कामेच्छा, शुक्राणुओं की संख्या और गतिशीलता बढ़ती है।

इम्‍यूनिटी और पाचन बढ़ाए

इम्‍यूनिटी और पाचन बढ़ाए

आयुर्वेद के अनुसार दूध शरीर के प्रजनन ऊतकों को ऊर्जा देता है। साथ ही दूध दिमाग तेज बनाता है, शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाता है और पाचन क्रिया दुरुस्‍त रखता है और शरीर दृारा शोषित हो जाता है जिससे रात को आप अच्‍छा परफार्म कर सकें।

प्रजनन कोशिकाओं को पोषण दे

प्रजनन कोशिकाओं को पोषण दे

दूध में वह शक्‍ति होती है कि वह वात और पित्‍त में बैलेंस बिठा सके। आयुर्वेद के अनुसार दूध सात्‍विक और पोषण पहुंचाने वाला आहार है। यह कामोद्दीपक का काम भी करता है और साथ ही प्रजनन कोशिकाओं को पोषण भी देता है।

गाय का दूध है सबसे अच्‍छा

गाय का दूध है सबसे अच्‍छा

ऐसा इसलिये क्योंकि यह आसानी से पच जाता है इसलिए सुहागरात में यही पिलायाा जाता है। आयुर्वेद के अनुसार गाय का दूध न सिर्फ शरीर में सेक्स की इच्छा बढ़ाता है बल्कि होने वाला बच्चा भी काफी बलवान होता है।

शरीर की ऊर्जा बढाए

शरीर की ऊर्जा बढाए

ताजे दूध में कार्बोहाइड्रेट होता है जो कि कोशिकाओं को ऊर्जा पहुंचाता है। कार्बोहाइड्रेट आपकी किडनी और ब्रेन के कार्य को और गतिशील बना देते हैं।

मूड और नींद सुधारे

मूड और नींद सुधारे

दूध में विटामिन डी भी पाया जाता है जो कि दिमाग में सेरोटिन नामक हार्मोन पैदा करने में मदद करता है। इससे मूड तो अच्‍छा होता ही है साथ ही भूख और नींद भी लगती है। साथ ही यह डिप्रेशन और थकान को भी दूर करता है।

गैस की समस्‍या दूर करे

गैस की समस्‍या दूर करे

एक गिलास दूध लेने से सीने की जलन, गैसट्रिक समस्‍या और भूख मिटती है। साथ ही पुरुष ओजस्‍वी और जवांन दिखने लगते हैं।

Story first published: Saturday, December 19, 2015, 12:57 [IST]
English summary

सुहागरात पर दूध पिलाने की परंपरा के पीछे छुपा कौन सा राज़

In particular the serving of milk plays an important part on suhagraat. Following list shows you top 9 facts that relates the importance of milk on suhagraat.
Please Wait while comments are loading...