रहना है फिट तो जरुर खाएं अंकुरित मूंग

Posted By: Super
Subscribe to Boldsky

जरूरी नहीं कि स्‍वाद में जो अच्‍छा हो, वो स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक भी हो। अक्‍सर ऐसा ही होता है, जो चीज खाने में बिल्‍कुल अच्‍छी नहीं लगती है वो गुणों से भरपूर ही होती है।

इसका सबसे बड़ा उदाहरण करेला है, स्‍वाद में कितना कड़वा और बेकार लगता है लेकिन सारी सब्जियों में सबसे ज्‍यादा गुण करेले में ही होते हैं। स्‍वादिष्‍ट भोजन करने से पहले आपको इस बात को हमेशा ध्‍यान में रखना चाहिए कि शरीर के विकास के लिए विटामिन और खनिज की जरूरत होती है।

Christmas sale and free coupons: Get 90% off on Products from Amazon, Flipkart & more

दालों में सबसे पौष्टिक दाल, मूंग की होती है, इसमें विटामिन ए, बी, सी और ई की भरपूर मात्रा होती है। साथ ही पौटेशियम, आयरन, कैल्शियम की मात्रा भी मूंग में बहुत होती है।

इसके सेवन से शरीर में कैलोरी भी बहुत नहीं बढ़ती है। अगर अंकुरित मूंग दाल खाएं तो शरीर में कुल 30 कैलोरी और 1 ग्राम फैट ही पहुंचता है।

READ: स्‍प्राउट खाने के बढियां स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

अंकुरित मूंग दाल में मैग्‍नीशियम, कॉपर, फोलेट, राइबोफ्लेविन, विटामिन, विटामिन सी, फाइबर, पोटेशियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन बी -6, नियासिन, थायमिन और प्रोटीन होता है। मूंग की दाल के स्‍प्राउट ऐसे ही कुछ लाभकारी गुण निम्‍न प्रकार हैं:

क्‍या इसे मधुमेह रोगी खा सकते हैं?

क्‍या इसे मधुमेह रोगी खा सकते हैं?

मूंग की दाल के स्‍प्राउट में ग्‍लूकोज लेवल बहुत कम होता है इस वजह से मधुमेह रोगी इसे खा सकते हैं।

गंभीर रोगों से ग्रसित लोग खा सकते हैं?

गंभीर रोगों से ग्रसित लोग खा सकते हैं?

मूंग की दाल के स्‍प्राउट में ओलियोसाच्‍चाराइडस होता है जो पॉलीफिनॉल्‍स से आता है। ये दोनों की घटक, गंभीर रोगों से लड़ने की क्षमता को प्रबल करते हैं। कैंसर के रोगी भी इसका सेवन आराम से कर सकते हैं।

यह संक्रमण से किस प्रकार बचाव करते हैं?

यह संक्रमण से किस प्रकार बचाव करते हैं?

मूंग की दाल में ऐसे गुण होते हैं जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देते हैं और उसे बीमारियों से लड़ने की ताकत देते हैं। इसमें एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इंफलामेट्री गुण होते हैं जो शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाते हैं।

शरीर को साफ करने में मदद करती है?

शरीर को साफ करने में मदद करती है?

मूंग की दाल के स्‍प्राउट में शरीर के टॉक्सिक को निकालने के गुण होते हैं। इसके सेवन से शरीर में विषाक्‍त तत्‍वों में कमी आती है।

लम्‍बा खुशनुमा जीवन प्रदान करे

लम्‍बा खुशनुमा जीवन प्रदान करे

इस बात को मजाक में न लें, मूंग की दाल के स्‍प्राउट के सेवन से पाचन क्रिया हमेशा सही बनी रहती है जिसके कारण, आपको पेट सम्‍बंधी समस्‍या नहीं होती है और जीवन खुशहाल रहता है।

युवा बनाएं रखती है

युवा बनाएं रखती है

मूंग की दाल के स्‍प्राउट में साइट्रोजेन होता है जो शरीर में कोलेजन और एलास्टिन बनाएं रखता है जिससे उम्र का असर, जल्‍दी ही चेहरे पर दिखाई नहीं देता है।

कब्‍ज से राहत दिलाती है?

कब्‍ज से राहत दिलाती है?

मूंग की दाल के स्‍प्राउट में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है। जिससे फ्रेश होने में कोई समस्‍या नहीं होती है व पाचन क्रिया दुरूस्‍त बनी रहती है।

पेप्टिसाइड युक्‍त मूंग के स्‍प्राउट:

पेप्टिसाइड युक्‍त मूंग के स्‍प्राउट:

मूंग की दाल के स्‍प्राउट में पेप्टिसाइड होता है जो बीपी को संतुलित रखता है और शरीर को फिट बनाएं रखने में कारगर होता है।

संतुलित खुराक :

संतुलित खुराक :

अगर आप शाकाहारी हैं तो मूंग की दाल के स्‍प्राउट का सेवन अवश्‍य करें। यह शरीर में आवश्‍यक तत्‍वों की कमी हो पूरी करता है और शरीर को मजबूत बनाती है। इससे बेहतर शाकाहारी खाद्य सामग्री कोई नहीं होती है। यह सुपाच्‍य भी होता है।

Story first published: Monday, December 21, 2015, 9:00 [IST]
English summary

अंकुरित मूंग दाल के लाभकारी गुण

Moong dal doesn't load you with calories- a big relief for those who are on a diet to lose pounds. A cup of these sprouts may barely give you 30 calories and 1 gm of fat. That isn't a scary number, right? Let us take a look at the nutritional benefits of green gram.
Please Wait while comments are loading...