अच्‍छे पाचन के लिए अपनाइये आयुर्वेदिक टिप्‍स

Posted By:
Subscribe to Boldsky

क्‍या खाना खाने के तुरंत बाद आप थकान, सुस्‍ती या पेट फूलने जैसी समस्‍या से परेशान रहते हैं? कई लोगों के लिये यह एक आम सी बात है, जिसके लिये इतना घबराने की बात नहीं है क्‍योंकि आयुर्वेद के पास हर समस्‍या का उपाय है।

Snapdeal Coupons: Flat 40% - 80% on Products Across Site

अगर आपको पूरी तरह से स्‍वस्‍थ रहना है, तो सबसे पहले अपने पेट को दुरुस्‍त रखना सीखना पड़ेगा। आज हम आपको आयुर्वेद का पाचन रहस्य बताने वाले हैं, जिससे आप पेट की गड़बडियों को हमेशा के लिये ठीक कर के अच्‍छा जीवन जी सकते हैं।

READ: अच्छे पाचन तंत्र के लिए 20 टिप्स

आइये जानते हैं इसके बारे में थोड़ा ठीक से...

ऐसे करें दिन की शुरुआत

ऐसे करें दिन की शुरुआत

दिन की शुरुआत अदरक के एक छोटे पीस और उस पर हल्‍का सा नमक डाल कर करें। जिन्‍हें कब्‍ज, सर्दी या जुखाम की शिकायत है उनके लिये अदरक का सेवन अच्‍छा होता है। सादे नमक की जगह काला नमक का प्रयोग करें तो अच्‍छा होगा।

गरम खाना और गरम पानी पियें

गरम खाना और गरम पानी पियें

हमें हमेशा गरम और ताजा खाना तथा गरम पानी पीना चाहिये। गरम खाना खाने से पाचन तंत्र अच्‍छी तरह से काम करता है। पाचन प्रणाली गर्म खाद्य और पेय पदार्थों से प्रज्वलित होती है।

शांति से बैठ कर खाएं

शांति से बैठ कर खाएं

दौड़-भाग कर या टीवी देख कर कभी खाना नहीं खाना चाहिये। इससे आप जो खाते हैं वो आपके शरीर को पूरी तरह से नहीं लगता और आप एक अशांत मन से खाने को खाते हैं।

खाने के बाद अपने घुटनों पर बैठे

खाने के बाद अपने घुटनों पर बैठे

खाना खाने के बाद सीधे दौड़ने-भागने की जगह पर व्रजासन में कुछ मिनट तक आंखें बंद कर के बैठना चाहिये। आंखें बंद कर के कल्‍पना कीजिये कि आपका भोजन खूबसूरती के साथ पच रहा है जिससे आपके शरीर को शक्ति और ऊर्जा प्राप्‍त हो रही है।

आयुर्वेदिक मसाले से खाना बनाएं

आयुर्वेदिक मसाले से खाना बनाएं

जीरा, मेथी, अजवाइन और एक चुटकी हींग ऐसे अद्भुत मसाले हैं जिससे खाना पकाने से पेट का हाजमा कभी खराब नहीं होगा। ये सभी पाचन को दुरुस्‍त रखते हैं तथा गैस और पेट की सूजन को कम करते हैं।

पहले का खाना जब हजम हो जाए तभी खाएं

पहले का खाना जब हजम हो जाए तभी खाएं

काम में बिजी रहने की वजह से कब क्‍या खा लें, इसका पता ही नहीं चल पाता। इससे आपका पेट खाने को तुरंत तुरंत पचाने में असमर्थ रहता है, जिससे की पेट की समस्‍या हमेशा बनी रहती है।

तनाव और गुस्‍सा कम करें

तनाव और गुस्‍सा कम करें

लगातार पाचन समस्याओं का कारण तनाव हो सकता है। तनाव आपके पाचन तंत्र पर बहुत बुरा असर डालता है। इसलिए, आलोम विलोम और मेडटैशन जैसे व्यायाम का अभ्यास करके अपने तनाव को नियंत्रित करे।

English summary

Secrets From Ayurveda for great digestion

Having healthy digestion is the key to having great overall health. Here is ayurveda secrets for healthy digestion.
Please Wait while comments are loading...