बेहतरीन प्राकृतिक एंटीबायोटिक

Subscribe to Boldsky

बैक्‍टीरिया से होने वाले संक्रमण को दूर करने के लिए एंटीबायोटिक का सेवन या उनका लगाना बेहद आवश्‍यक होता है। एंटीबायोटिक से बैक्‍टीरिया का विकास नहीं हो पाता है और एक समय के बाद उनका खात्‍मा हो जाता है। अलग-अलग बैक्‍टीरिया के लिए अलग-अलग एंटीबायोटिक होते हैं।

डॉक्‍टर अक्‍सर हमें एंटीबायोटिक तब देते हैं जब हम बीमार पड़ जाते हैं लेकिन इन एंटीबायोटिक के साइडइफेक्‍ट भी बहुत होते हैं। बहुत ज्‍यादा इन्‍हें खाने से इनका असर कम होने लगता है और साधारण बैक्‍टीरिया भी जल्‍दी से नहीं मर पाते हैं। इसलिए बेहतर होगा कि आप प्राकृतिक एंटीबायोटिक या हर्बल एंटीबायोटिक पर ज्‍यादा विश्‍वास रखें क्‍योंकि इनके साइडइफेक्‍ट नहीं होते हैं।

बोल्‍डस्‍काई के इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे ही हर्बल एंटीबायोटिक के नाम बता रहे हैं जो आपको लाभ प्रदान कर सकते हैं और कुछ गंभीर बीमारियों जैसे- टीबी, टायफाइड आदि में लाभ प्रदान करते हैं।

इन एंटीबायोटिक के लिए आपको बाजार तक दौड़ने की जरूरत भी नहीं होगी, घर में आपकी किचेन के भीतर ही सारे एंटीबायोटिक मौजूद हैं बस आपको जानने की जरूरत है कि आपको किसका सेवन करना है। जानिए इस बारे में अन्‍य बातें:

हल्‍दी -

हल्‍दी कई लाभकारी गुणों से भरपूर होती है और बैक्‍टीरिया को मारने में सक्षम होती है। इसलिए कई रोगों में इसे लाभप्रद माना जाता है। साथ ही शरीर की क्रियाविधि को दुरूस्‍त बनाएं रखने में भी यह सहायक होती है। इसे लगाने से घाव भी बहुत जल्‍दी भर जाता है।

अदरक-

अदरक के सेवन से कई प्रकार के संक्रमण एकआध दिन में ही सही हो जाते हैं। सांस सम्‍बंधी समस्‍या होने पर अदरक सबसे ज्‍यादा फायदा करती है।

 

 

नीम -

नीम के गुणों से हम सभी परिचित हैं। दाने हो या मुहांसे, नीम का लेप चेहरे को संक्रमणमुक्‍त कर देता है। चेचक या खसरा होने पर भी नीम के पत्‍ते को उबालकर स्‍नान करने से संक्रमण जल्‍दी से सही हो जाता है। कैविटी में भी नीम फायदा करता है।

शहद -

शहद सबसे अच्‍छा एंटीबायोटिक होता है। इसमें एंटीसेप्टिक और एंटीमाईक्रोबियल गुण होते हैं। यह मल्‍टीपल लेयर वाले इंफेक्‍शन को भी सही कर देता है और इतनी मजबूती प्रदान करता है कि अगली बार ऐसी समस्‍या न हो। चेहरे के लिए यह सबसे लाभकारी होता है।

जैतून का तेल -

जैतून का तेल कई प्रकार के बैक्‍टीरियल संक्रमण का सही कर सकता है। इसमें एंटीफंगल और एंटीवायरल गुण होते हैं।

ओरीगेनो तेल

ओरीगेनो का तेल, बैक्‍टीरिया को दूर भगाने में काफी कारगर होता है। इसमें एंटीसेप्टिक, एंटीऑक्‍सीडेंट, एंटीवायरल, एंटीफंगल और एंटी-पैरासाइट गुण होते हैं।

 

 

तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

Story first published: Thursday, April 7, 2016, 9:43 [IST]
English summary

बेहतरीन प्राकृतिक एंटीबायोटिक

We at Boldsky will be listing out some of the best natural antibiotics that you can use. Read on to know more about it.
Please Wait while comments are loading...