आपके बाल बताते है सेहत से जुडे़ ये 5 राज

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

किसी की खूबसरती को बयां करना हो, तो उसके बालों और नाखूनों का जिक्र करना जरूरी होता है। सुंदर बाल, सुंदरता की परिभाषा में फिट बैठते है। कुछ लोग मानते है कि बाल, शरीर का एक अलग हिस्‍सा है लेकिन वास्‍तव में ऐसा नहीं है। शायद ही कोई ऐसा होगा, जिसे सुंदर बाल पसंद नहीं होगे। पिछले कुछ दिनों से आपके बालों का रंग और सॉफ्टनेस बदल रही है तो इसका मतलब है कि आपकी जीवनशैली में कुछ गड़बड़ है। ये सुनकर आपको कुछ अजीब जरूर लगेगा, लेकिन यह सच है।

अगर आप सही समय पर सोते नहीं है, पौष्टिक भोजन करने से कतराते है, देर रात तक काम करते है और अपनी सेहत की ओर ध्‍यान नहीं देते है तो आपके बाल भी उसी हिसाब से बढ़ते, झड़ते और टूटते है। यहां आपको कुछ ऐसे प्‍वाइंट बताएं जा रहे है कि कैसे सेहत के बारे में बताते है आपके बाल :

5 things your hair can say about your health

1) ओह... मेरे पतले बाल :
बात पतले होने का एक कारण और होता है - शरीर में पीसीओएस या हाइपोथेरोडिज्‍म हारमोन्‍स का असंतुलन होना। हर दिन 40 से 60 बालों का झड़ना सामान्‍य बात है, लेकिन अगर इससे ज्‍यादा बाल गिरते है तो आपके लिए गंभीर समस्‍या बन सकती है। इसलिए अपने बालों और सेहत, दोनों का ख्‍याल रखें और तनाव न लें।

2) रूसी
कई बार सोराईसिस नाम की बीमारी में भी ऐसा होता है, ऐसे में इग्‍नोर न करें और ध्‍यान दें। क्रोहन नाम की बीमारी में भी रूसी जैसी परत बनती है। आप अपने बालों का ध्‍यान रखें, रूसी के लिए घरेलू उपाय अपनाएं, अगर आराम न मिलें तो डॉक्‍टर से सम्‍पर्क करें।

3) रूखापन लगे
कई बार आपको अपने बाल छूने पर महसूस होता है कि अब ये ज्‍यादा रूखे और बेजान हो गए है। अगर आप स्‍वीमिंग करते है तो पूल के पानी में क्‍लोरोनिटेड मिला होने के कारण ऐसा होता है, लेकिन अगर आप ऐसी कोई एक्‍टीविटी नहीं करते है तो ध्‍यान देने की जरूरत है। पौष्टिक भोजन की कमी और बालों की देखभाल न करने से ऐसा होता है। इसके अलावा, बालों के रूखापन का कारण हाइपोथाइरोडिज्‍म भी होता है, जिसमें कुछ महीनों के लिए बालों में रूखापन आ जाता है। हाइपोथाइरोडिज्‍म में वजन बढ़ना, सर्दी - जुकाम बुखार रहना आदि समस्‍याएं हो जाती है, ऐसे में अपने स्‍वास्‍थ्‍य और बालों का ध्‍यान अवश्‍य रखें।

4) बालों का टूटना
क्‍या आपको पता है कि बाल, केराटिन और प्रोटीन से मिलकर बने होते है, ऐसे में शरीर में प्रोटीन की मात्रा कम होने पर बाल टूटने और दो मुंहे होना शुरू हो जाते है। वैसे थॉयराइड की समस्‍या होने पर भी बाल टूटना शुरू हो जाते है, इसलिए जब भी ऐसी समस्‍या हो, तो थॉयराइड की जांच भी करवा लें।

5) बालों का सफेद होना
अगर आपके बाल सफेद होने लगे है तो चिंता का विषय है। बालों का सफेद होना, साफतौर पर बताता है कि शरीर में कुछ सही नहीं चल रहा है। तनाव, चिंता और हारमोन्‍स में अंसतुलन के कारण बाल सफेद हो जाते है। इसलिए अपना ध्‍यान रखें, नियमित रूप से पौष्टिक भोजन करें और खुश रहें।

तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

English summary

5 things your hair can say about your health

Your hair can tell you about your health. Hair and health are interrelated and there are a few signs your hair can tell you about your health.
Please Wait while comments are loading...