पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

पूरी दुनिया का लगभग 75 प्रतिशत भाग सिर्फ पानी से भरा हुआ है। हालांकि, इस 75 प्रतिशत में सिर्फ 2.5 प्रतिशत पानी ही पीने योग्‍य है जो ताजा है और मानव शरीर के लिए उपयुक्‍त है। वहीं हमारे शरीर का लगभग 60 प्रतिशत हिस्‍सा पानी से भरा हुआ है। ये सभी आंकडे हमें स्‍वंय को हाइड्रेट करने के बारे में बताते है। दूसरे शब्‍दों में, पानी एक प्रकार का प्राकृतिक लुब्रीकेंट होता है जो हमारे शरीर की कार्यप्रणाली को सुचारू रूप से चलाने का काम करता है।

पानी, हमारे शरीर से विषैले तत्‍व निकालने का काम करता है और शरीर में उत्‍पन्‍न होने वाले बेकार तत्‍वों को पेशाब और पसीने के रूप में बाहर निकाल देता है। पानी, शरीर में कोशिकाओं को पोषक तत्‍व प्रदान करता है और कान, नाक और गले के ऊतकों को नमी प्रदान करते है जिससे ये सुचारू रूप से क्रियान्‍वयन करते है। पानी की कमी से मानव शरीर में डिहाईड्रेशन हो जाता है, शरीर में ऐसी स्थिति होने पर उसमें जान न के बराबर रह जाती है। पानी एक ऐसा तरल पदार्थ है जो मानव शरीर के लिए आवश्‍यक होता है, इसके बिना मानव जीवन संभव नहीं है।

कई लोग अक्‍सर ये सवाल पूछते है कि उन्‍हे दिन में कम से कम कितने ग्‍लास पानी पीना चाहिए। पानी की पीना, व्‍यक्ति की भौगोलिक स्थिति पर भी निर्भर करता है, अगर कोई व्‍यक्ति बर्फीले इलाके में रहता है तो उसे कम पानी पीने की आवश्‍यकता पड़ती है लेकिन अगर कोई व्‍यक्ति रेतीले और भयंकर गर्मी वाले स्‍थान पर रहता है तो उसके शरीर को ज्‍यादा पानी की आवश्‍यकता होती है। इसीलिए, लेह में रहने वाला राजस्‍थान में रहने वाले लोगों की अपेक्षा कम पानी पीता है। अगर मौसम में गर्मी होती है तो शरीर को भी ज्‍यादा पानी की जरूरत होती है। अगर कोई व्‍यक्ति शरीरिक क्रियाओं में ज्‍यादा सक्रिय है तो उसके शरीर को भी ज्‍यादा पानी की आवश्‍यकता पड़ती है।

यहां पर्याप्‍त पानी पीने के उद्देश्‍यों के बारे में बताया जा रहा है :

1) बॉडी के फ्लूएड्स को संतुलित रखता है :

पानी की पर्याप्‍त मात्रा का सेवन, शरीर के फ्लूएड्स को संतुलित रखता है, व्‍यक्ति के शरीर में 60 प्रतिशत हिस्‍सा पानी होता है, जिससे उसकी पाचन क्रिया चलती है, भूख लगती है, रक्‍त का संचार होता है, दिल धड़कता है आदि... अगर शरीर में पानी की कमी हो जाएगी तो इन सभी क्रियाओं पर नकारात्‍मक असर पड़ेगा और जीवन कठिन हो जाएगा, ऐसे में पानी का उचित मात्रा में सेवन जरूरी हो जाता है।

2) कैलोरी को नियंत्रित रखता है :

पानी का पर्याप्‍त मात्रा में सेवन वजन को कम करने में भी सहायक होता है। यह कैलोरी को नियंत्रित रखता है। पानी का सेवन, वजन कम करने के अलावा शरीर में ऊर्जा भी बनाएं रखता है। भूख को लगने और पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने में भी पानी का अभूतपूर्व योगदान होता है।

3) हैंगओवर दूर करता है :

शराब के हैंगओवर से कई लोग परेशान रहते है लेकिन शायद उन्‍हे यह नहीं पता है कि पानी की भरपूर मात्रा का सेवन इस समस्‍या से छुटकारा दिला सकता है। हैंगओवर के दौरान व्‍यक्ति का शरीर डिहाईड्रेट हो जाता है, ऐसे में अगर उन्‍हे और ज्‍यादा मात्रा में पानी पिला दिया जाएं तो उनका हैंगओवर उतर जाएगा।

4) एनर्जी देता है :

पानी में कई लाभकारी गुण होते है जो शरीर को ऊर्जा देते है। अगर आप कभी भी सुस्‍त या कमजोरी महसूस कर रहे हो तो ठंडा पानी पिएं। पानी पीने से ताजगी मिलती है और शरीर की गर्मी भी शांत हो जाती है।

5) त्‍वचा को चमकदार बनाता है :

पानी की भरपूर सेवन, त्‍वचा को चमकदार बनाता है। पानी के सेवन से त्‍वचा में रूखापन नहीं आता है और नमी के कारण त्‍वचा में खिचांव भी नहीं रहता है।

6) किड़नी स्‍वस्‍थ रखता है :

पानी की पर्याप्‍त मात्रा का सेवन, किडनी को स्‍वस्‍थ रखता है। इसके सेवन से किडनी में स्‍टोन नहीं बनता है और यूरिन के माध्‍यम से शरीर में बनने वाला बेकार तत्‍व यूरिया नाइट्रोजन भी निकल जाता है जिससे किडनी को कोई खतरा नहीं रह जाता है।

7) पेट को सामान्‍य रखता है :

पानी का सही मात्रा में सेवन, आपको सही समय पर मल - मूत्र आने देगा, जिससे पेट में कब्‍ज नहीं होगा, भूख भी अच्‍छी लगेगी और शरीर सुचारू रूप से काम करेगा। पेट को सामान्‍य रखने में पानी की पर्याप्‍त मात्रा सहायक होती है। अगर किसी व्‍यक्ति को पेट में अक्‍सर गड़बड़ी रहती है तो उसे पानी की भरपूर मात्रा का सेवन करना चाहिए।

8) शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकाल देता है :

पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीने से शरीर में उत्‍पन्‍न होने वाले विषैले तत्‍व, पेशाब या पसीने के रूप में शरीर से बाहर निकल जाते है। अगर किसी व्‍यक्ति में पानी की कमी रूक जाती है तो उसे पेशाब आना बंद हो जाता है जिससे उसका पेट फूल जाता है और बॉडी में काफी टॉक्सिन इक्‍ट्ठा हो जाता है, कई बार इससे मौत होने का भय भी रहता है।

9) मांसपेशियों को स्‍वस्‍थ रखता है :

पानी पीने से मांसपेशियों में कर्षण पैदा होता है। पानी पीने से बॉडी को नमी मिलती है जिससे मांसपेशियों की क्रिया सरलता से होती है। पानी, मांसपेशियों के काम में इंजन की तरह काम करता है। इसके सेवन से चोट, दर्द और घाव भरने में भी आसानी होती है, क्‍योंकि मांसपेशियां अच्‍छे से काम करती है।

10) जोड़ों के लिए अच्‍छा होता है :

पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीने का एक लाभ यह भी होता है कि जोड़ यानि हड्डियों के ज्‍वाइंट हमेशा दुरूस्‍त रहते है। पानी पीने से जोड़ों में लुब्रीकेशन रहता है क्‍योंकि उनमें मॉइश्‍चर बना रहता है। नमी रहने से जोड़ों के बीच का लुब्रीकेशन ज्‍यादा उम्र तक बना रहता है।

तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

Story first published: Monday, November 18, 2013, 9:00 [IST]
English summary

Health benefits of drinking adequate water

Water helps our body flush out toxins and other wastes generated by our bodies through various outlets like perspiration, urination etc. Here are some of the Health benefits of water.
Please Wait while comments are loading...