डिप्रेशन से निजात पाना है तो करें बाहर व्‍यायाम

Subscribe to Boldsky

अनेक कारणों से सर्दियों के महीनों में बाहर व्यायाम करने से आप डिप्रेशन को रोक सकते हैं, जिनमें से कुछ के बारे में आप सोच भी नहीं सकते।घर के अंदर या बाहर, सर्दियों के महीनों में वर्कआउट करना आपके मूड, स्वास्थ्य और बेशक आपके वज़न के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। अगर आप किसी ऐसी जगह पर रहते हैं जहाँ दिन में किसी समय बाहर जाकर व्यायाम करना संभव हो सकता है तो में आपको ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित करूंगी।

मैं जानती हूँ कि जब बाहर सर्दी हो तो घर के अंदर वर्कआउट करना या फिर छोड़ देना बहुत आसान होता है लेकिन, अगर आप ऐसे दिनों में बाहर कसरत करेंगे तो आप एक नए व्यक्ति की तरह महसूस करेंगे। अगर मौसम बहुत अधिक ठंडा न हो तो ठीक प्रकार से पहने हुए कपड़े आपको गर्म रखेंगे, खासकर अगर आप पसीने आने तक काम करते हैं तो आपको ऐसा करना चाहिए। शांति और स्वास्थ्य चाहिये तो भरें गहरी सांस

बाहर व्यायाम करके डिप्रेशन कम करने के सभी कारणों के बावजूद, कम से कम किसी एक को भी अपनाना लगभग नामुमकिन है। इन कारणों को चैक करें और अगर आपके पास कोई अन्य कारण हो तो मेरे साथ भी साझा करें!

1. विटामिन डी का एक्सपोज़र

घर के बाहर व्यायाम करने से डिप्रेशन कम करने में मदद मिलती है, इसके सभी कारणों में से विटामिन डी का एक्सपोज़र सबसे पहला कारण है। यह शरीर में अधिक सेरोटिन उत्पन्न करता है जो आपके मूड को अच्छा करता है और उन हार्मोन को बढ़ाता है जो डिप्रेशन को शुरु होते ही रोक देता है। यह आपके इम्यून सिस्टम को भी बढ़ाता है, और धूप से प्राप्त विटामिन डी को अवशोषित करना किसी भी अन्य स्रोत की अपेक्षा अधिक आसान होता है, भले ही सूर्य न निकला हो। चाहे बादल हो या धूप निकली हो, फिर भी आपको बाहर की रोशनी से अधिक विटामिन डी प्राप्त होगा। इसके परिणामस्वरूप, आप केवल आधा घंटा बाहर बिताकर डिप्रेशन को रोक सकते हैं।

2. दृश्य का बदलना

सच कहें तो, बेशक एक ट्रेडमिल पर चढ़ना और वर्कआउट करना आसान होता है लेकिन बोरियत को दूर करने के लिए यह सबसे अच्छा तरीका नहीं है। बाहर व्यायामक रने से डिप्रेशन कम होने का एक कारण यह भी है कि आपके लिए दृश्य और वातावरण बदल जाते हैं। यह दिमाग में न्यूरॉन को उत्तेजित करता है जो एंडार्फिन को बढ़ाता है और यह बाकी के दिन के लिए आपकी रचनात्मकता को भी बढ़ाता है।

3. ताज़ी हवा

कभी-कभी ताज़ी हवा से बेहतर कुछ भी नहीं लगता, कई बार तब भी जब सर्दियों में बाहर बहुत ठंडी हवा होती है। मुझे ऐया लगता है कि हररोज़ केवल ज़रा सी ताज़ी हवा लेकर भी आप ताज़ा महसूस करते हैं। इसके लिए सर्दियों में बाहर जाकर व्यायाम करना एक अच्छा विकल्प है। अगर आप कार्डियो बाहर करते हैं और फिर वज़न उठाने, टोनिंग और योग करने के लिए अंदर आते हैं, तो इससे बेहतर है कि आप बाहर जाकर कोई भी व्यायाम न करें। अब इसका मतलब यह नहीं है कि बाहर व्यायाम करने के लिए कभी-कभी बहुत सर्दी होती है, इसलिए आप इसे छोड़ दें। हालांकि, इसका मतलब यह है कि जब भी दिन थोड़े सहनीय हो तो आप उसका फायदा उठा लें।

4. बढ़ी हुई इम्यूनिटी

आप मानें या न मानें, लेकिन बाहर व्यायाम करने से आपका इम्यून सिस्टम अवश्य बढ़ता है। जब आपका इम्यून सिस्टम कम हो जाता है तो यह वास्तव में आपके लिए डिप्रेशन की संभावना को बढ़ा सकता है। इसलिए, अपने इम्यून सिस्टम को बढ़ाने के लिए हररोज़ केवल कुछ मिनटों के लिए सैर करें या रोगिंग करें।

 

5. मांसपेशी बनाना

बाहर व्यायाम करके डिप्रेशन कम होने का एक कारण यह भी है कि इससे मांसपेशी बनने में मदद मिलती है जो आमतौर पर ट्रेडमिल पर वर्कआउट करने से संभव नहीं हो पाता है। बाहर व्यायाम के दौरान फुटपाथ या अन्य असमान सतहों पर चलने के लिए आपके पैरों की कई मांसपेशियों का उपयोग आवश्यक होता है। यहाँ तक कि घास पर चलने के लिए भी मांसपेशियों को बहुत काम करना पड़ता है जिससे आपके शरीर में उर्जा और एंडोर्फिन बढ़ता है। जितना अधिक आपकी मांसपेशियाँ काम करती हैं, उतना ही अधिक आपका मेटाबोलिज़्म बढ़ता है और आपको अधिक उर्जा मिलती है। इससे स्वाभाविक रूप् से डिप्रेशन कम होता है जिसका आपको अहसास भी नहीं होता। मैं जानती हूँ कि जब भी मैं अधिक वर्कआउट करती हूँ तो दिनभर मैं अच्छा महसूस करती हूँ। बाहर जाकर पहाडि़यों पर चढ़ना उस अहसास की तुलना में कहीं बेहतर होता है जो आप घर के भीतर ट्रेडमिल का हैंडल पकड़कर महसूस करते हैं, और जिससे आपकी कैलोरी भी अधिक जलती हैं।

6. मौसम का बदलाव

बाहर व्यायाम करने ये डिप्रेशन कम करने का एक अन्य अनोखा कारण है कि आप सक्रिय रूप से बदले हुए मौसम को देखते हैं। यह कुछ ऐसा है जो मैं हमेशा से देखना चाहती हूँ। यह बहुत हल्का लग सकता है लेकिन, हर साल सर्दियों का आना, फिर सर्दियों का वसंत में बदलना बहुत ही आकर्षक लगता है। आप मौसम की सराहना करते हैं और इस दौरान हवा में होने वाले बदलाव से आपको प्यार हो जाता है। मेरा मानना है कि मूड अच्छा करने का यह सबसे बेहतर तरीका है, खासकर सभी पत्तों को पेड़ों से गिरते हुए देखना और फिर धीरे-धीरे जि़ंदगी में लौटकर आना। प्रकृति हमारे लिए डिपे्रशन कम करने का सबसे महत्वपूर्ण लेकिन सबसे कम उपयोब किया जाने वाला प्रकृतिक एंटीडिप्रेसेंट है, इसलिए जितना अधिक हो सकें, इसका उपयोग करें।

 

 

7. विषाक्त पदार्थों से कम एक्सपोज़र

क्या आप जानते हैं कि बहुत देर तक घर के अंदर रहना आपके स्वास्थ्य के लिए वास्तव में हानिकारक हो सकता है। सभी घरों में क्लीनर, सीसा आधारित पेंट, हीटिंग और हवा तथा यहाँ तक कि प्लास्टिक उत्पादों के माध्यम से विषाक्त पदार्थ स्वाभविक रूप से उपस्थित होते हैं। हालांकि, आप अपने घरों को पूरी तरह से टोक्सिन प्रूफ नहीं बना सकते, लेकिन हररोज़ कुछ देर बाहर घूमते समय आप कुछ व्यर्थ चीज़ें बाहर निकाल सकते हैं। ऐसा करने से घर के अंदर घुटनभरी और विषाक्त हवा से होने वाले डिप्रेशन से छुटकारा मिल सकता है जिसे अधिकतर लोग नहीं समझते हैं।


तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

Story first published: Wednesday, March 19, 2014, 9:56 [IST]
English summary

7 Reasons Exercising outside Can Help Prevent Depression

With all the reasons exercising outdoors can help prevent depression, it's almost impossible not to at least give it a shot. Check out these reasons and share any you might have with me too!
Please Wait while comments are loading...