खर्राटे रोकने के लिए खाएं ये भोजन

By: Shakeel Jamshedpuri
Subscribe to Boldsky

दुनिया भर में ऐसे लाखों लोग हैं, जिनके लिए खर्राटा मजाक या हंसी की बात नहीं है। यहां तक कि खर्राटा लेने वाले व्यक्ति से जो-जो प्यार करता है, उन्हें भी परेशानी होती है। खर्राटा एक सामान्य समस्या है जो पुरुष और महिला दोनों में पाई जाती है। इससे हमें कई मौकों पर शर्मिंदगी झेलनी पड़ती है। परेशानी की बात यह है कि खर्राटे की समस्या उम्र के साथ-साथ बढ़ती चली जाती है। खर्राटे कई कारणों से आते हैं। ऐसा नाक या गले में रुकावट की वजह से, गले के फूलने से, मोटापे या गलत ढंग से सोने से होता है। खर्राटा तब आता है जब नर्म तालू हवा के गुजरने के साथ-साथ बजने लगती है।

खर्राटा कई मौकों पर आपको पूरी तरह से नाउम्मीद भी कर सकता है। खर्राटे के कारण कई बार पार्टनर से ब्रेकअप तक हो जाता है। कुछ मामलों में आप आपनी लाइफस्टाइल और भोजन में हल्का बदलाव लाकर खर्राटे को रोक सकते हैं। खर्राटे रोकने के टिप्स में खाने के प्रबंधन का विशेष महत्व है।

शोध से पता चला है कि खर्राटे की समस्या में खाने की आदतों का बड़ा हाथ होता है। आइए हम आपको बताते हैं कि भोजन और खर्राटा आपस में किस तरह से जुड़े हुए हैं। इससे आप खानपान को बेहतर बनाकर खर्राटे से​ निजात पा सकते हैं।

ज्यादा भोजन न करें

ज्यादा भोजन कर सोने से बचें। बेहतर होगा अगर आप भोजन करने के बाद थोड़ा टहलें और फिर सोने जाएं। इससे खाने को पचने में आसानी होगी। रात को कम भोजन करना खर्राटे की समस्या को रोक सकता है।

शहद

खर्राटे को रोकने में शहद काफी असरदार होता है। शहद में एंटी-इंफ्लैमटॉरी और एंटी-माइक्रोबियल गुण पाया जाता है, जो हवा के मार्ग में किसी तरह की बाधा को दूर करता है। यह आपके गले को फूलने से भी बचाएगा।

रेड मीट के बजाए ​मछली खाएं

खर्राटे के लिए कई बार रेड मीट भी दोषी होता है। आप इसकी जगह मछली का सहारा ले सकते हैं जो कि खर्राटे को रोकने के लिए जाना जाता है। रेड मीट में सैचुरेटेड फैट पाया जाता है, जो कि धमनी में ऐंठन पैदा करता है। इससे इंफ्लमैशन होता और गले में सूजन आ सकता है।

जैतून का तेल

सैचुरेटेड आयल के इस्तेमाल से एसिड रीफ्लक्स हो सकता है। ऐसे में एसीडीटी के कारण ओसोफेगस में होने वाले इंफ्लमैशन से खर्राटे को बढ़ावा मिल सकता है। जैतून का तेल गले के क्राउडिंग को नर्म तालू से लेकर कंठ तक कम करता है, जिससे खर्राटे रोकने में मदद मिलती है।

चाय

खर्राटा रोकने में चाय को सबसे असरदार माना जाता है। यह गले के संकुचन को कम करता है। आप खर्राटा से निजात पाने के लिए केमोमाइल टी, ग्रीन टी, मिंट टी और कॉमन ब्लैक टी की मदद ले सकते हैं। अगर आप खर्राटे से और प्रभावी तरीके से निपटना चाहते हैं तो चाय में नींबू और शहद भी मिला सकते हैं।

सोया मिल्क

यह एक स्थापित तथ्य है कि जिस व्यक्ति में लेक्टोज को सहन करने की क्षमता नहीं होती है उनमें गाय के दूध से खर्राटे की समस्या आती है। होता यह है कि ऐसे व्यक्ति में गाय के दूध से नाक जाम होने का खतरा रहता है, जिससे खर्राटा की समस्या बढ़ती है। साथ ही यह म्यूकस का उत्पादन भी बढ़ा देता है। सोया मिल्क के जरिए खर्राटे को रोकना एक अच्छा विकल्प है।

शराब से बचें

अगर आप शराब पीते हैं तो ऊपर बताया गया एक भी टिप्स आपके किसी काम का नहीं है। शराब सेंट्रल नर्वस सिस्टम पर असर करता है, जिससे गले के मसल्स रीलैक्स हो जाते हैं। आप बेशक खर्राटे रोकने वाले भोजन लें, पर आपनी आदत सुधारने की भी कोशिश करें।

डेरी उत्पाद से बचें

अगर आप एक ऐसा डाइट प्लान अपनाना चाहते हैं जो खर्राटे को रोकता हो तो अपनी लिस्ट से डेरी उत्पाद को हटा दें। डेरी उत्पाद से खर्राटे की समस्या होती है। अगर आप डेरी उत्पाद ले रहे हैं तो कम से कम 5-6 घंटे के बाद ही सोने जाएं।

तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

English summary

Food which could stop snoring

If you snore while sleeping then you can try these foods. These food not only stops snoring but reduce weight too.
Please Wait while comments are loading...