क्‍या आप तनाव से ग्रसित है? तो जानिए इनके लक्षण

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

तनाव, अच्‍छे से अच्‍छे शरीर को जर्जर और बदहाल बना देता है। कई बार लोग तनाव के कारण ही कई लोगों की जिंदगी में और उलझनें पैदा हो जाती हैं। आजकल के दौर में, लाइफस्‍टाइल बहुत बिजी होने के कारण बच्‍चे से लेकर बुजुर्ग तक तनाव में आ जाते है। कई बार तो हमें समझ में भी नहीं आता है कि क्‍या हमें स्‍ट्रेस है, हमें लगता है कि शायद वर्क प्रेशर की वजह से ऐसा है या थकान हो जाती है लेकिन वास्‍तव में तनाव ही मूल कारण होता है।

कुछ लोगों की इच्‍छाशक्ति इतनी मजबूत होती है कि वह तनाव में नहीं पड़ते है और हर बुरी परिस्थिति से बाहर निकल आते है। लेकिन कई लोग बहुत ज्‍यादा परेशान हो जाते है। तनाव को दूर भगाने के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी होता है कि आप यह जानें कि क्‍या आप तनाव से ग्रसित है। ना लीजिये टेंशन नहीं तो बढ़ जाएगा दिल का खतरा


1) वजन बढ़ना :

हां, अगर पिछले कई दिनों से आपका वजन बढ रहा है जबकि आप कुछ भी एक्‍ट्रा डाईट नहीं लेती है। तनाव का उच्‍च स्‍तर होने पर बॉडी में ऐसे हारमोन्‍स स्‍त्रावित होते है जिनसे शरीर फूल जाता है और वजन बढ़ने लगता है। आपको लगेगा कि आपका वजन बढ़ गया है लेकिन वास्‍तव में आप स्‍ट्रेस में है क्‍योंकि आपकी बॉडी को जितनी मात्रा में कैलोरी खर्च करनी चाहिये, उतनी मात्रा में वह कैलोरी खर्च नहीं कर पाती है।

2) मांसपेशियों में खिचांव :

तनाव के दौरान ऐसे हारमोन्‍स निकलते है कि इससे न सिर्फ ब्‍लड़ प्रेशर बढ़ता है बल्कि हार्ट रेट भी बढ़ जाता है और मांसपेशियों में खिचांव आ जाता है। लोगों को लगता है कि शायद वह सही तरीके से सोए नहीं थे, इसी वजह से मांसपेशियों में दर्द हो रहा है लेकिन तनाव के कारण ऐसा होता है। तनाव की वजह से कमर में भी दर्द होता है। आप बोल्‍ड स्‍काई में कमर में होने वाले दर्द को दूर भगाने के लिए 10 प्रभावी टिप्‍स भी पढ़ सकते है।

3) पेट में दर्द :

पेट में गुदगुदी होना या हल्‍का-हल्‍का दर्द होना, सिर्फ एक्‍साइटमेंट के कारण नहीं होता है बल्कि तनाव के कारण भी होता है। एक अध्‍ययन के मुताबिक, जब दिमाग में तनाव होता है तो पेट में दिक्‍कत होती है क्‍योंकि दिमाग और पेट आपस में कनेक्‍ट होते है। हार्वड मेडिकल स्‍कूल के द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, अगर आपको गैस्‍ट्रो सम्‍बंधित समस्‍या है जैसे - कब्‍ज, इरीटेबिल बॉउल सिंड्रोम या एसीडिटी आदि है तो मतलब है कि आप तनाव में है।

4) बालों का झड़ना :

ज्‍यादा तनाव होने से सेक्‍स हारमोन्‍स (एंड्रोजन) भी ज्‍यादा स्‍त्रावित होता है। इस हारमोन्‍स के चलते बाल बहुत ज्‍यादा झड़ते है। अगर पिछले तीन-चार महीने से आपके बाल बहुत ज्‍यादा झड़ रहे हैं तो आप यह दर्शाता है कि आप तनाव में है।

 

 

5) भूल जाना :

अगर आप पिछले कुछ दिनों से या लम्‍बे समय से बातों को सही तरीके से याद नहीं कर पाते है तो आप निसंदेह ही तनाव में है। तनाव के दौरान ऐसे हारमोन्‍स स्‍त्रावित होते है जो आपके दिमाग की क्षमता पर नकारात्‍मक प्रभाव डालते है और चीजों को याद नहीं रख पाते है। तनाव के दौरान शरीर में कारटिसोल नामक हारमोन्‍स स्‍त्रावित होता है जो शॉर्ट टर्म मेमोरी लॉस कर देता है और छोटी - छोटी बातों को याद रख पाना मुश्किल होता है।

6) पीरियड्स सही समय पर न आना :

महिलाओं में पीरियड्स में अनियमितता दर्शाता है कि वह मानसिक रूप से परेशान है और तनाव में हैं। तनाव की वजह से पिट्यूटरी ग्रन्थि जो कि हारमोन्‍स को कंट्रोल करती है उसमें चेंजस आ जाते है जिससे ओव्‍यूलेशन की प्रक्रिया बाधित होती है और महिला की प्रजनन क्षमता पर असर पड़ता है।

7) पलकों का गिरना :

आंखों में जलन और पलकों का गिरना, दर्शाता है कि आप तनाव में है। कई बार पलकें भी फड़कने लगती हैं जो कि शरीर में स्‍ट्रेस लेव ज्‍यादा होने के कारण होता है। अगर मन शांत होगा तो आंखों को भी आराम मिलता है और पलकें ज्‍यादा फड़कती नहीं है।

8) दाने निकलना :

स्‍ट्रेस लेवल उच्‍च होने पर चेहरे पर दानों निकलने की समस्‍या होने लगती है क्‍योंकि त्‍वचा में अचानक से एंड्रोजेंस का स्‍तर बढ़ जाता है। इसके अलावा, जब आप तनाव में होते है तो बॉडी की हीलिंग पॉवर भी कम हो जाती है।

9) इमोशनली लो फील करना :

तनाव के दौरान व्‍यक्ति बहुत ज्‍यादा भावनात्‍मक हो जाता है। अगर आप पिछले कई दिनों से हर बात पर परेशान हो जाते है और इमोशनली लो फील करते है तो आप तनाव में है।

 

 

10) निगेटिव ख्‍याल आना :

स्‍ट्रेस लेवल ज्‍यादा होने पर व्‍यक्ति को हमेशा निगेटिव ख्‍याल आते है और वह अच्‍छा सोचने की बजाय बुरा पहले सोचता है।


तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

English summary

Which of these 10 symptoms of stress do you have?

Chronic stress occurs when people start denying that fact that they are stressed. Some people have a strong convincing mind that helps them to deny their stressful situation. Others are smart and are good at hiding their stress symptoms from other as well as themselves.
Please Wait while comments are loading...