पढ़ें: यौन संचारित रोगों को रोकने के आसान उपाय

Subscribe to Boldsky

यौन संचारित बीमारियाँ जिन्हें सामान्यतः सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिजीज (एसटीडी) के नाम से जाना जाता है। ये संक्रामक बीमारियाँ हैं जो कि एक दूसरे के अंतरंग संपर्क में आने से फैलती हैं।

ये बीमारियाँ किसी भी उम्र के व्यक्ति में हो सकती हैं, लेकिन सेक्सुयली एक्टिव लोगों में इनके होने का ज्यादा खतरा रहता है। इसलिए यह जानना जरूरी है कि सेक्सुयल ट्रांसमिटेड डीजीज को फैलने से कैसे रोका जाये।

READ: एचआईवी होने के 12 लक्षण

शर्मिंदगी से ज्यादा यह एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है। यदि सही तरह से इलाज नहीं किया जाये तो बांझपन जैसी गंभीर समस्या के साथ ही मौत भी हो सकती है। लेकिन इससे बचने के तरीके हैं। संभोग के अलावा भी कई कारण हैं जिनसे ये फैलती हैं।

READ: गोनोरिया रोग के ये 7 लक्षण जो महिलाओं को जरुर पता होने चाहिये

कई दाद और जननांग में मस्से होते हैं जो कि त्वचा के संपर्क से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में प्रवेश करते हैं। इसके अलावा वाइरस ब्लड ट्रान्सफर द्वारा भी संचारित होता है। बीमारी से ग्रसित माता द्वारा भी यह भ्रूण को प्रभावित कर सकता है।

READ बड़े ब्रेस्ट वाली लड़कियों को बड़ा खतरा

सेक्सुयल ट्रांसमिटेड डिजीज का सबसे बड़ा खतरा यह है कि इससे ग्रसित व्यक्ति को कई सालों तक इनका पता भी नहीं चलता जब तक कि गंभीर लक्षण दिखाई नहीं दें। सेक्सुयल ट्रांसमिटेड डिजीज को रोकने के कुछ तरीके हैं।

छोटी उम्र में सेक्स से बचें

छोटी उम्र में सेक्स करना भी सेक्सुयल ट्रांसमिटेड डिजीज का मुख्य कारण है। व्यक्ति जितना युवा होगा उतना ही खतरा ज्यादा होगा।

 

सेक्स पार्टनर

ज्यादा लोगों से सेक्स करने से भी इसके संक्रमण का खतरा बढ़ता है। इससे बचने का तरीका है कि एक ही पार्टनर से सेक्स करें।

 

स्वच्छता बनाए रखें

सेक्सुयल ट्रांसमिटेड डिजीज से बचने के लिए यौन संबंध में स्वच्छता बनाए रखें। अंडर गार्मेंट्स और टॉवल शेयर नहीं करें। सेक्स के बाद अपने गुप्तांगों को साफ करें।

 

अजनबियों से बचें

सेक्सुयल ट्रांसमिटेड डिजीज से बचने का तरीका है कि अंजान व्यक्ति से सेक्स ना करें। खास तौर पर यदि आप युवा हैं।

एक ही पार्टनर से सेक्स

संक्रमण से बचने के लिए एक ही विश्वसनीय और असंक्रमित पार्टनर रखें। व्यक्ति से लंबा रिश्ता रखें। यह दोनों पार्टनर्स पर लागू होता है।

पहले पता कर लें

सबसे अच्छा तरीका है कि जब आप नए रिलेशन में हों तो अंतरंग संबंध ना बनाएँ। चूंकि यह कठिन है इसलिए आपस में इस टॉपिक पर बातचीत जरूर करें।

टीकाकरण

सेक्सुयल ट्रांसमिटेड डिजीज की रोकथाम के लिए बाजार में कई टीके उपलब्ध हैं। यह टीकाकरण सेक्स करने से पहले लेना चाहिये। इसके लिए जागरूकता और शिक्षा बहुत जरूरी है।

 

कंडोम इस्तेमाल करें

इन बीमारियों की रोकथाम के लिए कंडोम इस्तेमाल करें। प्राकृतिक आवरण के बने कंडोम ज्यादा असरकारक हैं।

 

एल्कोहल और ड्रग्स का सेवन ना करें

एल्कोहल का ज्यादा सेवन करने और ड्रग्स के सेवन से इनके संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। यदि आप ऐसा करते हैं तो यौन सम्बन्धों के दौरान इन बीमारियों से संक्रमित होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

पार्टनर से बात चीत करें

अपने पार्टनर से सेफ सेक्स के बारे में बातचीत करना आवश्यक है। इससे रिश्ता खराब किए बिना दोनों एक दूसरे से इस टॉपिक पर सहमत होते हैं।

 

तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

Story first published: Tuesday, March 17, 2015, 10:02 [IST]
English summary

Ways To Prevent Sexually Transmitted Diseases

A lot of diseases are spread through sexual contact. But there are ways to prevent sexually transmitted diseases. Follow some of these simple tips.
Please Wait while comments are loading...