जानें, आपका टूथपेस्‍ट किस तरह बनाता है आपको बीमार

Subscribe to Boldsky

दाँतों को साफ़ करने वाले टूथपेस्ट आपको बीमारी दे सकते हैं। सुन के हैरान हो गए, जी हाँ टूथपेस्ट बनाने में इस्तेमाल होने वाले केमिकल आपके दाँतों को नुक्सान पंहुचा सकते हैं। यही नहीं ये आप के शरीर के अंगों को भी नुक्सान पंहुचा सकते हैं।

READ: टूथपेस्‍ट के प्रयोग से पाएं दाग, धब्‍बों और झुर्रियों से मुक्‍ती

अब आप सोच रहें होंगे कि यह कैसे हो सकता है। क्योंकि जब हम ब्रश करते हैं और फिर कुल्ला कर देते हैं, हम इसे निगलते तो नहीं है तो फिर यह हमारे शरीर के अंगों को कैसे नुक्सान पंहुचा सकता है।

हाँ हम इसे कुल्ला कर के बाहर कर देते हैं लेकिन इसमें मौजूद हानिकारक केमिकल्स मुँह के ज़रिये खून में जाके शरीर के अंगों को नुक्सान पंहुचा सकते हैं। जब आप टूथपेस्ट से ब्रश करते हैं तो उसमें मौजूद केमिकल मुँह की कैविटी के जरिये आपके शरीर में चले जाते हैं।

READ: घर पर ऐसे बनाएं प्राकृतिक टूथपावडर

जिसके बाद केमिकल आपके खून में जमा होने लगते हैं जो लंबे समय के बाद आपको गंभीर बीमारी देसकता है। आइये जानते हैं कुछ ऐसी ही बिमारियों के बारे में।

थायराइड

बाजार में मिलने वाले टूथपेस्ट में ट्रिक्लोसन नाम का जर्म किलर केमिकल पाया जाता है जिसे पहले पेस्टसाइड की तरह इस्तेमाल किया जाता था । अध्यन से पता चला है कि यह केमिकल थायराइड, हृदय की समस्या और कैंसर जैसे रोगों को जन्म दे सकता है।

दिमाग, किडनी और हृदय की समस्या

कुछ टूथपेस्ट में पॉलीथीन ग्लाइकोल्स (पॉलीथीन) नाम का पदार्थ पाया जाता है जो और कुछ नहीं प्लास्टिक होती है। यह केमिकल आपके शरीर के लिए जहर की तरह है जो आपके दिमाग, किडनी और हृदय को नुकसान पहुंचा सकता है।

बच्चों में बुद्धि की कमी

टूथपेस्ट में फ्लोराइड नाम का केमिकल पाया जाता है जो आपके मसूड़ों को नुक्सान पंहुचा सकता है साथ ही बच्चों के दिमाग को भी कमज़ोर करता है। गर्भवती महिलाएं अगर इसका इस्तेमाल करती हैं तो उन्हें थायरॉयड, हड्डियों की परेशानी, पेट की समस्या और कैंसर हो सकता है।

मुँह का अल्सर और हार्मोनल इम्बैलेंस

टूथपेस्ट में एक ऐसा पदार्थ मिलाया जाता है जो साबुन की तरह काम करता है जिसे सोडियम सल्फेट कहा जाता है। इससे मुँह का अल्सर, त्वचा में इरिटेशन और हार्मोनल इम्बैलेंस हो सकता है।

गैस और सूजन

टूथपेस्ट में एक मीठा पदार्थ मिलाया जाता है जिसे सोर्बिटोल कहा जाता है जिसे पचाने में मुश्किल होती है। इससे शरीर में दस्त, अपच, गैस और सूजन पैदा हो सकती है। यही नहीं सोर्बिटोल से शरीर में फैट अब्सॉर्प्शन नहीं हो पाता है।

मधुमेह और वजन बढ़ना

टूथ पेस्ट में एस्पार्टेम (आर्टफिशल शुगर) पायी जाती है। इस ज़ीरो कैलोरी शुगर से मधुमेह और मोटापे का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही इससे ब्रेन ट्यूमर सहित कई अन्य बीमारियां भी होती हैं।

लिवर और गुर्दे का कैंसर

टूथपेस्ट में डीएथलोमिन नाम का केमिकल पाया जाता है जिससे टूथ पेस्ट में झाग बनता है। इस केमिकल से लिवर कैंसर, किडनी कैंसर और हार्मोनल इम्बैलेंस हो सकता है।

 

तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

Story first published: Monday, February 8, 2016, 10:10 [IST]
English summary

जानें, आपका टूथपेस्‍ट किस तरह बनाता है आपको बीमार

The toothpaste that you get from the market contains a Germ-killer chemical known as Triclosan, which was earlier used as a pesticide. A research has shown that this chemical can cause thyroid issues, heart problems and cancer.
Please Wait while comments are loading...