क्‍या हो सकता है पुरुषों को बार-बार पेशाब लगने का कारण

Posted By: Super
Subscribe to Boldsky

हमारा शरीर भोजन से मिले जरूरी पोषण तत्वों को सहेज कर रखता है तथा हमारे शरीर में मौजूद विषैले पदार्थों को अन्य मार्गों द्वारा बाहर निकालता है। पेशाब भी इन विषैले पदार्थों को बाहर निकालने का एक रास्ता है।

अतः जब भी हमें पेशाब आए हमें उसी समय उठ कर बाथरूम जाना चाहिए। परंतु यदि आप अन्यों को मुकाबले अधिक बार बाथरूम जा रहे है तब यह एक बीमारी प्रकट होती है।

READ: बार बार पेशाब आने की समस्‍या को दूर करे ये घरेलू उपचार

यदि आपका बार बार कुर्सी से उठना लोगों के ध्यान को आकर्षित करता है या इससे आपकी रातों की नींद हराम हो रही है तब इस समस्या के पीछे छुपे कारण को जानना बहुत जरूरी है।

इस लेख में हमने इस समस्या से जुडे कारण उल्लेखित किए हैं। शायद, ये बीमारी को समझने में आपकी कुछ मदद कर सकें।

 1 मधुमेह:

1 मधुमेह:

अधिक पेशाब आने के मुख्य कारणों में मधुमेह भी शामिल है। पेशाब के माध्यम से शरीर रक्त प्रवाह में अधिक मात्रा में मौजूद ग्लूकोज को बाहर निकालने की कोशिश करता है। इस प्रक्रिया के कारण मधुमेह के रोगियों को बार-बार पेशाब आता है। इसके अलावा उन्हें प्यास भी ज्यादा लगती है।

2 कसरत:

2 कसरत:

कसरत करते वक्त हमारे शरीर में मौजूद गंदगी पसीने के रास्ते से बाहर निकलता है। अतः शरीर में पानी के स्तर को बनाए रखने के लिए बॉड़ी बिल्ड़र अधिक पानी पीते हैं जिस वजह से उन्हें बार-बार बाथरूम जाना पड़ता है।

 3 मूत्रवर्धक दवा:

3 मूत्रवर्धक दवा:

बीमारी को ठीक करने के लिए ली गई दवा आपको बिस्तर से उठने के लिए मजबूर कर सकती है। यदि आप दवा से होने वाले इस साइड़-इफेक्ट से परेशान है तो अपने ड़ॉक्टर की सलाह लें। दवा के अतिरिक्त कॉफी व शराब के सेवन से भी आपको अधिक पेशाब आ सकता है।

4. मूत्राशय का कैंसर:

4. मूत्राशय का कैंसर:

मूत्राशय के कैंसर के कारण आपको बार-बार अपनी कुर्सी से उठना पड़ सकता है। दफ्तर में काम करते समय हर घंटे बाद बाथरूम जाना असुविधा का कारण बन सकता है। इस बीमारी के कारण आपको पेशाब करते वक्त पीड़ा महसूस हो सकती है एवं आपके पेशाब में रक्त भी आ सकता है।

5 बढ़ा हुआ प्रॉस्टेट ग्रंथि:

5 बढ़ा हुआ प्रॉस्टेट ग्रंथि:

मूत्रमार्ग में स्थित प्रॉस्टेट ग्रंथि, मूत्रमार्ग पर दबाव डालता है जोकि अधिक पेशाब आने का कारण बनता है। हालांकि इस रोग का पता लगाना थोडा कठिन है लेकिन इस बीमारी से जुड़े कारणों में बाथरूम जाने के बाद भी हलका महसूस ना होना, पेशाब पर असंयम एवं पेशाब करने में कठिनाई महसूस होना जैसे लक्षण शामिल हैं।

6 प्रोस्टेट कैंसर:

6 प्रोस्टेट कैंसर:

कभी-कभी बढ़ा हुआ प्रोस्टेट भी ट्यूमर को चिह्नित कर सकता है। श्रोणि क्षेत्र पर किसी भी प्रकार का ट्यूमर मूत्रमार्ग को प्रभावित कर सकता है।

7 मनोवैज्ञानिक कारण:

7 मनोवैज्ञानिक कारण:

अधिक पेशाब आने के पीछे केवल शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक कारण भी छुपे हो सकते हैं। डर या चिंता के कारण आपको अधिक बार पेशाब आ सकता है। कुछ मामलों में आदत एवं शौचालय जाने से जुडा समय भी आपको बाथरूम की ओर खींच सकते हैं।

8 मूत्र पथ संक्रमण:

8 मूत्र पथ संक्रमण:

यदि किसी वजह से आपका मूत्र पथ संक्रमित हो जाए तो आपको बार-बार बाथरूम जाना पड़ सकता है। मूत्र मार्ग संक्रमण के कारणों में एसटीआई शामिल है।

 9 इंटरस्टेशल सिस्टाईट्स :

9 इंटरस्टेशल सिस्टाईट्स :

इस रोग में रोगि का मूत्राशय सूज जाता है। ऐसे स्थिति में पेशाब करते वक्त रोगी को बहुत पीड़ा महसूस होती है। इसके अलावा, रोगी को सेक्स को दौरान भी दर्द महसूस होता है।


English summary

क्‍या हो सकता है पुरुषों को बार-बार पेशाब लगने का कारण

Frequent urination can be more of an unpleasant and debilitating condition than you might think and can leave you unable to relax and even having difficulty sleeping if it causes you to wake up constantly throughout the night.
Please Wait while comments are loading...