रात में बार-बार टूटती है नींद, तो हो सकती है बड़ी बीमारी

Subscribe to Boldsky

विशेषज्ञों का मानना है कि शहर की आधी आबादी कटस्ट्रोफिसिंग या नाईट ड्रेड से पीड़ित हैं, जिससे आधी रात में वह नींद में चौंक कर बैठ जाता है। तनाव भरी जिंदगी, ऑफिस का ज्‍यादा काम, रिश्‍ते में उतार-चढ़ाव या फिर व्‍यस्‍त जिंदगी,आपको रात में चैन की नींद सोने नहीं देती।

इस समस्‍या को इंसोमेनिया के साथ ना जोड़ें तो ही अच्‍छा है। किसी भी चिंता की वजह से रात को नींद का टूट जाना, बेचैनी महसूस होना, मन उदास होना, तनाव और पसीने का आना आदि आम लक्षण हैं।

do-you-suffer-from-middle-of-the-night-anxiety

कारण
एक व्यक्ति 90-120 मिनट के बीच में सोता है और इनमें से अधिकांश लोग इस के बीच में करवट बदलने के लिए उठते हैं और फिर सो जाते हैं। इसके विपरीत कुछ लोग चिंता और डर की वजह से उठ जाते हैं और फिर दोबारा सो नहीं पाते हैं। यह किसी को भी हो सकता है।

इसके कई कारण हैं जैसे देर रात तक जागना, खाने की गलत आदतें, लम्बे समय तक चिंता करना और मेनपाज़ होना। यह सब दिन प्रति दिन शहरों में बढ़ता जा रहा है यही नहीं स्कूल के बच्चे भी इससे छूटे नहीं है।

sleep

अनजान डर
ऐसे समय में लोगों के डर अस्पष्ट होते हैं जैसे अगले दिन दिए जाने वाली प्रेज़न्टैशन का डर और मामूली काम को ना कर पाना। यह सब ज्यादा तर रात में बढ़ जाता है खास कर वो लोग जो जल्दी हाइपर हो जाते हैं। यह ज्यादातर उनके खुद की नकारात्मक सोच की वजह से होता है। यहां तक कि बच्चों में भी इस तरह ऐंगज़ाइइटी डिसॉर्डर देखने को मिल रहा है।

यह उनके साथ ज्यादातर होता है जो लोग अपनी भावनाओं को व्यक्त नहीं कर पाते हैं। ऐसे में वे लोग अपनी भावनाओं को कहीं लिखा करें या किसी से बोल कर शेयर किया करें।

यह बहुत जरुरी है कि समय रहते इसे ठीक किया जाए क्योंकि समय के साथ यह बिमारी और बिगड़ जाती है। इसे काबू में करने के लिए रात में सोते समय आप कोई अच्छी किताब पढ़ सकते हैं या मेडिटेशन कर सकते हैं। साथ ही लड़ाई और झगड़े वाली मूवीज और गेम्स से दूर रहना चाहिए।

sleep1

इस तरह के पैनिक अटैक्स से बचने के तरीके

  • इन अटैक्स के आने के समय इसके खिलाफ़ ना जाएँ बल्कि इसके हिसाब से काम करें।
  • रात में कोई भी काम कर सकते हैं जैसे गहरी सांस लेना
  • अपने तकिए पर लैवेंडर के तेल की कुछ बूँदें लगाये
  • रात में कैमोमाइल चाय पीयें
  • सॉफ्ट म्यूजिक सुने जिससे आपका दिमाग शांत रहे और ब्लड प्रेशर नार्मल रहे
  • व्यायाम करें जिससे नींद आजाये

sleepin3

नींद ख़राब होने से बुरे प्रभाव

  • चिड़चिड़ापन
  • एसिड रीफ्लक्स
  • काम ठीक से ना कर पाना
  • मोटापा और दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाना
  • टाइप 2 मधुमेह होना

तुलना कर के खरीदें उत्तम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों

Story first published: Monday, February 15, 2016, 16:27 [IST]
English summary

रात में बार-बार टूटती है नींद, तो हो सकती है बड़ी बीमारी

Experts warn that more than half of the city's population experiences Catastrophising or `night dread', which takes away sleep
Please Wait while comments are loading...