शरीर के दर्द के बारे में कुछ चौंकाने वाले वहम

Posted By: Super Admin
Subscribe to Boldsky

हममें से अधिकतर लोग कभी ना कभी बॉडी पेन (शरीर में दर्द) का सामना करते हैं, चाहे वह कम हो या फिर गंभीर। जैसे कि हमें अपने अनुभवों से पता चला है कि शरीर का दर्द एक असहनीय सी स्थिति होती है जिसमें व्यक्ति दर्द और बेचैनी के दौर से गुजरता है।

बेड से उठते ही क्‍यूं होता है कमर में दर्द, जानें कारण

जब शरीर में दर्द हो तो दिन के साधारण काम करना भी कठिन हो जाता है। जैसे कि गली में चलना, सीढ़ियों पर चढ़ना और यहाँ तक कि बैठना और उठना भी दूभर हो जाता है। शरीर में दर्द कैसे भी हो सकता है जैसे कि चोट से, इन्फेक्शन से, हड्डियाँ कमजोर होने से, ज्यादा व्यायाम करने से या फिर कमजोरी के कारण।

ऐसी चीज़ें जो सायटिका से पीड़ित लोग ही समझेंगे

आम तौर पर मांसपेशियों और नशों में सूजन या इन्फेक्शन होने पर यहाँ रक्त का संचार कम हो जाता है जिससे दर्द होता है। यदि सही समय पर इसका इलाज नहीं किया जाए तो यह लंबे समय तक रह सकता है और यदि इसका सही तरह इलाज नहीं किया जाये तो बड़ी स्वास्थ्य समस्याएँ हो सकती हैं जिससे हिलना डुलना भी बंद हो सकता है। बॉडी पेन के बारे में कुछ ऐसे वहम और भ्रांतियाँ हैं जिनका आपको पता भी नहीं, आइये देखें।

1. दर्द मौसम के कारण होता है

1. दर्द मौसम के कारण होता है

बहुत से लोग मानते हैं कि शरीर का दर्द सर्दियों और बारिश के मौसम में ज्यादा होता है, लेकिन कोई भी रिसर्च इस बात की पुष्टि नहीं करती कि गर्मियों में दर्द कम होता हैं और इन मौसम में ज्यादा होता है।

2. पूरी तरह आराम करने से दर्द ठीक हो जाता है

2. पूरी तरह आराम करने से दर्द ठीक हो जाता है

एक्स्पर्ट्स कहते हैं कि यदि आपके शरीर में दर्द है तो हल्के फुल्के व्यायाम और थोड़ा चलने से मांसपेशियाँ थोड़ी ढीली होती हैं जिससे दर्द कम होता है।

3. दर्द दिमाग की उपज है

3. दर्द दिमाग की उपज है

बहुत से लोग मानते हैं दर्द को अपने मन से ठीक किया जा सकता है, अपने आपको मानसिक रूप से मजबूत बना लें तो दर्द गायब हो जाता है। फिर भी, बॉडी पेन एक शारीरिक व्याधि है और इसे मेडिकल देखभाल की आवश्यकता है।

4. पेन किलर्स लेना दर्द का समाधान है

4. पेन किलर्स लेना दर्द का समाधान है

अधिकतर लोग दर्द को ठीक करने के लिए पेन किलर्स पर निर्भर रहते हैं। पेन किलर्स से दर्द केवल थोड़े समय के लिए ही ठीक होता है इसलिए फिजियोथेरेपी, एक्यूपंचर, मसाज या अन्य दर्द निवारक तरीके भी काम में लिए जा सकते हैं।

5. बूढ़े लोगों को दर्द होना आम बात है

5. बूढ़े लोगों को दर्द होना आम बात है

ऐसा कुछ भी नहीं है कि आदमी बूढ़ा है तो दर्द होगा ही होगा। चाहे कोई भी हो दर्द का तुरंत इलाज करवाना चाहिए नहीं तो स्थिति खराब हो सकती है।

6. छोटे मोटे दर्द में इलाज की क्या आवश्यकता

6. छोटे मोटे दर्द में इलाज की क्या आवश्यकता

जब कोई दर्द के बारे में कहता है तो लोग कहते हैं ये तो छोटा सा दर्द है इसमें चिंता की क्या बात है। लेकिन शरीर का दर्द कैसा भी हो इसका तुरंत इलाज करवाना चाहिए, यदि यह ज्यादा रहा तो स्थिति चिंताजनक हो सकती है।

7. पेन किलर्स की आदत पड़ जाती है

7. पेन किलर्स की आदत पड़ जाती है

आमतौर पर पेन किलर्स लेना सुरक्षित है लेकिन इन्हें कम और डॉक्टर की सलाह से लेना जरूरी है

English summary

Shocking Myths About Body Pain That You Must Not Believe!

Here are a few common myths about body pain that you must never believe in, have a look.
Please Wait while comments are loading...