बेडरुम में इस्‍तेमाल होने वाले सेक्‍स टॉयज का स्‍वास्‍थय पर पड़ सकता है बुरा असर !

आजकल लोग अपनी सेक्‍स लाइफ को इंटरेस्टिंग बनाने के लिए कई प्रयोग करते रहते है, जैसे सेक्‍सटॉय के साथ सेक्‍सुअल एक्‍सपैरिमेंट। कभी-कभी ये एक्‍सपैरिमेंट सेहत के लिए घातक भी हो सकते है।

Subscribe to Boldsky

यदि आप यौन रूप से सक्रिय हैं और अपनी सेक्स लाइफ को और अधिक आनंदायक बनाना चाहते हैं तो आपने अवश्य ही सेक्स में उपयोग में लाये जाने वाले खिलौनों का उपयोग किया होगा या कभी इनका उपयोग करने के बारे में अवश्य ही सोचा होगा, सही हैं न?

कंडोम पहनने से पहले इन 18 बातों के बारे में पढ़ ले!

खैर, सेक्स व्यक्ति के जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है क्योंकि भूख और प्यास की तरह यह भी एक मूलभूत आवश्यकता है। तो व्यक्ति जब भी यौन रूप से सक्रिय होता है तो इस बात की बहुत आवश्यकता होती है कि वह अपने बेडरूम को उत्तेजित बनाये रखे ताकि उसका साथी बोर न हो।

वे दिन गए जब सेक्स को एक ऐसा एक्ट माना जाता था जिसे अँधेरे में किया जाता था और गुप्त रखा जाता था। आजकल लोग अपनी सेक्स की आवश्यकताओं को खुले में आसानी से व्यक्त करते हैं। अत: बाज़ार में सेक्स के खिलौने भी मिलने लगे और लोग अपनी सेक्स लाइफ को आनंद दायक बनाने के लिए इन सेक्स टॉयज का उपयोग करने लगे।

हर महिला को पता होनी चाहिये फीमेल कंडोम के बारे में ये 10 बातें

दिल्डोस, वाइब्रेटर, बट प्लग्स, हैंडकफ्स, रोल प्ले कॉस्टयूम, व्हिप्स आदि कुछ लोकप्रिय सेक्स टॉयज हैं। सेक्स के लिए नियमित तौर पर उपयोग में लाये जाने वाले खिलौनों से स्वास्थ्य को होने वाले नुकसानों के बारे में जानें।

खतरा #1

खतरा #1

बार सेक्स टॉयज जैसे दिल्डोस और बट प्लग्स व्यावसायिक तौर पर नहीं बनाए जाते और ये खुरदुरे और तेज़ धार वाले हो सकते हैं जिसके कारण कट आ सकता है, जलन हो सकती है या आपका अंग भी खराब हो सकता है।

खतरा #2

खतरा #2

यदि आप सेक्स टॉयज को नियमित तौर पर साफ़ नहीं करते हैं (ऐसे टॉयज जिन्हें शरीर में अंदर डाला जाता है) तो शरीर से निकला हुआ तरल पदार्थ उन पर लगा रहता है और इससे संक्रमण हो सकता है।

खतरा #3

खतरा #3

किसी संक्रमित साथी के साथ सेक्स टॉयज शेयर करने से यौन संक्रमण से होने वाली बीमारियाँ जैसे एचआईवी, हर्पीज़ आदि होने का खतरा बना रहता है।

खतरा #4

खतरा #4

कुछ पदार्थ जैसे पीवीसी आदि का उपयोग सेक्स टॉयज को बनाने में किया जाता है जिसके कारण कुछ लोगों को एलर्जिक रिएक्शंस हो सकते हैं जिसके कारण रैशेस, जलन और सूजन हो सकती है।

खतरा #5

खतरा #5

कुछ अध्ययनों से पता चला है कि सेक्स टॉयज बनाने में कुछ ऐसे पदार्थों का उपयोग किया जाता है जिनमें कैंसर उत्पन्न करने वाले कारक होते हैं जिसके कारण इनका उपयोग करने वाले लोगों को कैंसर होने की संभावना हो जाती है।

खतरा #6

खतरा #6

कई बार ऐसे मामले भी सामने आये हैं जिनमें सेक्स टॉयज जैसे बट प्लग्स और दिल्डोस अंदर फंस गए और उन्हें निकालने के लिए डॉक्टर की सहायता लेनी पडी।

खतरा #7

खतरा #7

वाइब्रेटर जैसे सेक्स टॉयज का उपयोग करने से शरीर के उस भाग में सुन्नता और स्थाई संवेदनशीलता बढ़ जाती है, विशेष रूप से महिलाओं के क्लाइटोरिस में, जिसके कारण सेक्स का आनंद कम हो सकता है।

Story first published: Wednesday, April 5, 2017, 9:10 [IST]
English summary

7 Health Effects Of Using Intimate Toys In The Bedroom!

Have a look at some of the health hazards of using sex toys regularly, here.
Please Wait while comments are loading...