जानिये, दिवाली की रात क्‍यों खेलते हैं लोग ताश के पत्‍ते

फिर से समय आ गया है कि दीवाली में कार्ड खेले जाएं और उत्‍सव को पूरे परिवार के साथ मनाया जाएं।

Subscribe to Boldsky

हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, दीवाली की रात को ताश का खेलना बहुत शुभ माना जाता है और कहा जाता है कि इसी दिन माता पार्वती ने भगवान शिव के साथ ताश के पत्‍तों को रात भर खेला था और दोनों के बीच प्‍यार बहुत बढ़ा।

Flipkart Big Diwali Sale 2016! Get upto 80% Off Fashion apparels, Accessories & more

इससे माता पार्वती इतनी ज्‍यादा खुश हो गई थी कि उन्‍होंने कहा कि इस रात जो भी इन्‍हें खेलेगा, उसके घर बहुत समृद्धि आएगी।

समय बीतता गया और तब से लेकर आज तक इस प्रथा ने कई रूप ले लिए। वर्तमान में कार्ड पार्टी के रूप में मनाया जाता है।

पढ़ें- दीवाली स्‍पेशल: बिना शुगर के बनाइये बेक्‍ड अंजीर गुझिया


 Know the reason behind Diwali card parties

चूँकि इस दिन बहुत बड़ा त्‍यौहार भी होता है इसीलिए लोग आपस में मिलते-जुलते हैं, भोजन करते हैं और जीवन का आनंद उठाते हैं। साथ ही कार्ड खेलने से वो एक-दूसरे के साथ ज्‍यादा समय व्‍यतीत करते हैं।

diwali

कहते हैं कि घर में कार्ड पार्टी का आयोजन करने से अच्‍छा भाग्‍य और समृद्धि आती है। लक्ष्‍मी पूजा के बाद भोजन आदि करने के पश्‍चात् ही कार्ड को खेलना शुभ होता है।

laxmi

बदज रहा है ट्रेंड
इन दिनों कार्ड पार्टी का आयोजन बड़े स्‍तर पर किया जाता है। यह एक तरीके की फैमिली ब्राडिंग करने की चलन है। तीन पत्‍ती, दीवाली के दौरान खेले जाने वाले प्रसिद्ध खेलों में से एक है।

इसे परिवार और दोस्‍तों के साथ मिलकर बाजियों में खेला जाता है, यही खेल सदियों से खेलते आ रहे हैं। वैसे, इस दीवाली आपका क्‍या प्‍लान है?

Read more about: diwali, दीपावली
Story first published: Thursday, October 27, 2016, 12:48 [IST]
English summary

Know the reason behind Diwali card parties

It is that time of the year again when Diwali card parties are being held in most homes celebrating the festival. Lets know the reason behind Diwali card parties.
Please Wait while comments are loading...