जानें क्‍यूं मनाया जाता है रामनवमी का त्‍योहार

Posted By:
Subscribe to Boldsky

रामनवमी भारत में मनाया जाने वालो एक प्रमुख त्‍योहार है, जिसे हिंदुओं का भी एक बड़ा और प्रमुख त्‍योहार माना जाता है। रामनवमी का त्‍योहार हर वर्ष मार्च से अप्रैल के बीच में पड़ता है यानी "चैत्र मास शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि" को मनाया जाता है।

इस दिन मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम जी का जन्म अयोध्‍या नगरी में हुआ था। उनके जन्‍मदिन पर उत्‍तर भारत में काफी खुशी का माहौल रहता है तथा लोग इसे श्रद्धा और आस्था के साथ मनाते हैं। इस दिन लोग पवित्र नदियों में स्नान करके पुण्य प्राप्‍त करते हैं।

Significance Of Ram Navami

कहते हैं अगर रामनवमी को भगवान राम की पूजा पूरी और उपवास पूरी श्रद्धा से की जाए तो भगवान जी भक्‍त की पुकार जल्‍दी सुनते हैं। इस दिन लोग प्रात: काल स्नान करके उगते हुए सूर्य की सबसे पहले प्राथना करते हैं। सूर्य शक्ति का प्रतीक है और यह माना जाता है कि सूर्य भगवान राम के पूर्वज है।

ramnavami1

स्‍नान करने के बाद भक्‍त सारा दिन भगवान राम का स्‍मरण भजन और पूजन से करते हैं। घरों और मंदिरों में राम चरित मानस पढ़ी जाती है। इसके साथ ही भंडारे और प्रसाद को भक्तों के समक्ष वितरित किया जाता है। इस दिन काफी लोग व्रत भी रखते हैं।

ma durga

इस पर्व के साथ ही मा दुर्गा के नवरात्रों का समापन भी जुड़ा है। इस तथ्य से हमें ज्ञात होता है कि भगवान श्री राम जी ने भी देवी दुर्गा की पूजा की थी और उनके द्वारा कि गई शक्ति पूजा ने उन्हें धर्म युद्ध में विजय प्रदान की।

kanya

इस प्रकार आज के दिन दो महत्वपूर्ण त्योहारों होते हैं। कहा जाता है कि इसी दिन गोस्वामी तुलसीदास जी ने रामचरित मानस की रचना का आरंभ भी किया था।

English summary

जानें क्‍यूं मनाया जाता है रामनवमी का त्‍योहार

Ram Navami is a popular festival of India. Ram Navami is the birthday celebration of Lord Ram. This festival is usually celebrated during March-April. According to the Hindu calendar Ram Navami is the ninth day of the Chaitra month which is also the last day of Navratri.
Please Wait while comments are loading...