हाथ जिसने शिक्षा दी

Posted by:
 
सोशल नेटवर्क पर इसे शेयर करें:
  शेयर करें   ट्वीट करें   शेयर करें कमेंट करें   ई-मेल करें

The Hand That Taught
मोकुसेन हिकी तम्बा के एक प्रदेश में एक मंदिर में रहता था। उसका एक साथी उसके पास आया और अपनी पत्नी के लोभी स्वाभाव के बारे में शिकायत की। मोकुसेन ने तब अपने साथी की पत्नी से मुलाकात की।

उसने उस औरत के चेहरे के पास अपनी मुट्ठी बांधी और पूछा "अगर मेरी मुट्ठी ऐसी होती तो तुम इससे क्या समझती?"
"यह एक विकलांगता है" औरत ने कहा।

उसने फिर अपना हाथ सपाट उसके चेहरे पर रखते हुए पूछा "अगर ये ऐसा होता?"

"ये अब भी विकलांगता है पर दूसरे तरह की," औरत ने जवाब दिया। तुम एक अच्छी पत्नी हो अगर तुम इतना समझ सकती हो" मोकुसेन इतना कहकर वहां से चला गया। उसके बाद से साथी की पत्नी ने अपने पति के साथ बांटने और बचाने में सहयोग किया।

English summary

The Hand That Taught | हाथ जिसने शिक्षा दी

Read this short story, a Zen Buddhism story and an inspirational story to grasp the thought.
Please Wait while comments are loading...
Subscribe Newsletter
Boldsky ई-स्टोर