पूजा के कमरे में ना लगाएं मृत लोंगो की तस्‍वीर, नहीं तो होगा पाप

Subscribe to Boldsky

घर में पूजा का स्थान सबसे पवित्र माना जाता है। यह स्थान हमेशा साफ़ सुथरा होना चाहिए, साथ ही पूजा के कमरे में अच्छी रोशनी होनी चाहिए। इससे घर में सकारात्मकता आती है।

इतनी सारी जानकारी के बावजूद कई भारतीय पूजा के स्थान पर ऐसी बहुत सी गलतियां करते हैं जिससे घर में नकारात्मकता आती हैं।

आज यहां हम आपको ऐसे कई उदाहरण देंगे, जो आपको विचार करने पर मजबूर कर देंगे। आइये जानते हैं ऐसी ही कुछ परेशानियों के बारे में।

 मृत दादा दादी या माता-पिता की फाटोग्राफ ना लगाएं

मृत दादा दादी या माता-पिता की फाटोग्राफ ना लगाएं

पूजा घर में मृत दादा दादी या माता-पिता की फाटोग्राफ रखने की। बहुत से घरों में यह चलन है कि वे अपने स्वर्गवासी रिश्तेदारों की तस्वीर पूजा घर में रख देते हैं। वे लोग यह सोच कर यह करते हैं कि वे इन्हे सम्मान दे रहें है, और देना भी चाहिए। लेकिन शास्त्रों के अनुसार किसी भी मरे हुए व्यक्ति की तस्वीर देवी देवताओं के साथ नहीं रखी जाती है। सनातन धर्म में पूजा के स्थान पर किसी मरे हुए व्यक्ति की तस्वीर रखने को गलत माना गया है।

क्‍या कहता है हिंदू धर्म

क्‍या कहता है हिंदू धर्म

हिंदू धर्म में शरीर को नश्वर और आत्मा को अमर माना गया है। इसीलिए जब आप अपने पूवजों को सम्मान देते हैं या उनकी पूजा करते हैं तो यह आप उनकी आत्म की पूजा करते हैं। यही नहीं किसी नश्वर मनुष्य की तुलना भगवान से करना हिन्दू धर्म में गलत माना जाता है।

 वास्तु दोष भी पैदा होता है

वास्तु दोष भी पैदा होता है

इसी के साथ किसी मृत व्यक्ति की तस्वीर पूजा घर में रखने से वास्तु दोष पैदा होता है। जिससे परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य खराब होने लगता है।

इससे पूजा में ध्‍यान नहीं लगता

इससे पूजा में ध्‍यान नहीं लगता

पूजा का स्थान ऐसी जगह है जहाँ आप भगवान की पूजा करते हैं और ध्यान करते हैं। ऐसी जगह पर अपने प्रियजनों की तस्वीरें रखने से आप अपनी भावनाओं को अशांत कर देते हैं। प्रियजनों की तस्वीरें देखने से आप को दुःख होता है और आपका मन विचिलित। जिससे आप ध्यान और पूजा नहीं कर पाएंगे।

Story first published: Friday, May 12, 2017, 14:30 [IST]
English summary

You Might Be Doing This One Mistake In Your Puja Room That Is Bringing Your Harm

Indians make one very common mistake in Puja Room. Sanatam dharma strongly condemns placing of ancestors’ photos in the puja room. This can lead to several problems in life.
Please Wait while comments are loading...