बुरे दोस्‍तों को पहचानने के तरीके

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

हाल ही में हुए अध्‍ययनों से पता चला है कि जिन लोगों के दोस्‍त अच्‍छे होते हैं वह लम्‍बी आयु जीते हैं और जीवन में आने वाली हर चुनौतियों को आसानी से झेल लेते हैं। क्‍या आप अच्‍छे और बुरे दोस्‍त में फर्क करना जानते हैं? अच्‍छे दोस्‍त वह होते हैं जिनके साथ में होने से जिंदगी में अच्‍छा लगता है, वह आपको अच्‍छी और उचित सलाह देते है और आपको लाइवली फील कराते हैं।

वहीं खराब दोस्‍त, आपकी लाइफ में ढ़ेरों प्रॉब्लम ला देते हैं, वह आपके आसपास निगेटिव एनर्जी ला देते है और आपको फील गुड फैक्‍टर नहीं आता है। यहां बुरे दोस्‍तों की पहचान करने के बारे में कुछ टिप्‍स दिए जा रहे हैं ताकि आप उन्‍हे पहचानकर उनसे दूरी बना लें : -

Ways to recognise a bad friend

हावी या बॉसी होने वाले : दोस्‍त ऐसे होने चाहिए जो प्‍यार दें, स्‍नेह दें और आपको खुश रखें न कि ऐसे हों, जो हमेशा आप पर हावी रहें, सिर्फ अपनी बात मनवाने की कोशिश करें और आपसे बॉस की तरह काम करवाएं। ऐसे लोग खराब दोस्‍त होते हैं। इस प्रकार की दोस्‍ती, दोस्‍ती नहीं बल्कि तानाशाही होती है, इसलिए इस कैटेगरी के लोगों से भूल से दोस्‍ती न करें।

अपमानित करने वाले : क्‍या आपका दोस्‍त हर पल आपका मज़ाक बनाता है, हर पल आपकी कमियों का मजाक बनाकर सबसे सामने उसे पेश करता है और कभी भी आपको सही तरीके से उन्‍हे दूर का हल नहीं बताता है, या फिर वह आपको अपमानित करने का कोई मौका नहीं छोड़ता है, अगर आपकी फ्रैंडलिस्‍ट में कोई भी ऐसा है तो उसे तुरंत अपनी लिस्‍ट से आउट कर दें। वरना ऐसे दोस्‍त आपको हर छोटी से छोटी बात पर टॉचर्र करते रहेगें।

हमेशा व्‍यस्‍त रहे : क्‍या हर बार आप ही अपने दोस्‍त से बातचीत करने की पहल करते हैं, क्‍या वह कभी भी अपनी तरफ से बातचीत करने में रूचि दिखाते है...। अगर ऐसा नहीं है तो आपको संभलने की जरूरत है। एक अच्‍छे दोस्‍त को टाइम - टू - टाइम अपने दोस्‍त से मिलने का मन करता है, बातें और फीलिंग शेयर करने का मन करता है, ऐसा न होने पर आपकी दोस्‍ती सिर्फ मतलब की दोस्‍ती है। ऐसे लोगों खराब दोस्‍त की कैटेगरी में आते है।

मतलबी दोस्‍तों से दूर रहें : कुछ दोस्‍त ऐसे होते हैं जो सिर्फ मतलब पड़ने पर या काम पड़ने पर ही याद करते हैं, बाकी के दिनों में उन्‍हे खुद भी आपकी याद नहीं आती है। ऐसे मतलबी दोस्‍त, चापलूसी अच्‍छे से करना जानते है और उनके पास ढेरों एक्‍सक्‍यूजेस होते है कि वह आपको मिस करते थे, पर टाइम नहीं मिलता आदि। ऐसे लोगों से दूरी बनाएं रखने में ही भलाई है।

जलन हों : कई दोस्‍तों को आपकी सफलता से जलन होती है, उन्‍हे आपकी या आपके घर में किसी की भी प्रोगेस रास नहीं आती है, ऐसे लोग बहुत घातक होते हैं। कई बार तो यही लोग आपको नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। अच्‍छे दोस्‍त, अपने दोस्‍तों की हर सफलता पर खुश होते है और उसके साथ एंजाय करते हैं, उन्‍हे किसी भी प्रकार की ईर्ष्‍या या जलन नहीं होती है। जलन होना एक बुरे दोस्‍त का लक्षण है।

गप्‍पी हों : अच्‍छे और सच्‍चे दोस्‍त सिर्फ हंसी मजाक करते हैं, साथ में सपने संजोते है लेकिन कभी भी गप्‍प नहीं मारते है और न ही झूठ बोलते हैं। अगर कोई भी व्‍यक्ति खुद को आपका दोस्‍त बताता है और झूठ बोलता है तो वह अच्‍छा दोस्‍त नहीं है। इस खास तरीके से आप बुरे दोस्‍त को पहचान सकते हैं।

कोई भी अपने दोस्‍तों में किसी ऐसे दोस्‍त को शामिल करना पसंद नहीं करेगा, जो उसके लिए बुरा सोचता हों और हमेशा उसे नुकसान पहुंचाने के बारे में ख्‍याल करता हो। आपके लिए बेहतर होगा कि कम दोस्‍त बनाएं पर अच्‍छे बनाएं।

English summary

Ways to recognise a bad friend

Bad friends can suck the life out of you emotionally and mentally, and it is really best to cut them off. Always make sure to cleverly recognise a bad friend and never trust anyone completely on face value. Here are some signs of a bad friend that can help you get rid of them.
Please Wait while comments are loading...