जानिये क्रिसमस के तीन रंगों के अर्थ का क्‍या मतलब है

Posted By:
Subscribe to Boldsky

क्रिसमस कुछ ही दिनों में आने वाला है, ऐसे में सभी उसकी सजावट के साथ व्यस्त हैं। इस दौरान तो बच्‍चे बडे़ मन से बाजार से क्रिसमस ट्री का सजाने के लिये सजावटी सामान ले कर आते हैं और ट्री को सजाते हैं।

यह भी पढ़ें- क्रिसमस के पहले जरुर कर लें ये 6 जरुरी काम

क्रिसमस की सजावट कुछ रंगों बिना तो एक दम ही अधूरी है, जैसे लाल, हरा और गोल्‍ड। ये रंग क्रिसमस से प्रतीकात्मक तौर से जुडे़ होते हैं और इनमें कुछ गहरे अर्थ समाए होते हैं। ये तीन रंगों के बारे में जीसस क्राइस्ट ने हमें तीन शिक्षाएं दी हैं, जिसके बारे में आज हम आपको बताएंगे।

red

रंग लाल - यह रंग यीशु के खून का प्रतीक है। इसके अलावा उनका दूसरों के प्रति बेपनाह प्‍यार भी लाल रंग को दर्शाता है। वे हर किसी को अपना बेटा मानते थे और बिना शर्त के उन्‍हें प्‍यार करते थे। लाल रंग मानवता का पाठ भी पढ़ता है। यह खुशी भी प्रदान करता है क्‍योंकि जिस जगह पर ढेर सारा प्‍यार होगा वहां पर खुशी अपने आप ही आ जाएगी।

यह भी पढ़ें- देखिये क्रिसमस ट्री की अनोखी तस्‍वीरे

green

हरा रंग- हरा रंग, पेड़ और पौधों को संबोधितक करता है, जो कि इतनी सर्दी में भी अपने रंग को बरकरार रखने में कामियाब रहते हैं। ईसाई धर्म में माना जाता है कि हरा रंग प्रभू यीशु के शाश्वत जीवन का प्रतीक है। यीशु को भले ही जबरदस्‍ती मार दिया गया हो लेकिन वह आज भी हमारे दिनों में जिंदा हैं और रहेंगे भी। इसलिये हरे रंग का मतलब होता है जिंदगी।

golden

सुनहरा रंग- सुनहरे रंग का अर्थ के किसी को भेंट देना। यीशु के जन्‍म पर जो तीसरे राजा आए थे, उन्‍होंने भेंट में सोना दिया था। भगवान ने गरीब मरियम को अपने बेटे को जन्‍म देने के लिये चुना। मरियम और यूसुफ ने यीशु को बचाने के लिये सभी बाधाओं का सामना किया। यह बताता है कि हर कोई भगवान के सामने बराबर है। यह एक उपहार था, जिसे भगवान ने मानव जाति को दिया था।

Story first published: Thursday, December 8, 2016, 17:16 [IST]
English summary

Colours Of Christmas And Their Meaning

Here are colours of Christmas and their meaning. Read more about it.
Please Wait while comments are loading...