गर्भपात के बारे में प्रमुख मिथक

Subscribe to Boldsky

गर्भपात, किसी भी स्‍त्री को झकझोर देने वाली प्रक्रिया होती है जो काफी कष्‍टदायी होती है। गर्भवती महिला के भ्रुण का अपने आप खराब हो जाना, गर्भपात कहलाता है। ऐसा होने के कई कारण होते हैं - जैसे संक्रमण होना, महिला का अस्‍वस्‍थ होना आदि।

कई बार हारमोन्‍स में गड़बड़ी हो जाने के कारण भी ऐसा होता है। गर्भपात को लेकर लोगों में कई प्रकार के मिथक होते हैं। जानिए कुछ ऐसे ही मिथकों के बारे में:

3 Myths About Miscarriage That You Must Know!

1. कई लोगों का मानना है कि अगर महिला का एक बार गर्भपात हो जाता है तो वह आगे कभी मां नहीं बन सकती है। यह गलत है। विशेषज्ञों और डॉक्‍टर्स का मानना है कि पहली बार गर्भपात होने के बाद भी महिला मां बन ही सकती है।

 Miscarriage

2. कई लोगों का मानना होता है कि गर्भावस्‍था के दौरान योनि से रक्‍त निकलने का अर्थ होता है कि गर्भपात हो गया। ऐसा नहीं है कई बार रक्‍त निकलना या हल्‍की सी ब्‍लीडिंग होना, सामान्‍य बात है। प्रथम तीन महीने में ऐसी समस्‍या होती है।

Miscarriage 1

3. अगर किसी महिला का गर्भपात हो जाता है तो उससे कहा जाता है कि वह 3-6 महीने के बाद ही दूसरे बच्‍चे के लिए ट्राई करें। लेकिन हाल ही में हुए शोध के अनुसार, अगर महिला मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार है तो वह कभी भी बच्‍चे को कैरी कर सकती है।

READ: OMG: ये हैं गर्भपात से जुड़ी कुछ डरावनी बातें

READ: बार-बार गर्भपात कराने के शारीरिक नुकसान

READ: 1 महीने के अंदर घर पर ऐसे करें प्राकृतिक गर्भपात

Story first published: Thursday, June 23, 2016, 9:57 [IST]
English summary

3 Myths About Miscarriage That You Must Know!

If you are wondering if some of the things you hear about miscarriages are true or not, then you must be aware of these myths..
Please Wait while comments are loading...