बच्‍चों में कमजोर नज़र होने के 10 लक्षण

Subscribe to Boldsky

कुछ साल पहले टेलीविजन मनोरंजन का एक मात्र ज़रिया था। लेकिन समय के साथ-साथ मनोरंजन के विकल्प बढते गए। पहले बच्चे अपना अधिकतम समय कहानी सुन कर या खेल खुल कूद में बिताया करते है। परंतु आज वे टीवी देखते हुए अन्य कंप्यूटर खेल को खेल कर बिताना पसंद करते हैं।

READ: बच्‍चों के लिए सबसे अच्‍छे फाइबर युक्‍त आहार

वे अपने शरीर को बिल्कुल भी हिलाना पसंद नहीं करते। कभी-कभी वे दवा के डर से समस्या को बताते ही नहीं है। परंतु माता-पिता होने के नाते उनके स्वास्थ्य का ख्याल रखना हमारी जिम्मेदारी है।

इसलिए साल में एक बार अपने बच्चे के पूरे शरीर की जांच कराना बहुत जरूरी है। बच्चे के शरीर की तरह उनकी आंखें भी बहुत कोमल होती हैं। यदि छोटी उम्र में चश्मा लग जाए तो पूरी उम्र पिछा नहीं छोडता।

READ: बच्‍चों के लिए कम्‍प्‍यूटर गेम्‍स किस प्रकार हानिकारक होते हैं?

यदि आपको लगता है कि आपके बच्चे की नज़र कमज़ोर हो रही है। पता लगाने के लिए नीचे दिए गए लक्षणों पर ध्यान दें। यदि इन्में से कुछ लक्षण आपके बच्चे में मौजूद हैं तो तुरंत उसके आंखों की जांच कराएं।

1 आंखों को मलना

बच्चों को नींद में अपनी आंखों को मलने की आदत होती है। लेकिन, अगर आपका बच्चा दिन भर आंखे मलता रहता है तो यह एक कमज़ोर नज़र की निशानी हो सकती है।

2 सर दर्द

सर दर्द के कई कारण होते हैं। लेकिन अगर टीवी देखते हुए या पढाई करते हुए उसे सर दर्द हो रहा है या रोज शाम को सर दर्द की शिकायत हो। तब समझ लें कि आपके बच्चे को चिकित्सा की आवश्यकता है।

3 एक आंख बंद करता

यदि आपका बच्चा एक आंख बंद करके टीवी देखने लगे या वीडियो गेम खेलने लगे तब समझ जाएं कि उसे चश्मा लगने वाला है।

4 तेज़ रोशनी में पलके झपकना

क्या आपके बच्चे को उजाले से परेशानी होती है? या तेज़ रोशनी देखकर वह अपनी पलकों को तेज़ी से झपकता है? तेज रोशनी से धीमी रोशनी को ओर बढते वक्त क्या उसे धब्बे नज़र आते हैं? इन सारे लक्षणों का कारण है विटामिन की कमी। अपने बच्चे के आहार में विटामिन ए की मात्रा को बढाएं और उसे रोज सुबह गाजर का जूस पिराएं।

5 भेंगापन

कई बार बच्चे मज़ाक में भी अपनी नजरों को तिरछा करते हैं। यदि ये मज़ाक ना हो कर हर दूसरे, तीसरे दिन की आदत बनती जा रही है तो आदत की वजह को पहचाने और अपने बच्चे की आंखों का इलाज कराएं।

6 सर घुमाना

बार-बार सर घुमाना भी कमज़ोर नजर का एक लक्षण है। यदि आपका बच्चा टीवी देखते वक्त बीच-बीच में आंखों को बंद करके सर को हिलाता रहता है, तब इस लक्षण पर ध्यान दें।

7 नजदीक से देखना

यदि आपके बच्चे को दूर से कोई चीज साफ ना नज़र आए और वो उसे देखने के लिए बहुत करीब आए। तब यह सरल लक्षण, उसकी कम होती दृष्टि का संकतक है।

8 आई बॉल की गति

हालांकि, इस लक्षण को पहचानना आपके लिए थोडा सा मुश्किल हो सकता है। इस लक्षण को पहचाने के लिए बात करते वक्त आपको अपने बच्चे की आंखों को गौर से देखना होगा। यदि आई बॉल की गति में कुछ भिन्नता नज़र आए तो तुरंत एक नेत्र विशेषज्ञ से संपर्क करें।

9 लाल आंखें

नींद पूरी ना होना या नेत्रश्लेष्मलाशोथ के कारण भी बच्चों की आंखे लाल हो सकती हैं। परंतु यदि ये दो कारण मौजूद ना हो तब कमज़ोर नज़र ही इसका सही कारण होगा।

10 आंखों में दर्द

आंखों में दर्द के कारण बच्चे को आंखों में चुभन महसूस होती है तथा उसके आंखों से पानी भी आने लगता है। यदि ये लक्षण लगातार नज़र आएं तो समझे की निगाहों पर चश्मा टिकाने का वक्त आ गया है।

Story first published: Saturday, April 2, 2016, 11:10 [IST]
English summary

बच्‍चों में कमजोर नज़र होने के 10 लक्षण

If we, as parents, fail to look into our child's health, we will never get to know what they are suffering from. It is the duty of every parent to get their child's eyes, ears and a whole examination done at least once in a month.
Please Wait while comments are loading...