परीक्षा के तनाव से बच्‍चों को ऐसे दिलाएं राहत

Posted By: Super
Subscribe to Boldsky

परीक्षायें शुरू हो गई हैं और तनाव का स्तर भी बढ़ता जा रहा है। विशेषज्ञों की बच्चों के लिये यह सलाह है कि उन्हें अधिक अंक लाने का दबाव अपने ऊपर नहीं बढ़ाना चाहिये।

परीक्षाओं के दौरान बच्चों के लिये खास डाइट प्‍लान

अपने जीवन में कुछ करने के लिये तथा अच्छे लक्ष्य की प्राप्ति के लिये सामान्य पढ़ाई की आवश्यकता होती है। विशेषज्ञ माता पिता को भी सलाह देते हैं कि उन्हें अपने बच्चों को कई घण्टों तक पढ़ने के लिये बाध्य नहीं करना चाहिये क्यों इससे बच्चों को शारीरिक तथा मानसिक प्रभाव पड़ता है।

परीक्षा के पहले बच्‍चों को क्‍या खाना चाहिये

आज, बोल्डस्की यहाँ पर कुछ तथ्य रख रहा है जिन्हें हर मातापिता को अपनाना चाहिये औप बच्चों को अच्छे अंक लाने में मदद करनी चाहिये। खुद की जरूरतों से ज्यादा अपने बच्चे की जरूरत को समझें और अच्छे लक्ष्य की प्राप्ति में उसकी मदद करें।

इसलिये यदि आपका बच्चा अपने परीक्षा की तैयारी कर रहा हो तो आपको निम्नलिखित 7 बिन्दुओं पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

 वातावरण को शांत बनाये रखें –

वातावरण को शांत बनाये रखें –

अपने घर को कर्फ्यूग्रस्त इलाका न बनायें। अपने बच्चे को शांत वातावरण में पढ़ने दे जिससे कि उसे पढ़ाई में एकाग्रता बनाये रखने में मदद मिलेगी।

उन्हें कुछ अल्पविराम लेने दें –

उन्हें कुछ अल्पविराम लेने दें –

चूँकि पढ़ाई में जबरदस्त दवाव होता है इसलिये अपने बच्चे को चौबीसों घण्टे पढ़ाई के कमरे में न रहने दें। उसके लिये अल्पविराम की अवधि तय करें और उस दौरान तनाव से मुक्ति में उसकी मदद करें। पार्क में घूमना या फिर हल्के फुल्के मनोरंजन से काम चल जायेगा।

थाली में रंगबिरंगे भोज्य पदार्थ रखें –

थाली में रंगबिरंगे भोज्य पदार्थ रखें –

जंक भोज्य पदार्थों को दूर रखें और सन्तुलित तथा पोषक आहार को अपनायें। उन भोज्य पदार्थों को सम्मिलित करें जिनसे बच्चे को एकाग्रता तथा याद रखने में मदद मिलती है।

सकारात्मक सोच रखें –

सकारात्मक सोच रखें –

जब माता पिता की सकारात्मक सोच होगी तो बच्चे भी वही सीखते हैं। इसलिये यदि आप बच्चे के साथ बैठ रहे हैं और उसकी पढ़ाई में मदद कर रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि आप बच्चे में सकारात्मक सोच डालें।

 बच्चे पर दवाव न डालें –

बच्चे पर दवाव न डालें –

बच्चे की पढ़ाई की क्षमता को समझना बहुत आवशायक है। बच्चों को आवश्यक अंक के लिये दवाव डालना ठीक नहीं है। अपने बच्चे पर उसकी क्षमता से अदिक अंक लाने के लिये दबाव डालने से उसके आत्मविश्वास को समाप्त कर देगा।

 बच्चों के दोस्त बनें –

बच्चों के दोस्त बनें –

बच्चों को परीक्षा काल में मातापिता से ज्यादा दोस्त की जरूरत होती है। अगर आप अपने आप को बच्चे की जगह रख कर सोचेंगे तो आप उसकी क्षमता तथा परीक्षा के लिये तनाव का एहसास कर पायेंगे।

 बच्चों के साथ व्यायाम करें –

बच्चों के साथ व्यायाम करें –

दौड़ना, टहलना, साइकिल चालाना आदि स्वस्थ व्यायाम आप बच्चों के साथ कर सकते हैं जो कि उसके परीक्षा तनाव को समाप्त करने में सहायक होगा।

English summary

परीक्षा के तनाव से बच्‍चों को ऐसे दिलाएं राहत

Experts also advice parents not to push their children into studying for long hours, as it could affect them physically as well as psychologically.
Please Wait while comments are loading...