Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు
 
Share This Story

ब्रेस्‍टफीडिंग के पहले और बाद की देखभाल

Posted by:
Published: Monday, April 16, 2012, 16:28 [IST]

प्रसव के बाद स्‍तनपान करवाने से ब्रेस्‍ट पुराने रुप में आ जाते हैं। इसके अलावा शिशु को भी मां के दूध से कई प्रकार के पौष्‍टिक तत्‍व भी मिलते हैं, जिससे वह स्‍वस्‍थ्‍य रहता है। मां अगर शिशु को स्‍तनपान करवाती है, तो उससे मां और बच्‍चे दोनों का ही स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा रहता है। कई महिलाएं ब्रेस्‍टफीडिंग करवाना इसलिए बंद कर देती हैं क्‍योंकि उन्‍हें डर होता है कि इससे कहीं उनके स्‍तन का आकार खराब न हो जाए। पर हम आपको बताएंगे की ब्रेस्‍टफीडिंग यानी स्‍तनपान करवाते वक्‍त किस तरह से आप अपने ब्रेस्‍ट का ख्‍याल रख सकती हैं।

ब्रेस्‍टफीडिंग के पहले और बाद की देखभाल

ब्रेस्‍टफीडिंग के बाद ब्रेस्‍ट केयर

1. प्रसव के बाद मां को बहुत कसी हुई ब्रा नहीं पहननी चाहिये इससे बच्‍चे को दूध पिलाने में परेशानी आती है और साथ ही ब्रेस्‍ट पर पसीने की वजह से रैश बड़ जाते हैं, जिससे खुजली होने लगती है। इसके लिए खास किसम की सूती ब्रा, जिसमें मुलायम इलास्‍टिक लगी हो और जो आगे से खोली जा सके पहननी चाहिये।

2. दूध पिलाने के बाद स्‍तन को बेबी वाइप से पोछना चाहिये। इसके अलावा स्‍तन को नारियल तेल, बेबी लोशन या फिर बेबी ऑयल से मसाज करने से वह ढीले नहीं पड़ते। आप चाहे तो आपके स्‍तन पर लगा हुआ बच्‍चे का थूक या फिर दूध से भी मालिश कर सकती हैं, यह जर्म फ्री और प्राकृतिक होता है।

3. किसी भी जलन या खुजली को मिटाने के लिए निप्‍पल पर घी लगा सकती हैं। इसके अलावा यह फटे हुए निप्‍पल का भी आसान उपाय है।

4. कभी-कभी होता यह है कि बच्‍चे दूध पीते वक्‍त ब्रेस्‍ट का बाल उखाड़ लेते हैं, इसके लिए आपको ही हेयर रिमूविंग क्रीम दा्रा बालों को खुद साफ कर लेना चाहिये।

5. ब्रेस्‍टफीडिंग लगभग छे महीने के बाद भी चलती रहती है, उसे वक्‍त तक बच्‍चों के थोड़े दांत भी निकल जाते हैं। जिससे वह ब्रेस्‍ट पर अपने दांद भी चला देते हैं, तो इसके लिए बच्‍चे को थोड़ा सा गाइड करने की जरुरत होती है। उस जगह पर शहद लगा दें जिससे बच्‍चे अपना मुंह कहीं और न ले जाएं।

6. ब्रेस्‍ट लटके नहीं इसके लिए खास फेस मास्‍क लगाएं। यह फ्रूट मास्‍क ब्रेस्‍ट पर लगाइये और जब वह सूख जाए तब निकाल दीजिये। ध्‍यान रहे की निप्‍पल पर यह मास्‍त न लगाएं। ब्रेस्‍ट को शेप में रखने के लिए इलास्‍टिक सूती टी शर्ट वाले कपड़े पहने।

English summary

Breastfeed Breast Care | ब्रेस्‍टफीडिंग के पहले और बाद की देखभाल

Most women stop breastfeeding as they get concerned about their breasts but with a few breast care tips it would be comfortable.
Write Comments

Please read our comments policy before posting


Click here to type in Hindi
Subscribe Newsletter