... ताकि गलतियां न बन जाएं गलतफहमियां

By: MAYANK DIXIT
Subscribe to Boldsky

महज आइ लव यू बोलकर आप लव लाइफ की बाकी जि़म्मेदारियों से बच नहीं सकते। अपने पार्टनर की मुस्‍कुराहट के पीछे छिपे गम-गलतफहमियां तलाश लेना, और कुछ कहने-सुनने से पहले ही खुद को उसकी पसंद-नापसंद में ढाल लेना ही एक खूबसूरत रिश्ते की पहचान है। रिश्ता एक रेशमी डोर की तरह है, और उसे निभाने वाले उस डोर में जड़े खूबसूरत मोती। भरोसे की बुनियाद पर टिकी प्यार की मंजि़ल में उस वक्त भूकम्प आ जाता है, जब आपसी समझ और व्यवहार में संतुलन नहीं बैठ पाता।

रितिक और सोनिया गर्लफ्रेंड-ब्वायफ्रेंड के रास्ते से गुज़रते हुए अब लव-बर्ड्स बन चुके थे। जि़ंदगी में इश्क परवान चढ़ते ही जीने का अंदाज़ खुद-ब-खुद बदल जाया करता है। आपका पार्टनर किससे, किस तरह, कब और क्यूं बात करता है, ऐसे सवाल अक्सर आपके लिए ज़रूरी हो जाया करते हैं। इसी उधेड़बुन में जन्म लेती है जलन, जिसे अंग्रेजी में "जैलसी" कहा गया है। जिंदगी में हो सकते है 7 तरीके के प्‍यार

अपने फ्रेंक बिहेवियर के चलते सोनिया हर किसी से खुलकर बात शेयर करने में यकीन रखती थी। रितिक के साथ रिलेशनशिप में आने के बाद भी उसका नेचर उतना ही खुशदिल और मिलनसार रहा। जिसे सोनिया अपना फ्रेंक बिहेवियर व व्यवहारकुशलता समझती थी, उससे रोहित के दिल में जाने-अंजाने एक अजीब सी जलन पैदा होती रही। रिश्ते की मिठास में पनप रही यह कड़वाहट धीरे-धीरे यहां तक आ पहुंची कि दोनों के बीच तीखी कहासुनी हुई। ठंडे दिमाग से सोचने पर दोनों ने पाया कि उन्होंने कुछ बातों को नज़रंदाज कर एक खूबसूरत रिश्ते में गलतफहमियां खड़ीं कर लीं थीं। आपकी जि़ंदगी में भी न आ जाएं ऐसी उलझनें, ध्यान रखें कुछ बातें:

 पार्टनर को औरों से अधिक महत्व दें:

पार्टनर को औरों से अधिक महत्व दें:

महज़ आइ लव यू कहकर आप रिश्ते की बाकी जि़म्मेदारियों से बच नहीं सकते। ज़रूरी है कि आप उसे पूरी शिद्धत से निभाने की कोशिशें जारी रखें। अपने पार्टनर को बाकी लोगों के सामने भी पूरी इज्ज़त और महत्व दें। अगर बाइ चांस आप अपने लवर के साथ हैं, और कोई आपको कहीं चलने के लिए कहे, तो अचानक से हाथ छुड़ाकर न भागें। याद रखिए, जिसे आपने अपना मिस्टर या मिसेज़ पर्फेक्ट चुना है, वह आपसे भी उतनी ही अपेक्षा रखता है। पोलाइटली कनविंस करके भी आप उससे अपनी बात मनवा सकते हैं।

छोटी से छोटी बात छिपाने से बचें:

छोटी से छोटी बात छिपाने से बचें:

कहावत भी है, सांच को आंच नहीं। कोई भी विजि़ट, फोन कॉल , जैसी छोटी बातें छिपाना भी आपके पार्टनर को असहज कर सकता है। जिसे आपने अपना लवर कहने-कहलवाने का हक दिया है, उसे आपके बारे में छोटी सी छोटी बातें जानने का भी पूरा हक है। हो सकता है, आप कोई बात उसे परेशान न करने के उद्देश्य से छिपाएं, पर जब उसे खुद पता चले, तो वो आपके बारे में कोई अलग राय पाल बैठे। सब कुछ तो नहीं, पर बहुत कुछ चीजें पब्लिक रख कर आप लव लाइफ में आने वाली मुश्किलों व गलतफहमियों से लड़ सकते हैं।

बात-चीत करने से भी घुलती है मिठास:

बात-चीत करने से भी घुलती है मिठास:

गुड मॉर्निंग, गुड ईवनिंग विशेज़ करने भर से दिल की बातें शेयर नहीं होतीं। खुलकर बातचीत करने के लिए भी टाइम सैट करें। हर बात तो नहीं, पर खास बातें जरूर शेयर करें। यह न भूलें कि रिश्ते की शुरुआत मुलाकात से ही शुरु होती है, और आपकी छोटी सी छोटी बात आपके साथी के लिए बेहद मायने रखती है। कम्युनिकेशन गैप की वजह से भी कई रिश्तों में दूरियां पैदा होने लगतीं

तोहफों से बढ़ाएं रौनक:

तोहफों से बढ़ाएं रौनक:

अक्सर तोहफा शब्द आते ही बात खर्च और बजट तक सिमट कर रह जाती है। तोहफे सिर्फ वही नहीं होते, जो पैसे खर्च कर बाज़ार से खरीदे जाते हैं। कोरे कागज़ पर लिखे चंद शब्द भी एक रिश्ते के लिए अनमोल तोहफा साबित हो सकते हैं। समय-समय पर लव लैटर्स, हैंडमेड ग्रीटिंग्स से भी आप अपने पार्टनर का दिल जीत सकते हैं और अपने दिल की बात भी बेहद खूबसूरती से कह सकते हैं। जि़ंदगी में पैसे से बहुत कुछ खरीदा जा सकता है, पर जज़्बात और प्यार नहीं। छोटे से छोटा तोहफा ने केवल किसी के चहरे पर मुस्कान लाता है, साथ ही उसे उसके खास होने का एहसास भी दिलाता है।

भरोसे की डोर में शक की गांठ न लगने दें

भरोसे की डोर में शक की गांठ न लगने दें

एक अमरीकी लेखिका ने कहा है कि, प्यार में जलन खाने में नमक की तरह होती है, उचित मात्रा में हो, तो स्वाद बढ़ा देती है, और यही जैलसी हद से गुज़रने पर रिश्ते में कड़वाहट भर देती है। प्यार की फुलवारी में गलतफहमियों का सूखा पड़े, इससे पहले उसे मेलजोल व आपसी समझ से सींच डालिए। ऐसे में ज़रूरी है आप अपने पार्टनर की पसंद-नापसंद का ख्याल रखते हुए, बेहद सादगी से अपनी बात रखें। भरोसा रखें, जिस शख्स ने आपको अपनाया है, उसने आपकी कमियों-खूबियों को बेहद करीब से देखा होगा। बस भरोसे की डोर में शक की गांठ न लगने दें। ज़रा सी नोंक-झोंक तो जि़ंदगी की इस फीकी चाट का मसाला है।

रिलेशनशिप एक्‍सपर्ट का कहना है

रिलेशनशिप एक्‍सपर्ट का कहना है

"हर रिश्ता विश्वास और आपसी समझ पर निर्भर करता है। बदले की भावना न लाते हुए, आपको अपने पार्टनर की पसंद-नापसंद का ख्याल ज़रूर रखना चाहिए।" रोहित शेखर, रिलेशनशिप एक्सपर्ट। " रिश्ते में वॉचडॉग की भूमिका नहीं निभानी चाहिए। अटूट विश्वास के साथ ही थोड़ी स्पेस भी बनाए रखनी चाहिए, जिससे आपसी तनाव पैदा न हो।"

Story first published: Saturday, May 17, 2014, 11:03 [IST]
English summary

How To Solve Misunderstandings in Relationship

Being in a relationship means that you have someone who loves you, cares for you and whom you can turn up to, for any sort of help or advice. Or simply we call them our better half. But when your mistakes become misunderstandings than it is very difficult to carry a relationship and move on.
Please Wait while comments are loading...