नाकाम होते हुए रिश्ते के 5 संकेत

Subscribe to Boldsky

कहा जाता है कि रिश्तों को बनाना आसान है, लेकिन निभाना मुश्किल। वैसे आज के दौर में, विशेष रुप से लंबे समय तक चलने वाले रिश्तों को निभाना आसान नहीं है। लंबे समय तक चलने वाले सुखद संबंध दोनों पार्टनस् से लगातार प्रयासों एवं समायोजन की मांग करते हैं।

लेकिन, कभी-कभी ऐसा होता है कि आपके कितने ही प्रयासों के बावजूद, संबंधों में कोई सार्थक परिणाम दिखाई नहीं देता व फिर उस रिश्ते को एक नाकामयाब रिश्ते के अलावा और कुछ नहीं कहा जा सकता। यहां हम आपको 5 संकेतों के बारे में बता रहे हैं जो आपको यह जानें में मदद करेंगे कि अब आप दोनों के बीच ऐसा कुछ नहीं है जो इस रिश्ते को बचा सके।

Signs Of Dead-end Relationship

1 एक दूसरे का अनादर
किसी भी अच्छे रिश्ते को बनाए रखने में सम्मान एक अहम भूमिका निभाता है। फिर चाहे आपका रिश्ता रोंमांटिक हो, दोस्ती का हो या उससे बढ़कर। अगर आपको महसूस होता है कि आपका पार्टनर आपका अनादर या आपको अपमानित करता है अथवा आपको कहीं पर भी दुखी कर देता है और इसके बाद उसे इस बात का कोई पछतावा भी नहीं है, तो स्पष्ट है कि आपका रिश्ता लंबे समय तक नहीं टिक सकता। अगर वे लगातार अपनी व्यक्तिगत सीमाओं को लांघ रहे हैं, तो समझ लें कि यह रिश्ता अब मर चुका है और उनके मन में आपके लिए कोई सम्मान नहीं बचा है।

2 विपरीत गुणों वाला पार्टनर
संबंधों को बेहतर बनाने के लिए एक समझदार पार्टनर की आवश्यकता होती है, हालांकि, कहा जाता है कि विपरीत गुणों वाले व्यक्ति एक दूसरे की ओर जल्दी आकर्षित होते हैं, लेकिन यह बात लंबे समय तक चलने वाले रिश्तों पर लागू नहीं होती। अगर आप दोनों के ज़िन्दगी के मूल सिद्धांत अलग हैं, तो आकर्षण आपके रिश्ते को लंबे समय तक बनाए रखने में मदद नहीं करेगा। एक दूसरे के विपरीत गुणों से आप दोनों परेशान हो सकते हैं तथा यह आपके रिश्ते को भी कमजोर कर सकता है।

3 लगातार बहस करना
हर रिश्ते को उतार चढाव का सामना करना पडता है, और यही बहस के दौरान भी होता है। ज़ाहिर है कि दो अलग व्यक्तित्व वाले व्यक्ति होने के कारण आप दोनों की पसंद तथा अन्य कई बातों में अंतर, बहस का कारण बन जाते हैं। अगर आपकी बहस छोटी-मोटी बातों से शुरु होकर कडवाहट पर खत्म होती है और लिहाज़ की सभी सीमाओं को लांघ कर आप दोनों में निराशा का भाव उत्पन्न करती है, तो समझे कि अब इस रिश्ते से बाहर निकलने का वक़्त आ गया है।

4 एक दूसरे के लिए समय ना होना
अगर कोई रिश्ता आपके जीवन में कम प्राथमिकता रखता है, तो कोई भी करिश्मा उसकी खोई हुई ताकत को वापस नहीं ला सकता तथा वह संबंध उसी गति के साथ खत्म हो जाएगा। एक प्रतिबद्ध रिश्ते को समय एवं आदर की जरुरत होती है और इन दो बातों की कमी के साथ कोई भी रिश्ता आगे नहीं बढ़ पाएगा।

5 रिश्ते में कई रुचि ना होना

जब वे आप से कोई बात या किसी विषय पर चर्चा कर रहे हों और आपका ध्यान उनकी बातों पर ना हो, तो साफ है कि आप उनमें रुचि खो चुके हैं, साथ ही यह इस बात का प्रतीक है कि अब आप इस रिश्ते से ऊब चुके हैं। अच्छा होगा कि आप इस बात को स्वीकारें और उन्हें इसके बारे में बता दें ताकि आप इस नाकाम रिश्ते से बाहर आ सकें।

Please Wait while comments are loading...