For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

देवों के देव महादेव का आशीर्वाद पाने के लिए जरुर करें शिव आरती, हर तरह का अमंगल होगा दूर

|

ऐसा माना जाता है कि भगवान शिव को प्रसन्न करना सबसे ज्यादा आसान है। वो बहुत ही कृपालु और अपने भक्तों के प्रति दयालु हैं। इस वजह से उन्हें भोले बाबा भी कहा जाता है। शिवजी अपने भक्तों को कभी निराश नहीं करते हैं। जो जातक सच्चे मन से भोले भंडारी के दर पर जाता है वो कभी खाली हाथ नहीं आता है। शिवजी का पूजन करने से जुड़ा कोई कठोर नियम नहीं है। इनकी पूजा विधि के मंत्र भी बहुत सरल है। आप भी भगवान शिव का आशीर्वाद पाना चाहते हैं तो महादेव की आराधना के समय उनकी आरती का गान अवश्य करें। आप शिव जी की आरती सावन महीने, महाशिवरात्रि के साथ साथ हर सोमवार को भी गा सकते हैं।

जय शिव ओंकारा ॐ जय शिव ओंकारा ।

ब्रह्मा विष्णु सदा शिव अर्द्धांगी धारा ॥ ॐ जय शिव...॥

एकानन चतुरानन पंचानन राजे ।

हंसानन गरुड़ासन वृषवाहन साजे ॥ ॐ जय शिव...॥

दो भुज चार चतुर्भुज दस भुज अति सोहे।

त्रिगुण रूपनिरखता त्रिभुवन जन मोहे ॥ ॐ जय शिव...॥

अक्षमाला बनमाला रुण्डमाला धारी ।

चंदन मृगमद सोहै भाले शशिधारी ॥ ॐ जय शिव...॥

श्वेताम्बर पीताम्बर बाघम्बर अंगे ।

सनकादिक गरुणादिक भूतादिक संगे ॥ ॐ जय शिव...॥

कर के मध्य कमंडलु चक्र त्रिशूल धर्ता ।

जगकर्ता जगभर्ता जगसंहारकर्ता ॥ ॐ जय शिव...॥

ब्रह्मा विष्णु सदाशिव जानत अविवेका ।

प्रणवाक्षर मध्ये ये तीनों एका ॥ ॐ जय शिव...॥

काशी में विश्वनाथ विराजत नन्दी ब्रह्मचारी ।

नित उठि भोग लगावत महिमा अति भारी ॥ ॐ जय शिव...॥

त्रिगुण शिवजीकी आरती जो कोई नर गावे ।

कहत शिवानन्द स्वामी मनवांछित फल पावे ॥ ॐ जय शिव...॥

English summary

Lord Shiva Aarti Lyrics In Hindi

Devotees of Lord Shiva worship Him to seek His blessings. You too can worship Lord Shiva by chanting His aarti. Here are the lyrics of the aarti.