अच्‍छी सेहत के लिये बडे़ जरुरी हैं ये 7 मिनरल्‍स

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

इंसानी शरीर एक मशीन की तरह होता है। इसे चलने के लिए ईंधन की आवश्‍यकता होती है। मानव शरीर के लिए आवश्‍यक ईंधन; विटामिन, मिनरल और अन्‍य आवश्‍यक पोषक तत्‍व होते हैं। हर किसी को इनके महत्‍व के बारे में थोड़ी-बहुत जानकारी होती ही है।

Jabong Offers : Top brands clothing & Flat 60% off Discount + Paytm Cashback 10% Off

लेकिन क्‍या आपको मानव शरीर के लिए आवश्‍यक पोषक तत्‍वों के बारे में समस्‍त जानकारी है कि किस पोषक तत्‍व की शरीर में क्‍या अहमियत होती है।

पनीर की सच्‍चाई: पनीर खाने से बढ़ता है मोटापा या फिर मिलती है अच्‍छी सेहत?

बोल्‍डस्‍काई के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि शरीर की दैनिक क्रियाविधियों को सुचारू रूप से चलाने के लिए शरीर को किन-किन तत्‍वों की आवश्‍यकता पड़ती है और इन्‍हें किस स्‍त्रोत से प्राप्‍त किया जा सकता है। शरीर के लिए आवश्‍यक पोषक तत्‍व निम्‍न होते हैं:

 1. सोडियम -

1. सोडियम -

शरीर में तंत्रिका संचरण, फ्लूएड बैलेंस और मांसपेशियों के संकुचन के लिए सोडियम की आवश्‍यकता काफी ज्‍यादा होती है। सोडियम को शरीर में प्राप्‍त करने के लिए सोया सॉस, टेबल सॉल्‍ट और कुछ प्रकार की सब्जियों को सेवन करना आवश्‍यक होता है।

2. कैल्शियम -

2. कैल्शियम -

शरीर में दांतों और हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए कैल्शियम की पर्याप्‍त मात्रा होना बेहद आवश्‍यक होता है। कैल्शियम की पर्याप्‍त मात्रा शरीर में होने से मांसपेशियों में संकुचन में आराम मिलता है और प्रतिरक्षा प्रणाली भी मजबूत होती है। कैल्शियम के लिए दूध और दूध से बने उत्‍पाद और मछली का सेवन करना चाहिए।

 3. फॉस्‍फोरस -

3. फॉस्‍फोरस -

शरीर में फॉस्‍फोरस की उचित मात्रा से हड्डियों और दांतों में ताकत आती है और शरीर में मजबूती बनी रहती है। इसके लिए पोल्‍ट्री उत्‍पद, मीट और दूध का पर्याप्‍त मात्रा में सेवन करना आवश्‍यक होता है।

4. मैग्‍नीशियम -

4. मैग्‍नीशियम -

नट्स और दलहनों, हरी पत्‍तेदार सब्जियों, समुद्री भोजन और डार्क चॉकलेट व हार्ड ड्रिंक में मैग्‍नीशियम भरपूर मात्रा में होता है। इससे प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है और तंत्रिका तंत्र को भी मजबूती मिलती है।

5. आयरन -

5. आयरन -

शरीर में आयरन की पर्याप्‍त मात्रा से रक्‍त परिसंचरण पर प्रभाव पड़ता है। अगर शरीर में आयरन की पर्याप्‍त मात्रा होती है तो रक्‍त, ऑक्‍सीजन की अधिक मात्रा को शरीर में अवशोषित करता है और इससे शरीर को ऊर्जा व ताकत मिलती है। सूखी मेवा, समुद्री भोजन, हरी पत्‍तेदार सब्जियों आदि में आयरन भरपूर मात्रा में होता है।

6. आयोडीन -

6. आयोडीन -

आयोडीन, शरीर के लिए आवश्‍यक एक प्रकार का माईक्रोमिनरल होता है जो शरीर के विकास के लिए सहायक होता है और इससे उपापचय बेहतर बनता है। समुद्री भोजन, नमक, दुग्‍ध उत्‍पादों आदि में आयोडीन होता है। इसकी कमी से घेंघा रोग हो जाता है, इसीलिए आयोडिन युक्‍त नमक का सेवन करने की सलाह दी जाती है।

7. जिंक -

7. जिंक -

गर्भवती महिला के शरीर को सबसे ज्‍यादा जिंक नामक मिनरल की आवश्‍यकता होती है। इससे भ्रुण के विकास में सहायता मिलती है। शरीर में जिंक की पर्याप्‍त मात्रा होने पर यौन इच्‍छा, वीर्य उत्‍पादन और शरीर का समग्र विकास भली-भांति होता है। सब्जियों, अन्‍न, पोल्‍ट्री उत्‍पाद आदि, जिंक के स्‍त्रोत होते हैं।

English summary

Importance Of Minerals For Our Body

Minerals are a very important to our body. Read to know what are the importance of minerals to our body.
Please Wait while comments are loading...