India
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

नाश्‍ते में इन वजहों से नहीं करना चाह‍िए फलों का सेवन, जानें फल खाने का सही नियम

|

फलों का सेवन सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। फल पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। अक्सर डॉक्टर बीमार होने और शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने पर फल खाने की सलाह देते हैं। लेकिन कुछ लोग फलों को खाली पेट या नाश्ते में खाते हैं। लेक‍िन आप नहीं जानते होंगे क‍ि खाली पेट या नाश्‍ते में सिर्फ फल खाने से शरीर को कुछ परेशान‍ियां भी हो सकती हैं। आइए जान‍िए यहां-

सुबह का समय ठंडा है

सुबह का समय ठंडा है

सुबह ठंडी और नम होती है। वहीं फल ठंडे और नम भी होते हैं। और हमारे शरीर में जो ठंडा, नम और चिपचिपा पदार्थो का सेवन करने से खांसी होती है। इसलिए जब आप सुबह के समय फलों का सेवन करते हैं तो यह आपके शरीर में असंतुलित हो जाता है। इससे आपको कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

फल मीठे और ठंडे होते हैं

फल मीठे और ठंडे होते हैं

फल स्वाद में मीठे होते हैं। हमारे शरीर में मीठा-ठंडा पदार्थ खांसी का कारण बन सकता है। आयुर्वेद के अनुसार सुबह के समय हमारी पाचन अग्नि कम होती है। तो ऐसे में जब आप सुबह फलों का सेवन करते हैं तो यह आपके पेट को ठीक से नहीं पचा पाता है। क्योंकि आपकी नाड़ी को भोजन पचाने के लिए पर्याप्त अग्नि की आवश्यकता होती है। तो ऐसे में अगर आप सुबह के समय फलों का सेवन करते हैं तो उसमें अपच जैसी पेट की समस्या हो सकती है

सुबह 6 बजे से 10 बजे तक।

सुबह 6 बजे से 10 बजे तक।

यह वह समय है जब खांसी-जुकाम की संभावनाएं अपने चरम पर होती हैं। यही कारण है कि आपको अक्सर अधिक बलगम, बंद नाक, नाक और सांस लेने में परेशानी जैसी समस्या होती है। चूंकि फल ठंडे होते हैं तो ऐसे में फलों का सेवन आपकी स्थिति को और खराब करने का काम कर सकता है।

उस समय सूर्योदय

उस समय सूर्योदय

हमारा पाचन सूर्य की अग्नि की नकल करती है। प्रातःकाल सूर्य की अग्नि बहुत हल्की होती है और हमारी पाचक अग्नि भी कम होती है। जैसे-जैसे सूर्य की गर्मी बढ़ती है हमारी पाचन अग्नि भी तेज होती है। यही कारण है कि हम दिन में जो कुछ भी खाते हैं वह आसानी से पच जाता है और धूप के बाद अधिक भारी भोजन करने की सलाह नहीं दी जाती है। जब सूर्य उदय होता है तो हमारी पाचन अग्नि धीमी होती है। ऐसे में जब आप फल खाते हैं तो उन्हें पचाने के लिए पर्याप्त गर्मी नहीं मिल पाती है।

फल खाने का सबसे अच्छा समय कब है?

फल खाने का सबसे अच्छा समय कब है?

फल खाने का समय सुबह 10 बजे के आसपास का होता है, जिसे पित्त काल कहते हैं। वहीं, खाने के बाद फल खाने से बचना चाहिए। सेब को आप खाने से पहले खा सकते हैं, लेकिन खाने के बाद खाने से परहेज करें। साथ ही खाने के साथ भी खाएं।

English summary

Side Effects of eating fruits in Breakfast in Hindi

Fruits for Breakfast in Hindi: is it good to eat only fruits for breakfast? So here we are telling you reasons to avoid eating fruits in Breakfast.
Story first published: Wednesday, April 20, 2022, 9:46 [IST]
Desktop Bottom Promotion