For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

मानसून सीजन में इन सब्जियों से करें परहेज, वरना बढ़ सकता है यूरिक एसिड

|

क्या आपको आजकल जोड़ों में दर्द की शिकायत ज्यादा रहती है? या आपके पैरों की उंगलियों, एड़ियों और घुटनों में दर्द और सूजन रहती है? तो ये अलार्मिंग सेचुएशन है जो इन लक्षणों के साथ शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने के संकेत दे रही है। वैसे क्या आप जानते है कि सही समय पर यूरिक एसिड का इलाज न करवाने से किडनी और लीवर काम करना बंद कर सकते है। इसके अलावा हार्ट अटैक जैसी समस्याएं भी यूरिक एसिड बढ़ने की वजह से हो सकती है। वैसे तो यूरिक एसिड बढ़ने के कई कारण होते है, लेकिन खासकर मानसून सीजन में कुछ सब्जियों का सेवन शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा काफी ज्यादा बढ़ा देता है। तो यहां हम आपको उन सब्जियों के बारे में बताने के साथ ही यूरिक एसिड को कंट्रोल करने वाली फूड आइटम्स के बारे में बताने वाले है।

शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने का कारण

यूरिक एसिड खाद्य पदार्थों के पाचन से उत्पन्न एक प्राकृतिक अपशिष्ट उत्पाद है जिसमें प्यूरिन होता है। जब हमारे शरीर में प्यूरिन टूटता है तो यूरिक एसिड पाया जाता है। दरअसल हमारा शरीर किडनी की मदद से यूरिक एसिड को फ़िल्टर करता है और मूत्र के साथ शरीर से बाहर निकलता है। लेकिन जो लोग अपने भोजन में बहुत अधिक प्यूरिन का सेवन करते हैं, या जिनका शरीर इस यूरिक एसिड से काफी तेजी से छुटकारा पाने में असमर्थ है, उनके शरीर में इसकी मात्रा बढ़ने लगती है और ब्लड में यूरिक एसिड का निर्माण होने लगता है। हालांकि, कई मामलों में इसके बढ़ने का कारण जैनेटिक भी हो सकता है। इसके अलावा मोटापा, किडनी, डायबिटीज और कैंसर जैसी बीमारियों के कारण भी शरीर में यूसिक एसिड बढ़ जाता है। अगर यूरिक एसिड का लेवल बहुत ज्यादा हाई जाता है तो उस स्थिति को हाइपर्यूरिसीमिया के रूप में जाना जाता है। यूरिक एसिड के बढ़ने की वजह से शरीर की विभिन्न मांसपेशियों में सूजन आ जाती है, जिसके कारण दर्द होने लगता है, बल्कि कई बार ये दर्द बढ़ने पर गाउट नामक भी बीमारी हो सकती है। जो ब्लड और मूत्र को भी एसिडिक बना सकता है।

यूरिक एसिड बढ़ाने वाली सब्जियां

यूरिक एसिड बढ़ाने वाली सब्जियां

बीन्स

वैसे तो बीन्स खाने के कई सारे फायदे है। लेकिन बारिश के मौसम में इसके अधिक सेवन से यूरिक एसिड का लेवल बढ़ा सकता है। ऐसे में जो एसिड बढ़ने की समस्या से पीड़ित है, उन लोगों को बीन्स का सेवन नहीं करना चाहिए। बल्कि इसे खाने से शरीर में सूजन भी हो सकती है।

सूखे मटर

सूखे मटर

यदि आपका यूरिक एसिड बढ़ा हुआ है तो बारिश में सूखे मटर का सेवन करने की गलती हरगिज ना करें, क्यूंकि इससे यूरिक एसिड का लेवल और बढ़ सकता है। दरअसल सूखे मटर में प्यूरीन पाया जाता है, जो यूरिक एसिड को बढ़ाने का काम करता है।

बैंगन

बैंगन

बैंगन में प्यूरीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ऐसे में इसे खाने से शरीर में यूरिक एसिड का लेवल बढ़ने का खतरा और बढ़ जाता है। ये शरीर में सूजन तो लाता ही बल्कि चेहरे पर खुजली की समस्या भी बैंगन का सेवन करने से हो सकती है। इसलिए यूरिक एसिड से पीड़ित लोगों को बैंगन से दूरी बना लेनी चाहिए।

पालक

पालक

पालक वैसे तो हरी सब्जियों में सबसे बेस्ट है, लेकिन जो यूरिक एसिड से पीड़ित व्यक्ति है उनके लिए बरसात के मौसम में पालक खाना भी सही नहीं है। पालक में प्रोटीन और प्यूरीन दोनों होता है जो यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ावा दे सकता है।

मशरूम और अरबी

मशरूम और अरबी

मशरूम और अरबी भी यूरिक एसिड बढ़ाने के पीछे जिम्मेदार हो सकते है। इनमें भी प्यूरिन की मात्रा ज्यादा होती है, ऐसे में इन्हें खाने से जोड़ों में दर्द हो सकता है और यूरिक एसिड की मात्रा भी बढ़ सकती है।

क्या खाए

क्या खाए

एप्पल साइडर सिरका, चेरी, फ्रेंच बीन जूस, लो डेयरी फैट प्रोडक्ट, जामुन, ऑलिव ऑयल, पिंटो बीन्स, नींबू, अजवाइन, केला, ग्रीन टी, ज्वार, बाजरा, टमाटर, ककड़ी, ब्रोकली।

English summary

Uric acid diet: Vegetables to avoid eating in rainy season to maintain uric acid levels in the body

Although there are many reasons for the increase in uric acid, but especially in the monsoon season, the consumption of some vegetables increases the amount of uric acid in the body very much. So here we are going to tell you about those vegetables as well as food items that control uric acid.
Desktop Bottom Promotion