India
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Plastic ban from July1:आज से प्‍लास्टिक पर बैन, इन ईको-फ्रैंडली विकल्‍पों को प्‍लास्टिक से करें रिप्‍लेस

|

हमारे सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक की दिनचर्या में प्‍लास्टिक के प्रॉडक्‍ट बहुत बड़ा रोल निभा रहे हैं। जहां हम सुबह की शुरुआत प्‍लास्टिक में पैक दूध को पीकर करते हैं, वहीं प्‍लास्टिक के टिफिन में खाना पैक करके स्‍कूल या दफ्तर लेकर जाते हैं। प्‍लास्टिक न सिर्फ हमारी सेहत बल्कि हमारे पर्यावरण के ल‍िए भी नुकसानदायक है। प्‍लास्टिक से होने वाले नुकसान को देखते हुए 1 जुलाई से सिंगल यूज प्‍लास्टिक पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। हमें भी पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्‍मेदारी दिखाते हुए प्‍लास्टिक की जगह ईको फ्रैंडली प्रॉडक्‍ट को यूज में लेना चाह‍िए।

अगर आप भी अपने घर और एनवायरनमेंट को प्‍लास्टिक फ्री बनना चाहते हैं तो ? यहां कुछ लंबे समय तक चलने वाले प्लास्टिक विकल्प के बता रहे हैं जो आपकी जरुरतों को पूरा करने के साथ ही ये आपके आसपास के माहौल को प्‍लास्टिक फ्री बनाएंगे।

स्टेनलेस स्टील

स्टेनलेस स्टील

हर रोज इस्‍तेमाल होने वाली प्‍लास्टिक की बॉटल भी प्रदूषण में इजाफा करती हैं। इनकी जगह स्‍टील की बोतलों का इस्‍तेमाल करना ज्‍यादा स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक है। स्‍टेनलेस स्‍टील मजबूत होने के साथ ही इसे आसानी से साफ क‍िया जा सकता है, पानी के स्‍टोरेज के लिए सबसे अच्‍छा व‍िकल्‍प है। हाल के वर्षों में इसका उपयोग कई गुना बढ़ गया हैं। आप इस टिकाऊ धातु से सिंगल-यूज़ कप, किचन स्टोरेज, लंच बॉक्स और बहुत कुछ बदल सकते हैं।

कांच

कांच

जबकि बायोडिग्रेडेबल नहीं है, कांच सस्ता, निष्क्रिय और इसे आसानी से रिसाइक‍ल क‍िया जा सकता है। फूड स्‍टोरेज के ल‍िए कांच के जार अच्‍छे विकल्‍प है। जाम, शहद, अचार, ड्रायफ्रूटस, और बहुत कुछ कांच के जार में स्‍टोर क‍िए जा सकते हैं।

प्राकृतिक फाइबर कपड़ा

प्राकृतिक फाइबर कपड़ा

प्राकृतिक कपड़ा प्लास्टिक की थैलियों की जगह ले सकता है। कार्बनिक कपास, ऊन, हेम्‍प, या बांस से बने टिकाऊ कपड़े धोने पर प्लास्टिक की तरह रेशे नहीं छोड़ते हैं। इन्‍हें आसानी से फेल्टेड या रिसाइकिल क‍िया जा सकता है। शॉपिंग के ल‍िए प्‍लास्टिक की जगह ऊन, जूट या कॉटन के बैग्‍स को ले जा सकते हैं।

लकड़ी

लकड़ी

लकड़ी भी प्‍लास्टिक को रिप्‍लेस करने के ल‍िए नया सोर्स है। लकड़ी घरेलू सामानों जैसे ब्रश, रसोई के बर्तन और कटिंग बोर्ड में प्लास्टिक की जगह ले सकती है।

बांस

बांस

यह तेजी से बढ़ता एक ईको फ्रैंडली संसाधन हैं। टेबलवेयर और पीने के स्ट्रॉ जैसी वस्तुओं में प्लास्टिक को रिप्‍लेस क‍िया जा सकता है। यह हल्का, टिकाऊ और कम्पोस्टेबल है।

कागज़

कागज़

कुछ सालों पहले तक बहुत सी चीजें सादे कागज में पैक की जाती थीं। और जो क‍ि प्लास्टिक से बेहतर था, लेक‍िन कागज को बार-बार रिसाइक‍िल नहीं क‍िया जा सकता है। क्योंकि हर बार जब इसका पुन: उपयोग किया जाता है, तो इसका फाइबर कम हो जाते हैं, इसल‍िए इन्‍हें भी सीमित मात्रा में ही उपयोग में लेना चाह‍िए, लेकि‍न इसके अलावा एक विकल्‍प है क‍ि कागज आपके घर के खाद में डालने के लिए सुरक्षित हैं, सिर्फ चमकीले दिखने वाले कागज को छोड़कर!

बायोप्लास्टिक के बारे में क्या?

बायोप्लास्टिक के बारे में क्या?

बायोप्लास्टिक्स या बायोडिग्रेडेबल, कम्पोस्टेबल प्लास्टिक हैं जो पेट्रोलियम के बजाय प्राकृतिक पदार्थों से बने होते हैं। प्लास्टिक हमारे भोजन और हमारे घर के आसपास के वातावरण के ल‍िए हानिकारक होता है। इसल‍िए ये एक इनोवेटिव आइडिया है। जो ईकोफ्रैंडली भी है।

लेक‍िन इन्‍हें डिस्‍पोज करने के कर्मशियल सुविधाओं की जरुरत पड़ती हैं। लेक‍िन फिर भी एक्‍सपर्ट के सुझावों के साथ आप इसे डेली रुटीन की जरुरतों के ल‍िए यूज में ले सकते हैं।

नेचुरल पैकेजिंग में ईको-फ्रैंडली विकल्‍प

नेचुरल पैकेजिंग में ईको-फ्रैंडली विकल्‍प

दुन‍ियाभर में कई कंपनियां पूरी तरह से कम्पोस्टेबल (कुछ मामलों में खाद्य) पैकेजिंग पर काम कर रही हैं। इसके कुछ उदाहरण हम आपको यहां बता रहे हैं-

- मशरूम पैकेजिंग- कृषि अपशिष्ट और माइसेलियम (मशरूम की जड़) के कॉम्बिनेशन से घरेलू खाद तैयार की जाती है। मशरुम पैकेजिंग का इस्‍तेमाल बड़े तादाद में स्‍टायरोफोम पैकेजिंग की जगह की जाती है। स्‍टायरोफोम पैकेजिंग प्‍लास्टिक की तरह वातावरण को दूषित करती है। कई जगह इस तरह की पैकेजिंग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

- समुद्री शैवाल आधारित पैकेजिंग- इस तरह की पैकेजिंग और खाद्य बायोडिग्रेडेबल ग्रेड में आती है। जो पूरी तरह से ईकोफ्रैंडली है।

- पोलैंड में एक खास क‍िस्‍म की घास (Pressed hay) को अंडे के डिब्बों के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है।

- केले के पत्ते की पैकेजिंग- थाईलैंड में, जहां प्लास्टिक की समस्या संकट के अनुपात में पहुंच रही है, एक सुपरमार्केट ने केले के पत्ते और बांस की पैकेजिंग को बढ़ावा देते हुए प्लास्टिक फ्री पैकजिंग का विकल्प चुना है। केले के पते पर्यावरण के ल‍िए 100 फीसदी ईको फ्रैंडली ऑप्‍शन है।

English summary

Plastic ban from July 1 : Eco-Friendly Alternatives To Plastics In Your Everyday Life in Hindi

govt to ban single use plastic from july 1, Here are some long-lasting plastic alternatives available right now. Single Use plastic ban.
Desktop Bottom Promotion