इन 8 लक्षणों से करें पैन्क्रीऐटिक कैंसर की पहचान

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

पैन्क्रीऐटिक कैंसर पेट के निचले हिस्से में स्थित पैंक्रियाज (अग्नाशय) के ऊतकों में होता है। इसमें पैंक्रियाज में कोशिकाएं नियंत्रण से बाहर हो जाती हैं और गड़बड़ी पैदा करने लगती हैं जिसके परिणामस्वरुप कैंसर युक्त ट्यूमर हो जाता है।

पैन्क्रीऐटिक कैंसर अग्नाशय के दो महत्वपूर्ण कार्यों को गड़बड़ कर देता है- एंजाइम का स्राव जो हमारे पाचन में मदद करता है और इंसुलिन जो हमारे शरीर में शुगर बनाने में मदद करता है।

symptoms of pancreatic cancer

यह समस्या आमतौर पर 45 वर्ष से अधिक के उम्र के लोगों में ज्यादा होती है। लेकिन कभी-कभी यंग लोग भी इसकी चपेट में आ जाते हैं।

इस स्थिति में किसी प्रकार का जोखिम पैन्क्रीऐटिक कैंसर को बढ़ा सकता है। ये लक्षण आमतौर पर ज्यादा विशेष नहीं होते हैं और इसलिए लोग इन लक्षणों को पहचानने में असफल होते हैं। इन लक्षणों की जानकारी से आप अपना जीवन बचा सकते हैं।

1. पीठ के निचले हिस्से और पेट में दर्द:

1. पीठ के निचले हिस्से और पेट में दर्द:

यह पैन्क्रीऐटिक कैंसर के शुरूआती लक्षणों में से एक हैं। सामान्य तौर पर आपको पेट के ऊपरी हिस्से में तेज दर्द महसूस होगा और धीरे-धीरे यह दर्द पीठ तक पहुंच जाता है।

2. पीलिया:

2. पीलिया:

पैन्क्रीऐटिक कैंसर से पीड़ित व्यक्तियों में पीलिया होना सामान्य बात है। पीलिया के कारण व्यक्ति को पैर और हाथ, मुख्य रूप से तलवों और हथेलियों में खुजली होती है। इसमें पूरा शरीर हल्के पीले रंग का हो जाता है।

3. अचानक वजन कम होना:

3. अचानक वजन कम होना:

यह पैन्क्रीऐटिक कैंसर के मुख्य लक्षणों में से एक है। व्यक्ति का वजन तभी घटता है जब ट्यूमर शरीर के अन्य अंगों में फैलने लगता है और उनके कार्यों में गड़बड़ी पैदा करने लगता है। यह शरीर में पोषक तत्वों को सही तरीके से पचने नहीं देता है जिसकी वजह से ठीक से भूख नहीं लगती है।

4. जी मिचलाना और उल्टी आना:

4. जी मिचलाना और उल्टी आना:

मिचली आना और उल्टी होना पैन्क्रीऐटिक कैंसर के लक्षणों में से एक है। जब ट्यूमर बढ़ने लगता है तो यह पाचन तंत्र के कुछ हिस्सों को अवरुद्ध कर देता है और पाचन क्रिया को प्रभावित करता है। इसकी वजह से मिचली आने लगती है और लोगों को उल्टियां भी होने लगती हैं ।

5. पेशाब के रंग में परिवर्तन:

5. पेशाब के रंग में परिवर्तन:

पैन्क्रीऐटिक कैंसर से पीड़ित व्यक्तियों के पेशाब का रंग नारंगी, भूरा या एंबर शेड जैसा हो जाता है। शरीर में बढ़ रहा ट्यूमर पित्त (bile) को अवरुद्ध कर देता है और शरीर से निकलने नहीं देता है। इसकी वजह से शरीर में अधिक मात्रा में एकत्रित बिलीरूबिन पेशाब में आ जाता है इससे पेशाब गहरे रंग का दिखने लगता है।

6. चिकना या हल्के रंग वाला मल:

6. चिकना या हल्के रंग वाला मल:

गौर से देखने पर आप पाएंगे कि आपका मल पीला और बदबूदार हो जाता है। यह शरीर में ट्यूमर के बढ़ने की वजह से होता है जो कि पैंक्रियाज को शरीर में पाचन एंजाइम पैदा करने से रोकता है। शौच के समय ऐसे लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाकर अपनी जांच करवाएं।

7. पेट फूलना:

7. पेट फूलना:

ट्यूमर की वजह से पेट में सूजन, गैस, जलन आदि गैस्ट्रोइन्टेस्टाइल संबंधी लक्षण उत्पन्न होने लगते हैं। जब पैंक्रियाज पेट पर दबाव डालने लगता है तो व्यक्ति में ये सभी लक्षण पैदा होने लगते हैं। यह पैन्क्रीऐटिक कैंसर के शुरुआती लक्षणों में से एक है।

8. भूख की कमी:

8. भूख की कमी:

इससे पीड़ित लोगों की भूख और तेजी से कम होने लगती है। इसकी वजह से वे थोड़ा खाने के बाद भी पेट भरा महसूस करते हैं। जैसे-जैसे ट्यूमर बढ़ता है यह छोटी आंत पर उतनी ही तेजी से दबाव बनाने लगता है। इसलिए पाचन तंत्र अवरुद्ध हो जाता है और भूख कम लगने लगती है।

English summary

Early Symptoms Of Pancreatic Cancer

Symptoms of pancreatic cancer are lower back pain, abdominal pain, jaundice, etc. Read to know the top symptoms of pancreatic cancer.
Story first published: Monday, June 26, 2017, 13:45 [IST]
Please Wait while comments are loading...