For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

भजन-कीर्तन करने से बीमारियों से रहेंगे कोसो दूर, जानें कैसे भगवान को याद करना आपको रखता स्‍वस्‍थ

|

वास्तव में भजन क्या है? क्या आपने कभी सोचा है कि इसकी उत्पत्ति कहां से हुई है? भजन सुनने से हमें क्या लाभ होते हैं? क्या भजन हमें केवल शांति और आराम देती हैं या इससे अन्य लाभ भी जुड़े हुए हैं? आइए, जानते हैं भजन और कीर्तन करने और सुनने के फायदों के बारे में जानें।

संस्कृत में, भज का अर्थ है लगाव, पूजा, आदि। मूल रूप से देवता की एक गीतात्मक महिमा का गायन करना भजन है। उदाहरण के लिए, यह प्रेम को परमात्मा तक पहुंचाने का एक तरीका है। भगवान की स्तुति में भजन और कीर्तन गाना सदियों से चली आ रही पुरानी और पवित्र परंपरा है। अनिवार्य रूप से, इसके सरल मधुर गीत और राग ध्यान के समान प्रभाव डालते हैं। साधक के लिए वह परमात्मा से एक होने का मार्ग है। और यह परमात्मा तक पहुंचने का सबसे अच्छा और आसान तरीका है। आइए जानते है क‍ि कैसे भजन-कीर्तन आपके स्‍वास्‍थय में सुधार लाता है।

प्रतिरक्षा को बढ़ावा मिलता है

प्रतिरक्षा को बढ़ावा मिलता है

भजन सुनने से प्राप्त आनंद और संतोष अद्वितीय होता है। भजन सुनने और गाने से न केवल मन की शांति मिलती है बल्कि यह हमारे विचारों को बदलने में भी सक्षम है। इसके अलावा, भजन सुनने से प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने में मदद मिलती है और प्राण ऊर्जा के निम्न स्तर में वृद्धि होती है। इसके सकारात्मक कंपन चिंता को दूर करते हैं और एक अवसादरोधी के रूप में कार्य करते हैं।

फील गुड होता है

फील गुड होता है

बहुत सारे शोधों के अनुसार, यह पाया गया है कि भजन और मंत्रों को सुनने से कोशिकाओं में गतिविधि बढ़ जाती है जो फील गुड हार्मोन "डोपामाइन" रिलीज करती है। विभिन्न अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि भजन सुनने से हमारा मस्तिष्क सक्रिय होता है जो हमें अधिक विश्लेषणात्मक और चौकस बनाता है, इसलिए ज्यादातर लोग सुबह सुनना पसंद करते हैं।

सकारात्‍मकता आती है

सकारात्‍मकता आती है

इन लाभों के अलावा भजन सकारात्मक दृष्टिकोण के निर्माण में भी मदद करता है। मूल रूप से, भजन हमारे परिवेश के बारे में जागरूकता बढ़ाने की क्षमता रखते हैं और मानवीय गुणों के निर्माण में मदद करते हैं।

नींद आती है अच्‍छी

नींद आती है अच्‍छी

वेस्ट वर्जीनिया विश्वविद्यालय द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि 12 सप्ताह तक दिन में 12 मिनट भी कीर्तन का अभ्यास करने से नींद के पैटर्न में सुधार होता है, आपके मूड को बढ़ावा मिलता है, संज्ञानात्मक कार्य में वृद्धि होती है, रक्त प्लाज्मा के स्तर में वृद्धि होती है और जीवन की समग्र गुणवत्ता में सुधार होता है। ]

अवसाद की समस्‍या कम

अवसाद की समस्‍या कम

पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि आठ सप्ताह तक नियमित रूप से कीर्तन का अभ्यास करने से मौखिक स्मृति और मस्तिष्क रक्त प्रवाह में सुधार होता है, अवसाद कम होता है, और संपर्क की भावनाओं को बढ़ावा मिलता है। आखिरकार, हर कोई जानता है कि अपने पसंदीदा गीत या धुन को सुनने के बाद कितना उत्थान महसूस होता है।

English summary

Health Benefits of Chanting and Kirtan Singing in Hindi

Chanting and listening to chants for meditation empowers our mental and spiritual processes. Here we sharing the Health Benefits of Chanting and Kirtan Singing in Hindi.
Story first published: Friday, November 19, 2021, 15:30 [IST]