For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

देर रात तक वेब सीरीज देखने से हो सकती है नींद तबाह: र‍िसर्च

|

क्‍या आपको भी देर रात तक उल्‍लूओं की तरह जगकर नेटफ्लिक्स और अमेजन जैसे ओटीटी (ओवर द टॉप) प्लेटफॉर्म पर वेब सीरीज और फिल्में देखने के शौकीन हैं तो आपको सावधान हो जाना चाहिए क्योंकि इससे आपकी सेहत के साथ खिलवाड़ हो रहा है। एक अध्ययन का कहना है कि ऑनलाइन वीडियो सर्विस की वजह से भारतीयों की नींद में खलल पड़ रहा है। जिसकी वजह से नींद से जुड़ी अन्‍य बीमार‍ियां आपको बीमार कर सकती हैं। ऐसे में अगर आप नहीं चाहते कि नींद से जुड़ी बीमारियां आपको हो तो देर रात तक वेब सीरीज देखने की आदत बदल लें।

The Effect of OTT Apps, Indians Are Getting Less and Less Sleep

क्या कहता है अध्ययन?

जब से ओटीटी प्लेटफॉर्म पर सीरीज देखने का प्रचलन बढ़ा है तब से युवा देर रात तक जागने लगे हैं। ऐसे में इसका असर स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। क्योंकि देर रात तक टीवी या लैपटॉप की स्क्रीन पर बैठने की वजह से आंखें तो खराब हो ही रही हैं नींद की समस्या भी हो रही है। अब एक मोबाइल हेल्थ और फिटनेस ऐप ने इसे लेकर अध्ययन किया और बताया कि ऑनलाइन स्ट्रीमिंग सर्विस पर वीडियो देखने से भारतीयों को नींद की समस्या हो रही है।

इसके अलावा इस अध्‍ययन में एक और बात सामने आई है कि देर रात तक वेब सीरीज देखने की वजह से ऑनलाइन फूड मंगाने का भी प्रचलन बढ़ गया है। इससे ज्यादा तादाद में जंक फूड का सेवन हो रहा है और वीडियो देर तक देखी जा रही हैं। ऐसे में लोगों में निष्क्रिय बैठे रहने की आदत बढ़ रही है और नींद की समस्या पैदा हो रही है। इस अध्ययन को डाइट और फिटनेस हैबिट को समझने के लिए किया गया है। अगर आप भी काफी देर तक स्क्रिन पर वक्त बिताते हैं और देर रात तक वेब सीरीज या फिल्में देखते हैं तो आपको भी स्वस्थ रहने के लिए फौरन अपनी इस आदत में बदलाव करना होगा।

English summary

The Effect of OTT Apps, Indians Are Getting Less and Less Sleep

Sleep deprivation due to OTT platforms was the third most significant factor which made Indians unhealthy in 2019, the top two being long working hours and easy access to packaged food respectively.
Story first published: Monday, January 20, 2020, 17:40 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more