For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

थकान और चक्‍कर आना भी हो सकता है साइलेंट हार्ट अटैक का संकेत, नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी

|

आपने फिल्‍मों में देखा होगा क‍ि जब क‍िसी एक्‍टर को दिल का दौरा पड़ता है तो फर्श पर गिरने से पहले वो अपनी छाती पकड़कर, आंखें पीछे की ओर लुढ़कते हुए, गंभीर दर्द से कराह रहा होता है। हालांक‍ि ऐसे दौरे सिर्फ फिल्‍मों में ही देखने को मिलते हैं।

दिल के दौरे या हार्ट अटैक में आप जो दर्द अनुभव करते हैं वह बहुत कम नाटकीय होते हैं - और यह बिल्कुल भी दर्दनाक नहीं होता है। ज्यादातर लोग सोचते हैं कि दिल का दौरा हमेशा तीव्र होता है। लेकिन सच्चाई यह है कि कभी-कभी आप मालूम नहीं चलता हैं क‍ि क्या आपको दिल का दौरा पड़ रहा है क्योंकि संकेत सूक्ष्म हो सकते हैं और जो आप आमतौर पर सोच सकते हैं उससे भिन्न हो सकते हैं।

हार्ट अटैक यानी दिल के दौरे का दर्द इतना सूक्ष्‍म होता है क‍ि लोगों का इस तरफ ध्‍यान भी नहीं जाता है। जिसकी वजह से ये लोगों के ल‍िए खतरनाक साबित हो सकता है।

वास्तव में, 5 में से 1 दिल का दौरा किसी का ध्यान नहीं जाता है, जिसका अर्थ है कि रक्त की आपूर्ति में कमी के कारण हृदय की मांसपेशी क्षतिग्रस्त हो जाती है - लेकिन व्यक्ति को यह पता हीं नहीं लग पाता है क‍ि उसे दिल का दौरा यानी हार्ट अटैक पड़ा है। यहां हम आपको ऐसे 4 साइलेंट लक्षणों के बारे में बता रहे है जो दिल के दौरे की तरफ इशारा करते हैं।

दिल का दौरा साइलेंट कैसे हो सकता है?

दिल का दौरा साइलेंट कैसे हो सकता है?

साइलेंट हार्ट अटैक अन्‍य हार्ट अटैक की तुलना में ज्‍यादा खतरनाक होता है। आपके हृदय को कार्य करने के लिए ऑक्सीजन युक्त रक्त की आवश्यकता होती है। यदि हृदय तक रक्त ले जाने वाली धमनियों में प्लाक (जिसमें वसा, कोलेस्ट्रॉल और अन्य पदार्थ होते हैं) का निर्माण होता है, तो यह रक्त प्रवाह महत्वपूर्ण रूप से या पूरी तरह से कट सकता है। आपके हृदय में जितनी देर तक रक्त प्रवाह नहीं होगा, उतना ही अधिक नुकसान होगा। क्योंकि साइलेंट हार्ट अटैक पर किसी का ध्यान नहीं जाता है, ये काफी खतरनाक होने के साथ ही इलाज नहीं मिलने की स्थिति में इसमें जान भी जा सकती है।

1: सीने में दर्द, दबाव और असहजता

1: सीने में दर्द, दबाव और असहजता

कभी-कभी दिल का दौरा पड़ने वाला दर्द अचानक और तीव्र होता है, जिससे उन्हें पहचानना और सहायता प्राप्त करना आसान हो जाता है। लेकिन, ऐसा कुछ न हो तो क्‍या करें?

अधिकांश दिल के दौरे में वास्तव में आपकी छाती के केंद्र में केवल हल्का दर्द या बेचैनी सी होती है। जिसकी वजह से थोड़ा दबाव और असहजता भी महसूस कर सकते हैं। ये लक्षण आमतौर पर धीरे-धीरे शुरू होते हैं, और ये कुछ समय न दिखकर वापस भी नजर आ सकते हैं।

यह थोड़ा कॉम्पिलिकेटेड भी हो सकता है क्योंकि ये लक्षण कुछ कम गंभीर, जैसे हार्टबर्न से संबंधित हो सकते हैं। हालांकि, आप अपने शरीर को सबसे अच्छे से जानते हैं। यदि आपको लगता है कि कुछ ठीक नहीं है, तो आपको एक चिकित्सक की मदद लेनी चाह‍िए।

2. आपके शरीर के अन्य क्षेत्रों में बेचैनी

2. आपके शरीर के अन्य क्षेत्रों में बेचैनी

दिल का दौरा सिर्फ आपके दिल को प्रभावित नहीं करता है - आप वास्तव में अपने पूरे शरीर में प्रभाव महसूस कर सकते हैं। जिसकी वजह से आप भ्रम में आ जाते हो क‍ि आपको दिल का दौरा पड़ा भी है या नहीं। आप में दर्द या बेचैनी का अनुभव हो सकता है:

बांहे (एक या दोनों)

कमर

गर्दन

जबड़ा

पेट

ये लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में अलग हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, कुछ लोग दिल का दौरा पड़ने से अपने पीठ दर्द के चारों ओर एक रस्सी बंधी हुई महसूस करते है। कुछ लोग पीठ पर भारी दबाव भी महसूस कर सकते हैं। किसी भी तरह, अगर आपको लगता है कि आप दिल के दौरे के इन कम दिखने वाले लक्षणों में से किसी का अनुभव कर रहे हैं, तो इन्‍हें अनदेखा न करें।

सांस लेने में कठिनाई और चक्कर आना

सांस लेने में कठिनाई और चक्कर आना

यदि आपको ऐसा लगता है कि आपने अभी-अभी मैराथन दौड़ लगाई है, लेकिन आप केवल सीढ़ियां चढ़े हैं, तो यह भी एक संकेत हो सकता है कि आपका हृदय आपके शरीर के बाकी हिस्सों में रक्त पंप करने में सक्षम नहीं है। सीने में दर्द के साथ या बिना सांस की तकलीफ हो सकती है, और यह साइलेंट हार्ट अटैक का एक सामान्य संकेत है।

आपको चक्कर भी आ सकते हैं और यह संभव है कि आप बेहोश हो सकते हैं। हालांकि यह पुरुषों और महिलाओं दोनों को हो सकता है, लेकिन साइलेंट हार्ट अटैक में महिलाओं को सांस की तकलीफ का अनुभव होना आम बात है।

यदि आपको ऐसे कार्यों में परेशानी हो रही है जो पहले जो बहुत आसान थे, जैसे कि बिस्तर बनाना या कुत्ते को टहलाना, तो इसके बारे में जरुर मालूम करें क‍ि कहीं यह दिल का दौरा पड़ने का सूक्ष्म संकेत तो नहीं है, तो आप इसकी जांच करवा लें।

मतली और ठंडा पसीना

मतली और ठंडा पसीना

ठंडे पसीने में जागना, जी मिचलाना और उल्टी होना फ्लू के लक्षण हो सकते हैं, लेकिन ये साइलेंट हार्ट अटैक के लक्षण भी हो सकते हैं।

आपको मालूम होगा कि फ्लू होने पर आपको कैसा महसूस होता है क्योंकि फ्लू होना सामान्‍य सा है, लेकिन जब आपकों लगे क‍ फ्लू जैसे लक्षण कुछ अधिक गंभीर हैं, तो सुनें। इन लक्षणों को फ्लू, तनाव, या बस मौसम के तहत महसूस करने तक ही न समझे - वे इससे कहीं अधिक गंभीर हो सकते हैं।

बचाव

बचाव

सबसे पहले दिल के दौरे को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपने दिल की जांच करवाएं और अपने जोखिम को अन्य तरीकों से कम करें जैसे कि आपके रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को आपके दिल के लिए अच्छे स्तर पर रखना।

फैक्‍ट

अमेरिका में हर 40 सेकंड में एक व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ता है।

लगभग 800,000 अमेरिकियों को हर साल दिल का दौरा पड़ता है।

4 में से 3 हार्ट अटैक पहला हार्ट अटैक होता है।

5 में से 1 दिल का दौरा साइलेंट होता है - आप नहीं जानते कि आपको एक दिल का दौरा पड़ रहा है।

English summary

What are the silent signs of a heart attack in Hindi

Here we talking about the list of silent signs of a heart attack in Hindi. Read on.
Story first published: Wednesday, September 15, 2021, 16:35 [IST]