For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

May 2021 Festivals List: इस महीने में आएंगे अक्षय तृतीया, ईद, बुद्ध पूर्णिमा जैसे बड़े त्योहार

|

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार साल का पांचवा महीना मई शुरू हो चुका है। व्रत और त्योहारों के लिहाज से ये महीना बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। पंचांग के अनुसार इसे वैशाख माह कहा जाता है। इस महीने में आने वाले व्रत और त्योहारों का खास महत्व बताया गया है। स्कंद पुराण में इस बात का जिक्र मिलता है कि वैशाख माह में आने वाले व्रत और त्योहारों का विधिपूर्वक पालन करने से जीवन में सुख समृद्धि का वास बना रहता है। इस लेख के माध्यम से जानते हैं मई के महीने में कौन कौन से प्रमुख व्रत और त्योहार आने वाले हैं और उनकी सही तिथि क्या है।

3 मई 2021: कालाष्टमी

3 मई 2021: कालाष्टमी

कालाष्टमी का दिन कालभैरव को समर्पित है। यह हर माह कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दिन मनाया जाता है। इस दिन जातक काल भैरव की कृपा पाने के लिए उपवास करते हैं।

7 मई 2021: वरूथिनी एकादशी

7 मई 2021: वरूथिनी एकादशी

हिंदू कैलेंडर के अनुसार, वैशाख महीने की कृष्ण पक्ष की एकादशी को वरुथिनी एकादशी कहा जाता है। एकदशी की तिथि भगवान विष्णु की प्रिय मानी जाती है। इस दिन भक्त उनकी कृपा पाने के लिए व्रत तथा विधिवत पूजा करते हैं।

8 मई 2021: शनि प्रदोष व्रत

8 मई 2021: शनि प्रदोष व्रत

इस माह शनि प्रदोष व्रत 8 मई को रखा जाएगा। हिंदू पंचांग के अनुसार हर महीने की त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत रखा जाता है। भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए ये उत्तम दिन है।

9 मई 2021: मासिक शिवरात्रि

9 मई 2021: मासिक शिवरात्रि

साल 2021 के वैशाख महीने की मासिक शिवरात्रि 9 मई को पड़ रही है। महाशिवरात्रि का महत्व तो सभी जानते हैं लेकिन हर महीने पड़ने वाली मासिक शिवरात्रि की महत्ता भी कम नहीं है। इस दिन भोलेनाथ की पूजा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है।

11 मई 2021: वैशाख अमावस्या

11 मई 2021: वैशाख अमावस्या

वैशाख माह के कृष्ण पक्ष की अंतिम तिथि को वैशाख अमावस्या कहा जाता है। अमावस्या के दिन धार्मिक कर्म, मंत्र जाप, पूजा-पाठ तथा स्नान दान करना चाहिए। वैशाख अमावस्या 11 मई को है।

12 मई 2021: ईद-उल-फितर

12 मई 2021: ईद-उल-फितर

इस्लाम धर्म को मानने वाले लोगों के लिए ईद-उल-फितर ख़ास पर्व है। रमजान के पूरे महीने रोजा रखने के बाद चांद देखकर ये पर्व मनाया जाता है। इस साल मीठी ईद 12-13 मई को मनायी जाएगी।

14 मई 2021: परशुराम जयंती, अक्षय तृतीया

14 मई 2021: परशुराम जयंती, अक्षय तृतीया

14 मई को परशुराम जयंती मनायी जाएगी। परशुराम जी भगवान विष्णु के छठे अवतार थे और वो साथ चिरंजीवी में से एक माने जाते हैं। इसी तारीख को अक्षय तृतीया का पर्व भी मनाया जाएगा। इस दिन सोना खरीदना शुभ माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि अक्षय तृतीया के दिन ही परशुराम जी का जन्म हुआ था।

15 मई 2021: विनायक चतुर्थी

15 मई 2021: विनायक चतुर्थी

विनायक चतुर्थी का पर्व 15 मई, शनिवार के दिन मनाया जाएगा। हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक महीने की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को विनायक चतुर्थी के नाम से जाना जाता है। इस दिन भगवान गणेश की पूरे विधि विधान से पूजा की जाती है।

18 मई 2021: गंगा सप्तमी

18 मई 2021: गंगा सप्तमी

ऐसी मान्यता है कि वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि के दिन ही गंगा माता स्वर्ग लोक से भगवान शिव शंकर की जटाओं में पहुंची थी इसलिए यह दिन गंगा जयंती या गंगा सप्तमी के रूप में मनाया जाता है।

21 मई 2021: सीता नवमी

21 मई 2021: सीता नवमी

ऐसी मान्यता है कि वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को माता सीता प्रकट हुई थीं। यह दिन जानकी नवमी या सीता नवमी के रूप में जाना जाता है। इस दिन भक्त माता सीता की आराधना और विशेष पूजा करते हैं।

22 मई 2021: मोहिनी एकादशी

22 मई 2021: मोहिनी एकादशी

इस साल मोहिनी एकादशी 22 मई को पड़ रही है। यह वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को पड़ता है। इस एकादशी का व्रत करने से व्यक्ति का कल्याण होता है।

24 मई 2021: सोम प्रदोष व्रत

24 मई 2021: सोम प्रदोष व्रत

हर महीने की त्रयोदशी तिथि के दिन प्रदोष व्रत रखा जाता है। इस बार प्रदोष व्रत सोमवार के दिन पड़ रहा है इसलिए इसे सोम प्रदोष व्रत कहा जाएगा। यह दिन भगवान भोलेनाथ को समर्पित है।

25 मई 2021: नरसिंह जयंती

25 मई 2021: नरसिंह जयंती

नरसिंह को भगवान विष्णुजी का चौथा अवतार कहा जाता है। वह प्रहलाद की रक्षा करने तथा हिरण्कश्यपु का वध करने के लिए इस रूप में आए थे। हर साल वैशाख मास शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि को नरसिंह जयंती मनाई जाती है।

26 मई 2021: बुद्ध पूर्णिमा, बैसाख पूर्णिमा, चंद्र ग्रहण

26 मई 2021: बुद्ध पूर्णिमा, बैसाख पूर्णिमा, चंद्र ग्रहण

इस साल बुद्ध पूर्णिमा 26 मई, बुधवार को मनायी जाएगी। मान्यता है कि इसी दिन भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था। वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की अंतिम तिथि को वैशाख पूर्णिमा कहा जाता है। 26 मई को ही साल 2021 का पहला चंद्र ग्रहण लगने वाला है।

27 मई 2021: नारद जयंती

27 मई 2021: नारद जयंती

हिंदू पंचांग के अनुसार, हर साल ज्येष्ठ महीने के कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि के दिन नारद जयंती मनायी जाती है। इस वर्ष नारद जयंती 27 मई को पड़ रही है।

English summary

Festivals and Vrats in the Month of May 2021

To know about those festivals that will be celebrated in May month, check out this article.