For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Kharmas 2021: जानें कब से शुरू हो रहा है खरमास, शादी-विवाह पर लग जाएगी ब्रेक

|

शादी-विवाह जैसे मांगलिक कार्यों के लिए शुभ दिन और मुहूर्त देखना बहुत जरूरी माना जाता है। हिंदू धर्म में कुछ ऐसे विशेष समय होते हैं जब हर तरह के मांगलिक कार्यों पर रोक लग जाती है। चातुर्मास के समय में भगवान विष्णु चार महीने के लिए क्षीर सागर में विश्राम के लिए चले जाते हैं। इस समय में कोई भी शुभ काम नहीं होते हैं। ठीक इसी तरह मलमास अथवा खरमास का समय होता है जब कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित होता है। जानते हैं इस साल मलमास कब से शुरू हो रहा है और फिर से कब शेहनाई की गूंज सुनाई दे सकेगी।

दिसंबर 2021 में खरमास की तिथि

दिसंबर 2021 में खरमास की तिथि

इस बार सूर्य 16 दिसंबर 2021 से धनु राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं। इसके साथ ही खरमास की शुरुआत हो जाएगी। खरमास का ये समय 14 जनवरी 2022, शुक्रवार तक रहेगा। इसके बाद से दोबारा विवाह के शुभ कार्यों की शुरुआत हो जाएगी।

कब लगता है खरमास?

कब लगता है खरमास?

सूर्य देव जब भी धनु और मीन राशि में प्रवेश करते हैं तभी खरमास लगता है। सूर्य जब किसी राशि में गोचर करते हैं तब वहां एक महीने का समय बिताते हैं। सभी राशियों में घूमते हुए जब सूर्य धनु और मीन राशि में जाते हैं तब उनका तेज कम हो जाता है। यह कारण है कि इस अवधि में किसी भी तरह के शुभ कार्य वर्जित बताये गए हैं।

खरमास में नहीं किए जाते शुभ कार्य, पूजा-पाठ का होता है विशेष महत्व

खरमास में नहीं किए जाते शुभ कार्य, पूजा-पाठ का होता है विशेष महत्व

खरमास के समय में विवाह जैसे मांगलिक कार्यों की मनाही होती है। इस दौरान गृह प्रवेश, मुंडन, नामकरण, गृह निर्माण, आदि भी वर्जित होते हैं। हालांकि पूजा-पाठ और दान जैसे पुण्य कार्य अवश्य किए जा सकते हैं।

English summary

Kharmas 2021: Date, Time, History, Importance in Hindi

Kharmas is a month mentioned in the Hindu calendar. As per the beliefs, the month of Kharmas is inauspicious.