For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

लखनऊ के 20 नवाबी जायके जिन्‍हें खाने के बाद आप भी कहेंगे वाह जनाब

|

लखनऊ केवल बडे़-बडे़ नावाबों के नाम से ही नहीं बल्‍कि यहां के खानपान की शैली की वजह से ज्‍यादा मशहूर है। अगर आप हार्ड-कोर नॉन वेजिटेरियन हैं, तो आपको यहा विभिन्न तरह की बिरयानियां, कबाब, कोरमा, नाहरी कुल्चे, शीरमाल, ज़र्दा, रुमाली रोटी और ऐसे ही हजारों किसम की वैराइटियां मिल जाएंगी।

READ MORE: जिंदगी में एक बार जरुर खाएं ये 10 बिहारी व्यंजन

अगर आप लखनऊ आए हैं और यहां के अकबरी गेट पर मिलने वाले मशहूर टुण्‍डे के कबाब नहीं खाए तो समझिये आपका लखनऊ आना बेकार गया। ऐसा नहीं है कि लखनऊ में केवल नॉन वेज डिश ही फेमस है। यह शहर शाकाहारियों के लिये भी किसी जन्‍नत से कम नहीं है।

READ MORE: मुँह में पानी लाने वाले 20 स्ट्रीट फ़ूड

लखनऊ की चाट देश की बेहतरीन चाट में से एक है। आलू टिक्की, दही बड़े, मटर के कबाब, मक्‍खन मलाई, कुल्‍फी फालुदा, बास्‍केट चाट और छोले भटूरे आदि... कुछ नामों में से एक हैं। तो अगर आपका कभी नवाबों के शहर आना हो जाए, तो खुद को यहां पर दावत देना ना भूलें। लखनवी पान यहां की संस्कृति का अभिन्न अंग है। इसके बिना लखनऊ अधूरा लगता है।

1. गिलौटी कबाब

1. गिलौटी कबाब

यह लखनऊ का सबसे प्रसिद्ध कबाब है। इसे उस समय निजात किया गया जब नवाबों को लगने लगा कि अब उनके दांत कमजोर हो चुके हैं और अब वह किसी भी कठोर मांस के टुकड़े को चबा पाने में असमर्थ हैं। तब उन्‍होनें अपने खास शाही बावर्ची को निर्देश दिया कि वह उनके लिये कोई ऐसी चीज़ बनाए जो मुंह में डालते ही गल जाए। तभी इस गिलौटी कबाब का निजात हुआ और इसका नाम पड़ा गिलौटी कबाब।

2. बोटी कबाब

2. बोटी कबाब

यह फेमस मुगलई पकवान पाकिस्‍तान में भी पॉपुलर है। मटन के पीस को लगातार आंच पर पकाने के बाद इस जाकेदार कबाब को तैयार किया जाता है। इसे खाने के बाद आप उंगलियां चाटते रह जाएंगे।

3. टुंडे कबाब

3. टुंडे कबाब

लखनऊ आए और टुण्‍डे कबाब नहीं खाया तो क्‍या खाया आपने। टुण्‍डे का मतलब है विकलांग। यानी जिस व्यक्ति ने इस कबाब को पहले बनाया था वह एक विकलांग व्‍यक्‍ति था। टुंडे कबाब बनाने के लिये लगभग 100 प्रकार के मसालों का प्रयोग किया जाता है। यह इतने मुलायम होते हैं कि मुंह में जाते ही घुल जाते हैं। आज टुंडे कबाब इतना फेमस हो चुका है कि बैंगलोर में भी इसकी एक शाखा खोल दी गई है।

Source: Lucknow Eats

 4. मटन सीख-कबाब

4. मटन सीख-कबाब

अमीनाबाद और चौंक की छोटी छोटी दुकानों पर आपको मटन के सीख कबाब बिकते हुए मिल जाएंगे। यह सीख कबाब देखने में काफी सिंपल होते हैं मगर इनका टेस्‍ट काफी लाजवाब हेाता है। आपको यहां मटन और चिकन दोनों के ही कबाब मिल जाएंगे।

5. चिकन शामी कबाब

5. चिकन शामी कबाब

चिकन तथा चना दाल को पीस कर यह कबाब तैयार किया जाता है। इसमें ढेर सारे सुगन्‍धित मसाले और अंडा भी डाला जाता है, जिससे यह क्रिस्‍पी और टेस्‍टी बन जाता है। इसे लच्‍छेदार प्‍याज और रोटी के साथ खाया जाता है।

Source: www.banaraskakhana.com

6. लखनवी बिरयानी

6. लखनवी बिरयानी

मटन बिरयानी यहां के रग-रग में बसती है। मसलों के साथ पहले पके हुए चावल को जब पहले से मैरीनेट किये मटन में मिक्‍स किया जाता है, तब जा कर तैयार होती है लखनवी बिरयानी। बिरयानी पकाने का अंदाज यहां पर सबसे जुदा माना जाता है। यहां कि बिरयानी खाने के बाद आपको कहीं और कि बिरयानी पसंद ही नहीं आएगी।

Source: thewindowsilltales.wordpress.com

7. तंदूरी चिकन

7. तंदूरी चिकन

चिकन का नाम सुन कर हर किसी के मुंह में पानी आ जाता है। और अगर कहीं तंदूरी चिकन की बात हो जाए तो वाह भाई वाह कहने ही क्‍या। इस पर लगा दही, क्रीम, मसाले और नींबू का पेस्‍ट मानों इसमें और जान छिड़क देते हैं। लखनऊ की गलियों में आपको तंदूरी चिकन बिकता हुआ आसानी से दिख जाएगा। इसे स्‍टार्टर के रूप में खाया जाना पसंद किया जाता है।

Source: thewindowsilltales.wordpress.com

 8. पाया की निहारी

8. पाया की निहारी

लखनऊ के पाया की निहारी एक ऐसी जबरदस्त डिश है जिसे रात में 6 से 7 घंटों तक धीरे-धीरे धीमी आंच पर पकाया जाता है। नाहर एक उर्दू शब्द है जिसका अर्थ होता है सुबह और इसीलिए ये डिश सुबह-सुबह लखनऊ में धड़ल्ले से बिकता है। निहारी को कुल्‍चे के साथ खाया जाता है।

9. हांडी चिकन

9. हांडी चिकन

नाम से ही पता चल जाता है कि यह चिकन एक मिट्टी की हांडी में पकाया जाता होगा। वैसे तो यह डिश आजमगढ़ से फेमस हुई थी मगर वही स्‍वाद आपको लखनऊ के गोमती नगर और बादशाह नगर के इलाके में भी मिल जाएगा। कोयले की धीमी आंच पर पकाया हुआ चिकन आप शीरमाल के साथ खा सकते हैं।

 10. काकोरी कबाब

10. काकोरी कबाब

लखनऊ की डिनर पार्टियों में काकोरी कबाब को विशेष स्‍थान प्राप्‍त है। पिसे हुए मटन को लोहे की क्षणों में डाल कर ऊप से गुलाबी की पंखुडियों का पावडर और अन्‍य मसाले लगा कर आग में ग्रिल्‍ल कर के पकाया जाता है।

11. ज़र्दा पुलाव

11. ज़र्दा पुलाव

ज़र्दा शब्‍द उर्दू शब्‍द जर्द से लिया गया है, जिसका नाम होता है पीला। इसलिये यह पुलाव पीले रंग का होता है। यह मीठा पुलाव बासमती चावल, शक्‍कर, मेवे और केसर को डाल कर बनाया जाता है। शादियों में यह एक पॉपुलर डेजर्ट के रूप में खाया जाता है।

Source: indiansweetsrecipesimages.blogspot.in

12. शीरमाल

12. शीरमाल

इस रोटी को केसर, दूध, मैदे और घी से तैयार किया जाता है। नारंगी कलर की दिखने वाली शीरमाल अपने बनाने और दिखने के ढंग से काफी प्रचलित है।

Source: www.thealternative.in

 13. प्रकाश की कुल्‍फी

13. प्रकाश की कुल्‍फी

अमीनाबाद की प्रकाश की कुल्‍फी खाने के बाद आप सारी थकान भूल जाएंगे। प्रकाश की कुल्‍फी पूरे लखनऊ में प्रसिद्ध है। यह फालूदा कुल्‍फी आपको बिल्‍कुल ठंडी सर्व की जाएगी जिसके अनेक फ्लेवर होते हैं।

Source: tipini.com

14. लखनवी पान

14. लखनवी पान

भारी खाना खाने के बाद यहां हर कोई रसीले पान का स्‍वाद जरुर चखता है। लखनवी पान का स्‍वाद पूरे भारत में प्रसिद्ध है। इस पान में आपको गुलकंद डाला हुआ मिलेगा जो इसे मीठा बनाता है।

15. बास्‍केट चाट

15. बास्‍केट चाट

लखनऊ से अच्‍छी चाट आपको और कहीं नहीं मिल सकती, खासतौर पर बास्‍केट चाट। यह चटपटी चाट खास मसालों, मीठी दही, खट्टी मीठी इमली की चटनी, मटर और आलू भर कर तैयार की जाती है। इसके लिये बास्‍केट यानी टोकरी को भी अलग से पका कर तैयार किया जाता है। एक बास्‍केट चाट खा लेने से पेट लंबे समय तक भरा रहता है। रॉयल कैफे की बास्‍केट चाट जरुर खाएं।

16. मक्‍खन मलाई

16. मक्‍खन मलाई

सर्दियों की सुबह मक्‍खन मलाई का आनंद ले कर मानों जन्‍नत नसीब हो जाती है। यह मलाई देखने में बर्फ की तरह और छूने में रूई की तरह लगती है, जिसे मुंह में डालते ही यह घुल जाती है। लखनऊ में तो यह बच्‍चों की सबसे फेवरेट चीज हैं।

Source:tipini.com

17. लस्सी

17. लस्सी

लखनऊ घूमने आएं तो चौक बाजार स्थित श्री के यहां लस्सी जरूर ट्राई कीजिये। लस्‍सी आपको पूरे लखनऊ में मिल जाएगी। मलाईदार लस्सी पी कर आपका पूरा दिन बना जाएगा।

बाजपई की कचौड़ी, पूड़ी और छोले

बाजपई की कचौड़ी, पूड़ी और छोले

लखनऊ में लीला सिनेमा के पास बाजपई के खस्‍ते, कचौड़ी और छोले आपको दूर से ही देखने को मिल जाएंगे। ये लोग अपनी ही स्‍टाइल से पूड़ी और खस्‍ते बनाते हैं, जिसमें सौंफ, भुना मसाला, गरम मसाला, जीरा, काली मिर्च, घी और घर का बनाया हुआ मसाला डालते हैं। आपको जानकर खुशी भी होगी कि इनकी दुकान पर पहले गुल्‍शन कुमार, विनोद दुआ और पूर्व प्रधान मंत्री श्री अटर बिहारी बाजपई तक भी आ चुके हैं।

Source: yummraj.files.wordpress.com

दही बताशे

दही बताशे

मीठा खाने के शौकीनों को पानी वाले बदाशे कम और दही से भरे बताशे ज्‍यादा पसंद आते हैं। आपको यहां की बड़ी और छोटी सभी दुकानों पर दही के बताशे हर वक्‍त मिल जाएंगे। मीठी दही से भरे ये इन बताशों का किसी से मुकाबला करना गलत है।

Source: www.eatstory.in

20. मलाई गिलोरी

20. मलाई गिलोरी

यह मिठाई बेहद स्‍वादिष्‍ट और मखमल की तरह मुलायम है, जिसे मुंह में डालते ही घुल जाएगी। लखनऊ में यह छप्‍पन भोग, राम आसरे या राधे लाल की मिठाई की दुकान पर मिल जाएगी। मीठा खाने के शौकीन लोगों को यह जरुर ट्राई करनी चाहिये।

English summary

20 Mouth watering dishes from Lucknow you must try

The Land of Nawabs and Awadhi cuisine, Lucknow is a total foodie's paradise! Here are 20 mouthwatering dishes that you just cannot miss when in Lucknow.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more