For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Republic Day 2022: जानिए हर भारतवासी के लिए क्यों महत्वपूर्ण है गणतंत्र दिवस

|

भारत में 26 जनवरी को प्रतिवर्ष गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। इस खास दिन पर भारत एक संप्रभु गणराज्य बन गया। इस खास दिन को चिन्हित करने के हर साल गणतंत्र दिवस मनाया जाता है, और हर भारतवासी देशभक्ति में सराबोर हेता है। लेकिन कुछ समय से कोविड-19 के संक्रमण के को देखते हुए आवश्यक सभी सावधानियां बरती जा रही हैं। बता दें कि साल 1950 में इस दिन भारत सरकार अधिनियम (1935) की जगह भारत का संविधान लागू हुआ था। चूंकि गणतंत्र दिवस बस आने को है तो क्यों ना एक बार फिर से इस ऐतिहासिक दिन के इतिहास और महत्व की यादों को ताजा करते हैं-

गणतंत्र दिवस 2022: इतिहास और महत्व

गणतंत्र दिवस 2022: इतिहास और महत्व

भारत ने 15 अगस्त 1947 को एक संवैधानिक राजतंत्र के रूप में अपनी स्वतंत्रता प्राप्त की। हालांकि, फिर भारत के पास एक स्थायी संविधान नहीं था। इसके बजाय, इसके कानून औपनिवेशिक भारत सरकार अधिनियम 1935 पर आधारित थे। इसलिए, 29 अगस्त, 1947 को एक स्थायी मसौदा तैयार करने के लिए मसौदा समिति की नियुक्ति के लिए एक प्रस्ताव पेश किया गया था, जिसमें डॉ बीआर अंबेडकर चेयरमैन नियुक्मत किए गए। संविधान को बनाने में करीबन 2 साल 11 महीने 18 दिन का वक्त लगा। जिसके बाद, 26 नवंबर 1949 को समिति ने संविधान सभापति को सौंपा। लेकिन देश में इसे आधिकारिक तौर पर दो महीने बाद लागू किया गया था।

दरअसल, लाहौर कांग्रेस अधिवेशन में पहली बार पूर्ण गणराज्य का प्रस्ताव पेश किया गया था। साथ ही साथ 26 जनवरी 1930 का दिन पूरे राष्ट्र में प्रथम स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाने का निश्चय भी किया गया। इस लिहाज से 26 जनवरी की तारीख बेहद खास थी और इसकी महत्ता को आने वाली पीढ़ी भी याद रखे, इसके लिए 26 जनवरी के दिन संविधान लागू किया गया। 26 जनवरी 1950 को देश के पहले राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद ने 21 तोपों की सलामी के साथ ध्वजारोहण कर भारत को पूर्ण गणतंत्र घोषित किया। साथ ही साथ, 26 जनवरी, 1950 को, डॉ राजेंद्र प्रसाद ने भारतीय संघ के अध्यक्ष के रूप में अपना पहला कार्यकाल शुरू किया।

गणतंत्र दिवस 2022: सेलिब्रेशन

गणतंत्र दिवस 2022: सेलिब्रेशन

देश में गणतंत्र दिवस का दिन बेहद ही खास तरीके से मनाया जाता है। इस दिन, राष्ट्रपति राजपथ, नई दिल्ली में राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं। जिसके बाद भारत की रक्षा क्षमता, सांस्कृतिक और सामाजिक विरासत को प्रदर्शित करने वाली परेड होती है।

साथ ही, हर साल राष्ट्रपति भारत के नागरिकों को पद्म पुरस्कार वितरित करते हैं, यह भारत रत्न के बाद भारत में दूसरा सबसे बड़ा नागरिक पुरस्कार है।

यूं दें गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं

यूं दें गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं

गणतंत्र दिवस के खास दिन पर हर भारतवासी एक-दूसरे को यह शुभकामनाएं संदेश दे सकता है।

देशभक्तों के बलिदान से स्वतन्त्र हुए हैं हम

कोई पूछे कौन हो तो गर्व से कहेंगे भारतीय हैं हम

दे सलामी इस तिरंगे को,

जिससे तेरी शान है,

सर हमेशा ऊंचा रखना इसका

जब तक तुझ में जान है।

दिल एक है जान एक है हमारी,

हिंदुस्तान हमारा है

यह शान है हमारी...

सारे जहाँ से अच्छा, हिन्दोस्तां हमारा

हम बुलबुलें हैं इसकी, यह गुलिसतां हमारा

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

ये आन तिरंगा है,

ये शान तिरंगा है,

अरमान तिरंगा है,

अभिमान तिरंगा है,

मेरी जान तिरंगा है!!

गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं

English summary

Republic Day 2022: Date, History, Importance And Significance in Hindi

Republic Day 2022: Read on to know about republic day date, history, wishes, quotes and significance in Hindi
Story first published: Saturday, January 22, 2022, 9:30 [IST]