For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

'किराए की कोख' पर सरकार ने लगाई रोक, पास हुआ नया विधेयक, जाने क्‍या कहता है नया कानून

|

कर्मशियल सरोगेसी (किराए की कोख) से जुड़ा एक बिल लोकसभा में पास कर द‍िया गया है। जिसके तहत कमर्शियल सरोगेसी (Commercial Surrogacy) पर बैन लगा दिया है। इस विधेयक को पास करवाते हुए स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि पूरे भारत में 2 से 3 हज़ार गैर-कानूनी सरोगेसी सेंटर चल रहे हैं। इन सेंटर्स में हज़ारों विदेशी कपल बच्‍चे की चाह में भारत आते हैं और सरोगेसी करवाते हैं और ये पूरी प्रक्रिया अनियमित है। कमर्शियल सरोगेसी लगभग सभी देशों में बैन हो चुकी है और अब भारत का नाम भी इस सूची में दर्ज हो गया है। न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, जापान, ब्रिटेन, जापान, फिलीपीन, स्पेन, स्विट्जरलैंड और जर्मनी समेत अनेक देशों में व्यावसायिक सरोगेसी अवैध है।

अभी कर्मशियल सरोगेसी सिर्फ यूक्रेन, रूस और अमेरिका के कैलीफोर्निया में ही फिलहाल वैध है। इस बिल के त‍हत कमर्शियल सरोगेसी करने वाले लैब्स, क्लीनिक या फिर विज्ञापन देने वालों पर 10 साल की जेल और 10 लाख का जुर्माना हो सकता है।

बिल में बताया गया कि सरोगेसी सिर्फ वही शादीशुदा जोड़े करा सकते हैं जिनकी शादी साल 2015 के बाद हुई है। इतना ही नहीं जोड़ों की उम्र 23 से 55 साल के बीच होनी चाहिए।

 सरोगेसी क्‍या है?

सरोगेसी क्‍या है?

सरोगेसी यानी किराए की कोख, मेडिकल कारणों के अलावा कपल इसमें बच्चे पैदा करने के लिए किसी महिला की कोख किराए पर लेते हैं। किराए की कोख देने वाली महिलाओं को सरोगेट मदर कहा जाता है। आईवीएफ टेक्नोलॉजी के जरिए पति के स्पर्म और पत्नी के एग्स से बना एंब्रियो तीसरी महिला की कोख में इंजेक्ट किया जाता है। इससे जो बच्चा जन्म लेता है उसका डीएनए, सरोगेसी कराने वाले कपल का ही होता है।

अब कौन नहीं ले सकेगा सरोगेसी का सहारा

अब कौन नहीं ले सकेगा सरोगेसी का सहारा

सिंगल पैरेंट, लिव-इन कपल्स, होमोसेक्शुअल कपल्स और अनमैरिड कपल्स। बिल के मुताबिक, ऐसे मामलों के लिए नेशनल सरोगेसी बोर्ड और स्टेट सरोगेसी बोर्ड बनाए जाएंगे। इन्हीं के जरिए सरोगेसी को रेगुलेट किया जाएगा। जिन कपल्स को पहले से ही बच्चे हैं, वे सेरोगेसी नहीं करा सकते। हालांकि, उन्हें एक अलग कानून के तहत बच्चा गोद लेने का अधिकार है।

 फैशन बनता जा रहा है सरोगेसी

फैशन बनता जा रहा है सरोगेसी

सरोगेसी यानी किराए की कोख, पिछले एक दशक में ये टर्म बहुत फेमस हो गया है। इसका फेमस होने का मुख्‍य वजह 'फैशन सरोगेसी' यानी सेल‍िब्रेटियों का सरोगेसी के जरिए मां-बाप बनने के अलावा भारत का 'सरोगेसी हब' बनना भी था। पिछले कुछ समय से सरोगेसी आम लोगों के अलावा बॉलीवुड सितारों के बीच भी काफी ट्रेंड में हैं। हाल ही में बॉलीवुड एक्ट्रेस लीजा रे की दो बेटियां सरोगेसी से हुईं। इससे पहले शाहरुख खान, आमिर खान, करण जौहर, तुषार कपूर, सोलेह खान, सनी लियोन और फरहा खान ने भी सरोगेसी कराई है।

English summary

Commercial surrogacy banned in India; government passes tough laws

ndia now joins a lot of countries on the global map who have banned surrogacy.
Story first published: Wednesday, August 7, 2019, 17:51 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more