For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

प्रेगनेंसी में नल का पानी पीने से कम हो सकता है शिशु का आईक्‍यू, रिसर्च में आया सामने

|

प्रेग्नेंसी के दौरान फ्लोराइड वाला पानी पीने का असर बच्चों के आईक्यू पर पड़ता है, यह बात कनाडा में हुई एक रिसर्च में सामने आई है। रिसर्च में यह सामने आया कि जिन महिलाओं ने प्रेग्नेंसी के दौरान फ्लोराइडयुक्त पानी पिया था उनके बच्चों का आईक्यू स्कोर उन बच्चों से कम निकला जिनकी माएं बिना फ्लोराइड वाले शहरों में रहती थीं। हालांकि इस र‍िसर्च से जुड़े विशेषज्ञों का कहना है कि यह स्टडी चिंता जरूर पैदा करती है लेकिन इसमें घबराने वाली बात नहीं है।

 Study Links Fluoridated Water During Pregnancy to Lower IQs

बता दें कि बॉटल के पानी से ज्यादा नल के पानी में फ्लोराइड का खतरा रहता है। बच्चों के पैदा होने के बाद फ्लोराइड का इतना खतरा नहीं रहता बल्कि प्रेग्नेंसी के दौरान। दरअसल भ्रूण वातारण में मौजूद हानिकारक तत्वों के प्रति ज्यादा सेंसिटिव होता है। इस लिहाज से प्रेग्नेंट महिलाओं को पानी का खास ध्यान रखना चाहिए।

हालांकि फ्लोराइड दांतों को कैविटीज से बचाता है और कई टूथपेस्ट भी फ्लोराइड वाले होते हैं। प्राकृतिक रूप से फ्लोराइड सामान्य पानी और समुद्र के पानी, पेड़ की पत्तियों में कुछ मात्रा में पाया जाता है।

English summary

Study Links Fluoridated Water During Pregnancy to Lower IQs

The findings could undermine public-health messaging, fuel conspiracy theorists, and give pregnant women something else to worry about.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more