For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

गर्भवती हैं तो ज़रा संभलकर खेलें होली, वरना पड़ेगा पछताना

|

होली आते ही मन में एक अजीब सी उमंग की लहर दौड़ जाती है। कई दिन पहले से ही हम रंगों के साथ खेलने की तैयारी शुरू कर देते हैं। रंगों के साथ खेलने में जितना मजा आता है, आपको उतनी ही अपनी केयर भी करनी पड़ती है। खासतौर से, अगर आप गर्भवती हैं और होली सेलिब्रेशन के दौरान किसी भी तरह लापरवाही बरतती हैं तो इससे आपके स्वास्थ्य पर तो विपरीत असर पड़ता है ही, साथ ही आपके गर्भस्थ शिशु को भी आपकी लापरवाही की कीमत चुकानी पड़ती है। अमूमन गर्भवती महिलाओं के मन में होली सेलिब्रेशन को लेकर कई तरह की शंकाएं होती हैं। कुछ महिलाएं तो मन मारकर होली को सेलिब्रेट ही नहीं करतीं। हालांकि आपको ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है। अगर आप कुछ सेफ्टी टिप्स का ध्यान रखती हैं तो बेहद आसानी से होली का मजा सुरक्षित तरीके से उठा सकती हैं। तो चलिए आज हम गर्भवती महिलाओं के लिए होली सेलिब्रेशन के दौरान कुछ ऐसे ही सेफ्टी टिप्स के बारे में बता रहे हैं-

हर्बल रंगों से खेलें होली

हर्बल रंगों से खेलें होली

वैसे तो हानिकारक केमिकल कलर का इस्तेमाल होली सेलिब्रेशन के दौरान किसी को भी नहीं करना चाहिए, लेकिन गर्भवती महिलाओं को इनसे विशेष रूप से दूर रहना चाहिए। दरअसल, इनमें कुछ तत्व जैसे कॉपर सल्फेट, लेड ऑक्साइड और पारा आदि होते हैं। ये रसायन आपकी त्वचा, श्वसन और तंत्रिका तंत्र को नुकसान पहुंचा सकते हैं और रक्त प्रवाह के माध्यम से भ्रूण को प्रभावित कर सकते हैं। इसलिए नेचुरल व हर्बल कलर्स से ही होली खेलें। अगर संभव हो तो आप घर पर ही फल, फूल या सब्जी आदि की मदद से कलर्स बनाएं और होली को एन्जॉय करें।

डीप फ्राईड फूड को कहें नो

डीप फ्राईड फूड को कहें नो

फेस्टिवल का टाइम हो और खानपान ना गड़बड़ाए, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। आमतौर पर होली के समय में लोग कई तरह के मसालेदार स्नैक्स, चाट, गुजिया, घी की मिठाइयाँ, कैफीन वाले पेय पदार्थ आदि बनाते हैं, लेकिन गर्भवती महिला को इनका सेवन करने से बचना चाहिए। इसके अलावा होली पर लोग भांग भी पीते हैं, जो आपके लिए बिल्कुल सही नहीं है। इस तरह तले हुए व हैवी फूड से आपका पेट खराब हो सकता है और आपको अपच की समस्या हो सकती हैं। इतना ही नहीं, हैवी फूड के कारण एक गर्भवती स्त्री की तबियत अधिक खराब हो सकती है।

अधिक भीड़ व पानी के गुब्बारों से बचें

अधिक भीड़ व पानी के गुब्बारों से बचें

अगर आप गर्भवती हैं तो आपको इस सेफ्टी टिप्स का खासतौर पर ख्याल रखना चाहिए। बहुत अधिक भीड़ में होली सेलिब्रेशन से आपको घुटन की समस्या हो सकती हैं। इसके अलावा गर्भवती स्त्री का इम्युन सिस्टम भी कमजोर होता है तो ऐसे में अधिक भीड़ में जाने से कोरोना वायरस व अन्य संक्रमण होने का खतरा अधिक रहेगा। वहीं आप पानी से भी होली ना खेलें। सबसे पहले तो इससे आप फिसल सकती हैं, जो आपके भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अलावा, पानी का गुब्बारा अगर तेजी से आपको लगेगा तो इससे गर्भपात तक होने का खतरा रहता है।

खुद को करें प्रोटेक्ट

खुद को करें प्रोटेक्ट

जब आपने होली खेलने का मन बना लिया है तो ऐसे में खुद को प्रोटेक्ट अवश्य करें। इसके लिए आप अपने फेस व स्किन पर तेल का एक पतला कोट अप्लाई करें, यह सुनिश्चित करता है कि रंग त्वचा द्वारा अवशोषित नहीं होते हैं। इसके अलावा, अपनी आंखों को रंगीन पानी और पाउडर से बचाने के लिए धूप या धूप के चश्मे में साफ चश्मे का इस्तेमाल करें। साथ ही चेहरे पर मास्क या रूमाल अवश्य बांधें। यह कोरोना संक्रमण से बचाव के अलावा मुंह और श्वसन पथ के माध्यम से प्रवेश करने के लिए रासायनिक रंगों को भी रोकने में मदद करता है।

अन्य छोटी-छोटी बातें

अन्य छोटी-छोटी बातें

अगर आप गर्भवती हैं तो आपको अन्य भी कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे-

• होली सेलिब्रेशन के दौरान नाचने या बहुत अधिक उछलने-कूदने से बचें। इससे आपको समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

• देश में भले ही कोरोना वैक्सीन आ गई है, लेकिन कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। इसलिए स्वयं को और अपने गर्भस्थ शिशु को कोरोना से बचाने के लिए होली मिलन समारोह या होली पार्टी में जाने से बचें।

• होली केवल परिवार के सदस्यों के साथ ही खेलें। इससे आप सुरक्षित तरीके से होली का आनंद ले पाएंगी।

• पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं और खुद को हाइड्रेट रखें।

• बहुत अधिक टाइट कपड़े पहनने से बचें। आपके कपड़े ऐसे होने चाहिए, जिसमें आप खुद को अधिक कंफर्टेबल महसूस कर पाएं। साथ ही ऐसे कपड़े चुनें, जो आपके शरीर के अधिक से अधिक एरिया को कवर करें।

English summary

Safety Tips for Celebrating Holi during Pregnancy in Hindi

Here are the safety tips for celebrating holi during pregnancy in hindi. Read on.