For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

अपने पार्टनर के पेरेंट्स संग रिश्ता करना है मजबूत तो फॉलो करें ये टिप्स, होगी पक्की वाली दोस्ती

|

शादी से बाद अपने पार्टनर के पेरेंट्स से बॉन्डिग लड़की के लिए एक टफ गेम हो जाता है, क्योंकि ना वो आपको सही तरीके से जानते हैं और ना ही आप उनको। हालांकि ये इंडियन हाउसहोल्ड के साथ ही दुनिया के हर वो लड़की जो अपने ससुराल जाती है और वहां पर उसके इन-लॉज होते हैं, जिन्हें उसको हर कदम पर इप्रेंस करना होता है। लेकिन ये भी सच है कि आप अपने पार्टनर के पेरेंट्स को पूरी तरह से प्रभावित करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं। फिर भी आप अपनी तरफ से उनको अच्छा फील करवाने के लिए कुछ कदम उठा सकते हैं। अपने पार्टनर के माता-पिता के साथ एक मजबूत संबंध बनाने के लिए समय के साथ उनको किस तरह से अपने होने का अहसास दिला सकते हैं..ये भी जरूरी है। अगर आपके साथी की मां उनकी दुनिया का केंद्र है, तो अपने पार्टनर के साथ ही उसकी मां के साथ बंधने के तरीकों पर ध्यान देना सबसे अच्छा हो सकता है और अगर आपका पार्टनर का रिश्ता उसके पिता के लिए ज्यादा मजबूत है तो उनके साथ बंधने का प्रयास करें। और, वही वो दोनों दोनों के साथ ही अविश्वसनीय रूप से करीब है, तो आपके लिए अपने इन लॉज से रिश्ते बांधना वास्तव में फायदेमंद हो सकता है।

अपना अच्छा प्रभाव उन पर बनाएं

अपना अच्छा प्रभाव उन पर बनाएं

ऐसा कहा जाता है कि फर्स्ट इंप्रेशन इस द लास्ट इंप्रेशन होता है, लेकिन इस पर बहुत अधिक काम न करें, एक अच्छा पहला प्रभाव स्थापित करना सरल है। उनके साथ बातचीत में शामिल हों और उन्हें बेहतर तरीके से जानने के लिए उनसे अपने पार्टनर से संबधित और उनकी लाइफ से जुड़े आप सवाल पूछ सकती हैं। लेकिन क्या होगा अगर उसके आपके इन-लॉज जवाब ही ना दें और दूर रहें ? ठीक है, माता-पिता के साथ कभी-कभी जुड़ना मुश्किल हो सकता है, लेकिन उन्हें आप वक्त दे , आपके साथ जुड़ने में कुछ समय लग सकता है। एक दोस्ताना व्यवहार बनाए रखें; जब उन्हें एहसास होगा कि आप वास्तव में उनके बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो वो जरुर आपसे घुलना पंसद करेंगे।

शादी से पहले ही इन-लॉज़ की पसंद-नापंसद पार्टनर से पूछे

शादी से पहले ही इन-लॉज़ की पसंद-नापंसद पार्टनर से पूछे

आप शादी से पहले ही अपने पार्टनर से उनके परिवार, उनकी पसंद-नापसंद और उनकी आदतों और शौक के बारे में बात करें। ये आपको उन विषयों की एक लिस्ट देता है जिनके बारे में आप बात कर सकते हैं। इससे आपको उन चीजों का पता लगाने में भी मदद मिलेगी जो आपके पेरेंट्स के साथ समान हैं और आप इसे बातचीत में जल्दी ला सकते हैं ताकि वे भी आपसे बात करने के लिए राहत महसूस करें।

उसके साथ कुछ क्वालिटी टाइम बिताएं

उसके साथ कुछ क्वालिटी टाइम बिताएं

अपने साथी की मां के साथ क्वालिटी टाइम बिताना कुछ ऐसा नहीं हो सकता है जिसे आप पहली बार मिलने के तुरंत बाद करना चाहते हैं। लेकिन समय के साथ, जैसे-जैसे आप और आपका पार्टनर और अधिक गंभीर होते जाते हैं, हो सकता है कि आप अपने पार्टर को शामिल न करते हुए केवल उनकी मां के साथ समय बिताना अच्छा लगे। यह पता लगाएं कि आपके साथी की मां को किस चीज में दिलचस्पी है और देखें कि क्या आप उससे जुड़ सकते हैं। अपने साथी की मां के साथ अकेले समय बिताने का टार्गेट रखें ताकि आप उसके साथ अपना रिश्ता बना सकें।

मां की तरह ही अपनी सास को भी सम्मान दें

मां की तरह ही अपनी सास को भी सम्मान दें

आपको अपने पार्टनर की मां के साथ वैसा ही व्यवहार करना चाहिए जैसा आप अपनी मां के साथ करते हैं। मां आपके जीवन का हिस्सा बनना चाहती हैं और उम्मीद करती हैं कि आप उनके साथ पूरी तरह से ओपन हो। ये उनके पहले के संबंधों के बारे में उससे बात करने में सक्षम होने के लिए जरूरी हो सकता है। आप उनकी यंग लाइफ से जुड़ी बातों को पूछें..क्योंकि कोई भी इंसान अपनी पुरानी यादों को किसी ना किसी के साथ शेयर करने के लिए तैयार रहता है और अगर वो आप हो तो क्यों नहीं, वो जरूर आपसे अपनी अच्छी यादों को शेयर कगेंगी, इससे आप दोनों में एक बॉड बनने में आसानी होगी।

ईमानदार और वास्तविक बनें रहें

ईमानदार और वास्तविक बनें रहें

कोई भी "संपूर्ण" नहीं है, इसलिए बनने की कोशिश करने के लिए परेशान न हों। ईमानदारी से, अगर उन्हें यह आभास होता है कि आप बहुत कठिन प्रयास कर रहे हैं, तो आपको पसंद करने की संभावना कम हैं। इसलिए आप अपने पार्टनर के सामने जैसे हो वैसे ही स्वाभाविक रहें। वास्तविक बनो, क्योंकि आप कुछ दिन तक अपना कोशिश कर सकते हैं लेकिन आपको उनके साथ ही रहना है तो वास्तविक बनें रहें।

अपने पार्टनर और उनके बेटे की तारीफ करें

अपने पार्टनर और उनके बेटे की तारीफ करें

हर कोई अच्छी तारीफ पसंद करता है।अपने साथी की मां की किसी भी तरह से तारीफ करना, लेकिन विशेष रूप से जिस तरह से उसने अपने बच्चे की परवरिश की, वह उस पर मुस्कुरा देगी। ये आपको उसकी आंखों में कुछ एक्स्ट्रा नंबर भी दे सकता है। अपनी सास की तरीफ करते रहे, उनकी छोटी-छोटी बातों पर भी उनको फील गुड करवाएं, उनके बेटे की भी तारीफ करें। ये आपके लिए अच्छा हो सकता है।

आप उनके साथ काम में योगदान दें, उनकी मदद करें

आप उनके साथ काम में योगदान दें, उनकी मदद करें

अगर वो खाना बना रही है तो उनकी मदद करें। रात के खाने के बाद किचन और टेबल साफ होगी तो आपके पार्टनर की मॉम को अच्छा लगेगा। किसी चीज़ पर काम करना और आपको लगता है कि आप मदद कर सकते हैं तो बस पूछो! यहां तक ​​कि जब आप उसे अपनी मदद की पेशकश करते हैं, तब भी वह आपको मीठे रूप से ठुकरा देती है, वो शायद आपके द्वारा पूछे गए बात को याद रखेगी। "अक्सर, सिर्फ पूछना ही आपको यह जानने के लिए पर्याप्त है कि आप परवाह करते हैं, और वो भरोसा कर सकती है आप पर अगर उसे कभी आपकी जरूरत है, या इससे भी महत्वपूर्ण बात ये है कि आप उनका खयाल रखते हो।

English summary

Tips on how to bond with your partner's parents in Hindi

In order to build a strong relationship with the partner's parents, how can you make them feel your own with time.. This is also important. If your partner's mother is the center of their world, it may be best to focus on ways to bond with your partner as well as with his mother and if your partner's relationship is stronger than that of his father, then it may be best to bond with them. try. And, since he is incredibly close to both of them, it can be really beneficial for you to build relationships with these lodges.
Story first published: Tuesday, August 9, 2022, 12:39 [IST]
Desktop Bottom Promotion