For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

क्या आपके बारे में ऑफिस में चल रही है गॉसिप, परेशान होने के बजाय ऐसे करें हैंडल

|

आप भी इस बात से कहीं ना कहीं सहमत होंगे कि ऑफिस गॉसिप से तनावपूर्ण माहौल बनता है, खासतौर पर उस इंसान के लिए जिसके बारे में बातें हो रही होती हैं। दुख की बात है कि गॉसिप के बारे में लोगों की राय में मतभेद देखने को मिलता है।

कई लोग इस बात से सहमत होंगे कि गॉसिप करने से दूसरों को बहुत बुरा महसूस होता है ल‍ेकिन कुछ एक्सपर्ट्स की मानें तो गॉसिप फायदेमंद भी होती है। इस बात में कोई शक नहीं है कि गॉसिप का जो टारगेट होता है वो इंसान भावनात्‍मक रूप से टूट जाता है और खुद को अकेला महसूस करता है। अगर आप भी कभी ऑफिस गॉसिप के बीच फंस गए हैं तो इन बताए तरीकों से उस स्थिति को संभाल सकते हैं।

आत्‍मविश्‍वास बरकरार रखें

आत्‍मविश्‍वास बरकरार रखें

ज्‍यादातर गॉसिप का टारगेट कमजोर लोगों को बनाया जाता है। ये लोग किसी भी बात या अफवाह के मजे लेने की ताक में रहते हैं। ऐसी स्थिति में आपको आत्‍मविश्‍वास के साथ खड़े रहना चाहिए। अगर आप अंदर से टूट भी रहे हैं तो दूसरों पर ये जाहिर ना होने दें। आपके ऐसा करने पर गॉसिप करने वाले लोगों को पता चल जाएगा कि आप उनमें से नहीं जिनके साथ कुछ गड़बड़ की जाए।

गॉसिप करने वालों से ठीक से बात करें

गॉसिप करने वालों से ठीक से बात करें

जो लोग आपके बारे में गॉसिप करते हैं उनका सामना करने से पहले दो बार सोच लें। कभी-कभी परिस्थिति आपके बर्दाश्‍त से बाहर भी हो सकती है। अगर कोई आपके बारे में गॉसिप कर रहा है तो वो आपके सामने उसे स्‍वीकार नहीं करेगा। आपको ऐसी स्थिति से बहुत धैर्य और समझदारी से निपटना चाहिए।

दिमाग से काम लें

दिमाग से काम लें

अपने चालाक सहकर्मियों से आपको एक कदम आगे रहकर सोचना है। गॉसिप करने वाले लोग बस आपको ठेस पहुंचाना चाहते हैं और आपको उनका यही इरादा नाकाम करना है। उन्‍हें ऐसा‍ दिखाएं कि इस तरह की छोटी-छोटी बातों से आपको फर्क नहीं पड़ता है। जैसे कि अपने सहकर्मी के पास जाएं और उन्‍हें बोले कि आपने भी अपने बारे में उस अफवाह को सुना है लेकिन वो बात काफी मजाकिया है। इससे पता चलेगा कि आपको इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है और इस तरह आप गॉसिप करने वाले लोगों का मुंह बंद कर पाएंगे।

निजी बातें ना बताएं

निजी बातें ना बताएं

एक बार गॉसिप का शिकार बनने के बाद आपको लोगों को दूसरा मौका नहीं देना है। लोग तभी बातें करते हैं जब आप उन्‍हें मौका देते हैं इसलिए अपनी पर्सनल लाइफ के बारे में अपने सहकर्मियों को कुछ ना बताएं। आप नहीं जानते कि कब कौन-सी बात आपके ही खिलाफ इस्‍तेमाल कर ली जाए।

सहकर्मियों के साथ ऑफिस प्रोजेक्‍ट पर बात ना करें

सहकर्मियों के साथ ऑफिस प्रोजेक्‍ट पर बात ना करें

अपने काम के बारे में ऐसे किसी इंसान से बात ना करें जो उसका हिस्‍सा ना हो। अगर आपको कोई काम दिया जा रहा है तो उसे बिना किसी की दखलअंदाजी के पूरा करें। आप लोगों को जितना मौका देंगे वो उतना ही ज्‍यादा आपके काम में अपनी टांग अडाएंगे। अपने काम को अपने या अपनी टीम तक ही रखें।

काम से ध्‍यान ना हटाएं

काम से ध्‍यान ना हटाएं

इस सब गाॅसिप के बावजूद आप ये ना भूलें कि आप ऑफिस काम करने जा रहे हैं और वही आपकी प्राथमिकता है। आपको अपना समय और एनर्जी अपने काम पर खर्च करनी चाहिए। गासिप में पड़ने से आपका नाम और काम दोनों ही खराब होंगे।

English summary

What to Do When You're the Target of Office Gossip

Office gossips do create a stressful environment for employees, particularly those who are a victim of it. Here's how to deal with it.
Story first published: Thursday, July 11, 2019, 9:00 [IST]